Thursday, July 18, 2024
Homeदेश-समाजअहमदाबाद में हिंदू युवक किशन की सरेराह गोली मारकर हत्या: सोशल मीडिया पर शेयर...

अहमदाबाद में हिंदू युवक किशन की सरेराह गोली मारकर हत्या: सोशल मीडिया पर शेयर किया था एक पोस्ट, जिससे कट्टरपंथी मुस्लिम थे नाराज

इस घटना के बाद किशन अपने घर से बाहर नहीं निकलता था, अचानक मंगलवार को ही वो अपनी बाइक से निकला था, लेकिन उसकी हत्या कर दी गई।

गुजरात की राजधानी अहमदाबाद की धंधुका तहसील से दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। यहाँ मंगलवार (25 जनवरी 2022) को किशन भरवाड नाम के हिंदू युवक की हत्या कर दी गई। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, किशन अपने घर जा रहा था। उसी दौरान दो बाइक सवार आरोपितों ने उसे गोली मार दी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। मामले में पुलिस ने केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है, लेकिन ग्रामीण इससे संतुष्ट नहीं हैं।

कहा जा रहा है कि किशन ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट अपलोड की थी, जिसके बाद से कट्टरपंथी इस्लामिस्ट उसके खिलाफ थे। रिपोर्ट के अनुसार, किशन ने जो वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड किया था वो पैगंबर मुहम्मद से संबंधित था। इन मामलों ने जब भी कट्टरपंथी किसी की हत्या करते हैं, या उसका सिर कलम करते हैं तो उसे ईशनिंदा कहकर जस्टिफाई किया जाता है। इस्लामिस्ट इसे सही ठहराते हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, कथित पोस्ट के खिलाफ हाल ही में कुछ लोगों ने आपत्ति जताई थी, जिसके बाद पुलिस ने किशन के खिलाफ एक्शन लिया था। वर्तमान में किशन ने अपना सोशल मीडिया अकाउंट की सेटिंग को प्राइवेट कर रखा है। खास बात यह है कि पुलिस ने अभी तक उस कथित विवादित पोस्ट की जाँच नहीं की है।

इस घटना के बाद किशन अपने घर से बाहर नहीं निकलता था, अचानक मंगलवार को ही वो अपनी बाइक से निकला था, लेकिन उसकी हत्या कर दी गई। पुलिस को आशंका है कि इसी विवादित पोस्ट के कारण हो सकता है कि उसकी हत्या की गई हो।

एक प्रत्यक्षदर्शी ने कहा कि किशन पर गोली चलाने वाले आरोपित उसके पीछे चल रहे थे, जैसे ही वो मोढवाड़ा मोड़ के पास पहुँचे तो किशन पर पहली गोली चलाई गई, हालाँकि, वो बच गया, जिसके बाद उस पर दोबारा हमला किया गया। इसके घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई।

इस वारदात के बाद बवाल होना तय था। परिजनों ने किशन के शव को लेने से इनकार कर दिया। हालाँकि, कई हिंदू संगठनों के मामले में हस्तक्षेप के बाद पुलिस ने मामले की उचित जाँच का आश्वासन दिया और उसके बाद ही परिवार ने किशन के शव को स्वीकार किया।

बुधवार को भारी पुलिस सुरक्षा के बीच किशन का अंतिम संस्कार किया गया। गुजरात पुलिस का एसओजी (स्पेशल ऑपरेशंस ग्रुप) मामले की जाँच करेगा। इस घटना के मामले में कुछ संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -