Sunday, August 1, 2021
Homeदेश-समाजगुजरात पुलिस पर मुस्लिम भीड़ ने किया पथराव, इरफान-फारूक गोमांस लदी कार लेकर फरार:...

गुजरात पुलिस पर मुस्लिम भीड़ ने किया पथराव, इरफान-फारूक गोमांस लदी कार लेकर फरार: 100 के खिलाफ FIR

इरफान और फारूक तलवार व पाइप लिए हुए कई लोगों के साथ थाने आया और पुलिस पर हमला कर दिया। इस हमले में वेजलपुर थाना के दारोगा को मामूली चोटें आईं और पुलिस की गाड़ी को भी नुकसान पहुँचा। दोनों आरोपी हमले के वक्त भीड़ का नेतृत्व कर रहे थे। बाद में आरोपित गोमांस से भरी कार लेकर फरार हो गए।

गुजरात के पंचमहल जिले के कलोल शहर में शनिवार (10 जुलाई 2021) को पुलिस ने गोमांस की तस्करी और पुलिस व दूसरे समुदाय पर पथराव करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की। इस मामले में पुलिस ने 41 हमलावरों और 50-60 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस घटना को सोमवार (12 जुलाई) को होने वाली रथ यात्रा से कुछ दिन पहले अंजाम दिया गया है। शनिवार दोपहर को कलोल क्षेत्र में दो समुदायों के बीच झड़प हो गई। इस दौरान भारी पथराव हुआ, जिसमें कई लोग घायल हो गए। घायल होने वाले लोगों में दो पुलिसकर्मी भी शामिल हैं।

बताया जा रहा है कि बीफ रखने के आरोपित लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की माँग को लेकर हिंदू संगठन थाने पहुँचे थे। तभी, थाने के ठीक बाहर दो गुट आपस में भिड़ गए। ऐसे में भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस पहुँची तो उस पर भी पथराव किया गया। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने आँसू गैस के गोले दागे। इसके बाद से शहर में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।

देशगुजरात की रिपोर्ट के अनुसार, गुरुवार (8 जुलाई 2021) को पुलिस को गोमांस से भरी एक कार मिली थी, जिसे इरफान पावड़ा और फारूक पावड़ा ले जा रहे थे। फारूक पावड़ा के घर पर गायों को मारा गया था। पुलिस को देखकर दोनों कार वहीं छोड़कर भाग गए। मामले की जाँच के लिए पुलिस गोमांस लदी कार को थाने ले आई। इसी दौरान इरफान और फारूक तलवार व पाइप लिए हुए कई लोगों के साथ थाने आया और पुलिस पर हमला कर दिया। इस हमले में वेजलपुर थाना के दारोगा को मामूली चोटें आईं और पुलिस की गाड़ी को भी नुकसान पहुँचा। दोनों आरोपी हमले के वक्त भीड़ का नेतृत्व कर रहे थे। बाद में आरोपित गोमांस से भरी कार लेकर फरार हो गए।

रिपोर्ट्स के अनुसार, शुक्रवार (9 जुलाई 2021) को गोमांस ले जाने की सूचना पुलिस को देने के संदेह में हिंदू समुदाय के एक व्यक्ति पर हमला किया गया था। इस मामले में पुलिस ने एक व्यक्ति को हिरासत में ले लिया था, जिसके बाद गुस्साई भीड़ थाने पहुँची और शनिवार को पुलिस पर हमला कर दिया। बता दें कि अभी तक 41 नामजद और करीब 50-60 अज्ञात लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मानसिक-शारीरिक शोषण से धर्म परिवर्तन और निकाह गैर-कानूनी: हिन्दू युवती के अपहरण-निकाह मामले में इलाहाबाद HC

आरोपित जावेद अंसारी ने उत्तर प्रदेश में 'लव जिहाद' के खिलाफ बने कानून के तहत हो रही कार्रवाई को रोकने के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट का रुख किया था।

गोविंद देव मंदिर: हिंदू घृणा के कारण औरंगजेब ने जिसे आधा ढाह दिया… और उसके ऊपर इस्लामिक गुंबद बना नमाज पढ़ी

भगवान गोविंद देव अर्थात श्रीकृष्ण का यह मंदिर वृंदावन के सबसे पुराने मंदिरों में से एक। मंदिर के विशालकाय दीपक की चमक इसकी शत्रु साबित हुई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,352FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe