Saturday, October 16, 2021
Homeदेश-समाजछात्रों-अध्यापकों का व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर अश्लील मैसेज-वीडियो भेजने के आरोप में इंजमामुल और रहमत...

छात्रों-अध्यापकों का व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर अश्लील मैसेज-वीडियो भेजने के आरोप में इंजमामुल और रहमत गिरफ्तार, फिरोज फरार

इंजमामुल हक, रहमत अली और फिरोज गोप ने मिलकर 'मिया खलीफा पॉश' नाम का नया व्हाट्सएप ग्रुप बनाया। इसके बाद उन तीनों ने 14 मई को हाईस्कूल के एक छात्र मोजाबिर से सभी छात्रों और शिक्षकों का नंबर लिया। जिसके बाद इन तीनों आरोपितों ने 15 मई को स्कूल के सभी छात्र-छात्राओं और शिक्षकों को.......

झारखंड में विद्यार्थियों और शिक्षकों का व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर अश्लील मैसेज भेजने के आरोप में शनिवार (मई 16, 2020) को दो आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

जेल भेजे गए दोनों आरोपितो के नाम इंजमामुल हक उर्फ बादशाह खान (20 वर्ष) और रहमत अली (21 वर्ष) है। फिलहाल इनका एक आरोपित साथी फरार है, जिसका नाम फिरोज गोप है। इनके खिलाफ आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया।

दोनों आरोपितों को चाईबासा के राजकीय प्लस 2 उच्च विद्यालय मझगाँव के प्रभारी प्रधानाध्यापक धीरेन्द्र कुमार तिवारी की लिखित शिकायत पर गिरफ्तार किया गया। इन दोनों पर स्कूल के शिक्षक और विद्यार्थियों का नंबर लेकर व्हाट्सएप ग्रुप बनाने और फिर उसमें अश्लील मैसेज एवं वीडियो भेजने का आरोप है।

दरअसल, इन दिनों लॉकडाउन की वजह से हर जगह स्कूल-कॉलेज बंद हैं। जिसकी वजह से आजकल हर जगह ऑनलाइन क्लासेज चल रही हैं और इन्हीं बातों से जुड़ी हर तरह की जानकारी देने के लिए व्हाट्सएप ग्रुप बनाया गया था।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक इंजमामुल हक, रहमत अली और फिरोज गोप ने मिलकर ‘मिया खलीफा पॉश’ नाम का नया व्हाट्सएप ग्रुप बनाया। इसके बाद उन तीनों ने 14 मई को हाईस्कूल के एक छात्र मोजाबिर से सभी छात्रों और शिक्षकों का नंबर लिया।

चूँकि, मोजाबिर हाई स्कूल का छात्र था, तो वह भी एक स्कूल के एक व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ा था, तो उसने सभी का नंबर इन तीनों को दे दिया। जिसके बाद इन तीनों आरोपितों ने 15 मई को स्कूल के सभी छात्र-छात्राओं और शिक्षकों को उस ग्रुप में जोड़ा।

इसके बाद उन तीनों ने ग्रुप में अश्लील मैसेज और वीडियो भेजने शुरू कर दिए। जिस पर कई शिक्षकों ने आपत्ति जताई। प्रभारी प्रधानाध्यापक धीरेन्द्र कुमार तिवारी ने फौरन इसकी सूचना मझगाँव थाने में दी।

जानकारी के मुताबिक इंजमामुल हक ने राजकीयकृत प्लस-2 हाईस्कूल से 2019 में मैट्रिक परीक्षा दी थी। लेकिन फेल हो गया। अब दूसरी बार मैट्रिक परीक्षा देने की तैयारी कर रहा है। इस व्हाट्सएप ग्रुप का एडमिन इंजमामुल हक, रहमत अली और फिरोज गोप है। पुलिस ने फिलहाल दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है, जबकि तीसरे आरोपित की तलाश जारी है। साथ ही मौबाइल को भी जब्त कर लिया गया है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुस्लिम बहुल किशनगंज के सरपंच से बनवाया था आईडी कार्ड, पश्चिमी यूपी के युवक करते थे मदद: Pak आतंकी अशरफ ने किए कई खुलासे

पाकिस्तानी आतंकी ने 2010 में तुर्कमागन गेट में हैंडीक्राफ्ट का काम शुरू किया। 2012 में उसने ज्वेलरी शॉप भी ओपन की थी। 2014 में जादू-टोना करना भी सीखा था।

J&K में बिहार के गोलगप्पा विक्रेता अरविंद साह की आतंकियों ने कर दी हत्या, यूपी के मिस्त्री को भी मार डाला: एक दिन में...

मृतक का नाम अरविंद कुमार साह है। उन्हें गंभीर स्थिति में ही श्रीनगर SMHS ले जाया गया, जहाँ उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। वो बिहार के बाँका जिले के रहने वाले थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,004FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe