Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाज'अब्बू ने अम्मी को कुछ पिलाया, इसके बाद वो उठी ही नहीं': बच्ची के...

‘अब्बू ने अम्मी को कुछ पिलाया, इसके बाद वो उठी ही नहीं’: बच्ची के बयान के बाद पुलिस ने कब्र से निकाला शव, दहेज़ के लिए प्रताड़ित करता था फसीज कुरैशी

समैया के यह बताने के बाद जैनब के मायके वालों ने इस मामले में जैनब के शौहर फसीज कुरैसी समेत 15 लोगों पर दहेज प्रताड़ना और हत्या का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया है।

झारखंड के वासेपुर में एक व्यक्ति पर अपनी पत्नी की शातिराना ढंग से हत्या करने का आरोप लगा है। यहाँ, जैनब खातून नामक की महिला के घर वालों ने उसके शौहर फसीज कुरैशी पर दहेज की लालच में हत्या करने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया है। वहीं, मृतक की बेटी का कहना है कि उसके अब्बू ने अम्मी को कुछ पिलाया था जिसके बाद उसकी मौत हुई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, बिहार के भोजपुर में रहने वाली जैनब खातून के मायके वालों को उसके ससुराल वालों ने फोन कर बताया था कि जैनब की मौत रोड एक्सीडेंट में हो गई है। इसके बाद, मृतक जैनब खातून के मायके वाले झारखंड के वासेपुर से आकर अपनी बेटी का शव धनबाद ले आए और यहाँ लाकर उन्होंने उसकी लाश को कब्रिस्तान में दफना दिया।

इसके बाद, जैनब खातून की 10 साल की बेटी समैया के एक बयान ने पूरी कहानी को पलट कर दिया। समैया ने जैनब खातून के मायके वालों को बताया है कि एक दिन उसके अब्बू यानी फसीज कुरैशी ने उसकी अम्मी (जैनब) को कुछ पिलाया जिसके बाद वह नहीं उठी। समैया ने कहा, “मौत के एक दिन पहले अब्बू ने बोतल में कुछ मिलाकर अम्मी को पिलाया था। इसके बाद वो सो गईं और उठी ही नहीं।”

समैया के यह बताने के बाद जैनब के मायके वालों ने इस मामले में जैनब के शौहर फसीज कुरैसी समेत 15 लोगों पर दहेज प्रताड़ना और हत्या का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया है। जिसके बाद, कोर्ट और एसपी के आदेश पर मामले की जाँच के लिए पाँच सदस्यीय टीम का गठन किया गया है जो इस मामले की जाँच कर रही है। फिलहाल, मृतक जैनब खातून का शव कब्रिस्तान से निकालकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है। फिलहाल, पुलिस पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने का इंतजार कर रही है। यह रिपोर्ट सामने आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

बताया जा रहा है कि धनबाद जिले के वासेपुर में रहने वाले कलीमुल्लाह ने साल 2010 में अपनी बेटी जैनब खातून की शादी बिहार के भोजपुर में रहने वाले फसीज कुरैशी से की थी। मृतक जैनब खातून के घरवालों का आरोप है कि शादी के कुछ समय बाद से ही फसीज कुरैशी उसके घर वाले दहेज के लिए जैनब को परेशान करने लगे। इस बात की जानकारी जब जैनब के भाई को मिली तो उसने अपनी बहन को सुखी देखने के लिए पटना स्थित एक जमीन उसके ससुराल वालों के नाम कर दी।

जैनब के घरवालों ने आरोप लगाया है कि जमीन देने के बाद भी फसीज कुरैशी के घर वालों का लालच खत्म नहीं हुआ था। कुछ दिन बाद ही उन लोगों ने चार लाख रुपए और एक कार की माँग जैनब खातून के घरवालों के सामने रख दी थी। लेकिन, अब तक की गई माँगे पूरी करने वाले जैनब के परिवार वाले यह पूरी नहीं कर सकते थे।

इस दौरान, जैनब को उसके ससुराल वाले लगातार परेशान कर रहे थे। लेकिन, उसके मायके पक्ष वाले बने हुए रिश्ते को तोड़ना नहीं चाहते थे। इसलिए, उन लोगों ने कई बार पंचायत कर जैनब का घर बसाने की कोशिश की। लेकिन, फसीज कुरैशी और उसके घरवाले दहेज की लालच के आगे अंधे हो चुके थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कागज तो दिखाना ही पड़ेगा: अमर, अकबर या एंथनी… भोले के भक्तों को बेचना है खाना, तो जरूरी है कागज दिखाना – FSSAI अब...

सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि कांवड़ रूट में नाम दिखने पर रोक लगाई जा रही है, लेकिन कागज दिखाने पर कोई रोक नहीं है।

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -