Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाज‘तुझ जैसी च**ट्टी से हम मुस्लिम सिर्फ मजे लेते हैं’: दलित महिला से रेप,...

‘तुझ जैसी च**ट्टी से हम मुस्लिम सिर्फ मजे लेते हैं’: दलित महिला से रेप, अबॉर्शन, ब्लैकमेलिंग, तालिब के घर वाले बोले – हिन्दू लड़कियों से अय्याशी हमारा फैशन

आरोपित ने पीड़िता को बेरहमी से मारा-पीटा। जब तालिब की शिकायत लड़की ने उसके घर वालों से की तो वहाँ भी पीड़िता को जातिसूचक शब्द बोले गए।

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले से ‘लव जिहाद’ का मामला सामने आया है। यहाँ तालिब हसन नाम के व्यक्ति पर हिन्दू नाम से एक तलाकशुदा दलित युवती से रेप का आरोप लगा है। सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करने वाली पीड़िता ने तालिब पर अश्लील वीडियो बना कर खुद को ब्लैकमेल करने का भी आरोप लगाया है। कई बार रेप से गर्भवती होने के बाद आरोपित ने पीड़िता का एबॉर्शन भी करवा दिया। तालिब एक मेडिकल कम्पनी में सेल्समैन का काम करता है जिसने लड़की से 2 लाख रुपए भी ऐंठ लिए।। पीड़िता ने इस साजिश में तालिब की बहन, बहनोई, भाई और माँ को भी नामजद किया है। शनिवार (9 मार्च) को पुलिस ने FIR दर्ज कर के आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

यह घटना गाजियाबाद के थानाक्षेत्र क्रॉसिंग रिपब्लिक की है। यहाँ एक सोसाइटी में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करने वाली एक लड़की ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है। शिकायत में पीड़िता ने बताया है कि फरवरी 2020 में वह तालिब से मिली थी जिसने अपना नाम अंकित बताया था। मूल रूप से मुरादाबाद का रहने वाला तालिब नोएडा में दवाओं के सेल्समैन के तौर पर काम करता था। यह दोस्ती 4-5 महीने चली। इस दौरान अंकित बने तालिब ने पीड़िता को प्रपोज भी किया। हालाँकि लड़की ने इसे ठुकरा दिया।

थोड़े समय बाद तालिब ने पीड़िता से शादी का वादा किया। पीड़िता तालिब के झाँसे में आ गई। एक दिन पीड़िता को OYO से बुक किए हुए एक होटल में बुलवाया। यहाँ उसने लड़की को नशीला पदार्थ दे करदुष्कर्म किया। इसी दौरान उसने चुपके से लड़की की अश्लील फोटो और वीडियो बना लीं। इसके बाद तालिब ने यही फोटो और वीडियो दिखा कर पीड़िता से कई बार रेप किया। फरवरी 2021 में पीड़िता प्रेग्नेंट हो गई। शादी में मजबूरी की वजह से देरी की बात कह कर उसने 14 मार्च, 2021 को पीड़िता का एबॉर्शन भी करवा दिया।

इसके बाद पीड़िता आरोपित पर शादी का दबाव बनाने लगी। आरोप है कि एक दिन पीड़िता ऑटो से कहीं जा रही थी। इस दौरान तालिब ने ऑटो से खींच कर उसे मारा। इसी के साथ उसने कहा, “मुझे तो तेरे साथ मजे लेने थे जो मैंने ले लिए। मुझे तुझसे कोई शादी-वादी नहीं करनी है। मैं मुसलमान हूँ और तू हिन्दू है। वैसे भी तू च*री नीच जात की है। तुझ जैसे च*टी से शादी कौन करेगा। कम से कम मैं तो नहीं करूँगा। अब तुझ में मेरा कोई इंट्रेस्ट नहीं बचा। जा के कहीं मर जा। मैं तो अपनी पसंद की मुस्लिम लड़की से शादी करूँगा। तुझ जैसी लड़कियों से हम जैसे मुसलमान सिर्फ मौज मस्ती करते हैं, शादी नहीं।”

इसके बाद आरोपित ने पीड़िता को बेरहमी से मारा-पीटा। जब तालिब की शिकायत लड़की ने उसके घर वालों से की तो वहाँ भी पीड़िता को जातिसूचक शब्द बोले गए। पीड़िता को गालियाँ देते हुए तालिब के परिजनों ने कहा, “च$*री तेरा ये ख्वाब कभी पूरा नहीं होगा। एक गैर-मजहब की लड़की हमारे घर में नहीं आ सकती। तालिब ने तेरे साथ जो भी किया वो हमारे मजहब में बुरा नहीं माना जाता। हिन्दू लड़कियों से अय्याशी करना हमारा फैशन माना जाता है।” इन तमाम घटनाओं के पहले तालिब पीड़िता का 3-4 बार एबॉर्शन करवा चुका था। साथ ही उसने लगभग 2 लाख रुपए भी ब्लैकमेल कर के ऐंठ लिए थे।

पीड़िता ने अपनी शिकायत में तालिब हसन के साथ उसकी माँ नूरजहाँ, उसकी बहनें गुलफ्शा, मुमताज और गुलशन, तालिब के बहनोई दिलशाद और राशिद, भाई अनीश और भाभी सबीना को भी नामजद किया है। इन सभी पर पीड़ता को जातिसूचक गालियाँ देने और प्रताड़ित करने का आरोप है। पुलिस ने सभी आरोपितों पर IPC की धारा 328, 376, 313, 406, 423, 323, 504 और 506 के साथ SC/ST एक्ट में FIR दर्ज कर ली है। ऑपइंडिया के पास FIR कॉपी मौजूद है। तालिब हसन को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस मामले की जाँच कर रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

राहुल पाण्डेय
राहुल पाण्डेयhttp://www.opindia.com
धर्म और राष्ट्र की रक्षा को जीवन की प्राथमिकता मानते हुए पत्रकारिता के पथ पर अग्रसर एक प्रशिक्षु। सैनिक व किसान परिवार से संबंधित।

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

वामपंथी सरकार ने चलवाई गोली, मारे गए 13 कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता: जानें क्यों ममता बनर्जी मना रहीं ‘शहीद दिवस’, TMC ने हाईजैक किया कॉन्ग्रेस का...

कभी शहीद दिवस कार्यक्रम कॉन्ग्रेस मनाती थी, लेकिन ममता बनर्जी ने कॉन्ग्रेस पार्टी से अलग होने के बाद युवा कॉन्ग्रेस के 13 कार्यकर्ताओं की हत्या को अपने नाम के साथ जोड़ लिया और उसका इस्तेमाल कम्युनिष्टों की जड़ काटने में किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -