Thursday, July 18, 2024
Homeदेश-समाजहिमाचल में दुकान गई, यूपी में गिरफ्तार हुआ… जावेद को भारी पड़ा पशु हत्या...

हिमाचल में दुकान गई, यूपी में गिरफ्तार हुआ… जावेद को भारी पड़ा पशु हत्या की वीभत्स तस्वीर WhatsApp पर पोस्ट करना, बकरीद पर हिन्दुओं को धमका रहा था

उसके खिलाफ उचित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर के कार्रवाई की जानकारी दी गई है। जावेद का वीडियो भी सामने आया है, जिसमें वो थाने के पुरुष बंदी गृह में दिख रहा है।

उत्तर प्रदेश की शामली जिले की पुलिस ने पशु हत्या की तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट करने वाले जावेद को गिरफ्तार कर लिया है। इस्लामी कट्टरपंथी जावेद ने बकरीद के दौरान हिन्दुओं की भावनाओं को ठेस पहुँचाने वाली फोटो डाली थी, जिसके बाद हिमाचल प्रदेश स्थित उसके दुकान में घुस कर आक्रोशित लोगों ने विरोध किया था। DSP श्रेष्ठा ठाकुर ने बताया कि कुर्बानी की तस्वीर को जावेद ने व्हाट्सएप्प पर स्टेटस लगा कर सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश की है।

उन्होंने बताया कि मामला संज्ञान में आने के साथ ही यूपी पुलिस ने इसकी तलाश शुरू कर दी थी और अंततः इसे गिरफ्तार कर लिया गया है। उसके खिलाफ उचित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर के कार्रवाई की जानकारी दी गई है। जावेद का वीडियो भी सामने आया है, जिसमें वो थाने के पुरुष बंदी गृह में दिख रहा है। हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के नाहन में पहले से ही जावेद के खिलाफ FIR दर्ज है। वो शामली का रहने वाला है लेकिन वहाँ कारोबार करता था।

जलालाबाद के कोटला मोहल्ले के निवासी जावेद के अब्बा का नाम कल्लू कुरैशी है। वो पिछले 12-13 साल से नाहन में कपड़े और कॉस्मेटिक्स की दुकान चलाता है। ईद-उल-अजहा के मौके पर वो जलालाबाद आया था और इस दौरान पशु की कुर्बानी के बाद उसकी रील बना कर उसने Whatsapp पर स्टेटस लगा दिया। इसके बाद वहाँ आक्रोशित भीड़ ने उसकी दुकान में घुस कर सामान फेंक दिया था। शनिवार (22 जून, 2024) की देर रात उसे यूपी में गिरफ्तार किया गया।

शामली के पुलिस अधीक्षक अभिषेक ने बताया कि उक्त तस्वीर गाय की नहीं है, लेकिन ये काफी वीभत्स है। बघरा स्थित योग साधना आश्रम के महंत यशवीर महाराज ने चेताया था कि 24 जून तक जावेद को गिरफ्तार नहीं किया गया तो 25 जून को उसके घर के बाहर हिन्दू महापंचायत होगी और उसकी गिरफ़्तारी तक धरना प्रदर्शन चलेगा। मोहम्मद ज़ुबैर ने जावेद की करतूत को सही ठहराने के साथ-साथ उलटे आक्रोशित हिन्दुओं को ही नीचा दिखाया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -