Monday, July 22, 2024
Homeदेश-समाजहनुमान मंदिर में लाउडस्पीकर लगाने पर कारोबारी को सिराज की धमकी - उतरवा लो,...

हनुमान मंदिर में लाउडस्पीकर लगाने पर कारोबारी को सिराज की धमकी – उतरवा लो, वरना होगा किशन भरवाड़ वाला हाल

गाँव में तुमने हनुमान जी के मंदिर पर एक लाउडस्पीकर लगा रखा है। उस लाउडस्पीकर को जल्द से जल्द उतरवा लो, वरना तुम्हारा वही हाल होगा जो किशन भरवाड़ का हुआ था।"

गुजरात के बोटाद में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। सिराज उर्फ़ ‘सिरो डॉन’ उर्फ़ ‘डॉन हुसैन खलयानी बोटादवाला’ नामक एक स्थानीय गुंडे ने ‘विश्व हिन्दू परिषद (VHP)’ के नेता एवं कारोबारी महेन्द्रभाई लालजीभाई माली उर्फ़ मुन्नाभाई माली को धमकी दी है। उसने धमकाया है कि कारोबारी का वही वही हाल होगा, जो किशन भरवाड़ का हुआ था। ये घटना गुरुवार (5 मई, 2022) की है। बता दें कि बोटाद जिले को अहमदाबाद के दक्षिणी-पश्चिमी और भावनगर के उत्तरी-पश्चिमी हिस्सों को काट कर बया गया था।

इसके दो दिन बाद शनिवार को मुन्नाभाई माली ने बोटाद पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई। बोटाद पुलिस ने इस शिकायत के आधार पर कार्रवाई करते हुए आरोपित को गिरफ्तार करने में भी सफलता पाई है। आरोपित सिरो डाउन का पुराना आपराधिक इतिहास रहा है। कई अन्य अपराधों को लेकर उसके खिलाफ पहले से ही शिकायतें दर्ज होती रही हैं। मुन्नाभाई माली ने ऑपइंडिया से बात करते हुए बताया कि 5 मई, 2022 को वो दोपहर 3 बजे घर से दुकान की तरफ जा रहे थे।

तभी, नागलपर दरवाजा के पास एक मेडिकल स्टोर के नजदीक सामने वाली सड़क से एक बिना नंबर वाली स्विफ्ट कार में सिराज आ धमका। इसके बाद उसने मुन्नाभाई माली को धमकी देते हुए कहा, “गाँव में तुमने हनुमान जी के मंदिर पर एक लाउडस्पीकर लगा रखा है। उस लाउडस्पीकर को जल्द से जल्द उतरवा लो, वरना तुम्हारा वही हाल होगा जो किशन भरवाड़ का हुआ था। आखिर तुम हमारा क्या कर लोगे? अगर मैं तुम्हें कार में खींच लूँ और तुम्हारा अपहरण कर लूँ, तुम कुछ नहीं कर पाओगे।”

गुंडे सिराज ने कारोबारी को धमकी देते हुए आगे कहा, “हमलोग तुम सब पर नजर रख रहे हैं। अपनी हद में रहो, वरना मैं तुम्हारी हत्या कर दूँगा।” इसके बाद उसने सड़क पर ही चिल्लाते हुए कारोबारी मुन्नाभाई माली को फिर से मार डालने की धमकी दी। इसके बाद मुन्नाभाई माली ने रसिकभाई तलशिभाई कंजरिया को फोन किया, जो विहिप के भावनगर खंड के अध्यक्ष हैं। उन्हें पूरी घटना के बारे में बताया। उनकी सलाह पर ही बोटाद पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया गया।

ऑपइंडिया ने भी रसिकभाई तलशिभाई कंजरिया से बात की, जिन्होंने बताया, “पूरे भारत और गुजरात की तरह, बोटाद में भी कई मंदिरों पर हनुमान चालीसा बजाने के लिए माइक और लाउडस्पीकर लगाए गए हैं। मुन्नाभाई 20 वर्षों से विहिप से जुड़े हुए हैं। वो जब अपनी फूलों की दुकान की तरफ जा रहे थे, तब उन्हें सिराज ने अपहरण और हत्या की धमकी दी। इस क्षेत्र में सांप्रदायिक भाईचारा नए रखने के लिए सिराज जैसे असामाजिक तत्वों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए।”

याद दिलाते चलें कि किशन भरवाड़ की हत्या 25 जनवरी 2022 को कर दी गई थी। 2 बाइक सवारों ने इस हत्याकांड को अंजाम दिया। हत्या की वजह सोशल मीडिया पर मोहम्मद पैगम्बर को ले कर डाली गई एक पोस्ट थी जिसे हत्यारोपितों ने ईशनिंदा माना था। ये मामला संसद में भी गूँजा था। ATS ने पाया था कि मौलाना शब्बीर ने किशन की हत्या करने वाले आरोपितों को 11 लोगों की हत्या करने का ठेका दिया था। मौलाना अय्यूब को अहमदाबाद के जमालपुर से आरोपितों को हथियार उपलब्ध करवाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Lincoln Sokhadia
Lincoln Sokhadia
Young and enthusiastic journalist, having modern vision though bound with roots. Shares deep interests in subjects like Politics, history, literature, spititual science etc.

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हज पर मुस्लिम मर्द दबाते हैं बच्चियों-औरतों के स्तन, पीछे से सटाते हैं लिंग, घुसाते हैं उँगली… और कहते हैं अल्हम्दुलिल्लाह: जिन-जिन ने झेला,...

कुछ महिलाओं की मानें तो उन्हें यकीन नहीं हुआ इतनी 'पाक' जगह पर लोग ऐसी हरकत कर रहे हैं और ऐसा करके किसी को कोई पछतावा भी नहीं था।

बाइडेन बाहर, कमला हैरिस पर संकट: अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में ओबामा ने चली चाल, समर्थन पर कहा – भविष्य में क्या होगा, कोई नहीं...

अमेरिका में होने वाले राष्ट्रपति चुनावों की दौड़ से बाइडेन ने अपना नाम पीछे लिया तो बराक ओबामा ने उनकी तारीफ की और कमला हैरिस का समर्थन करने से बचते दिखे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -