Wednesday, June 19, 2024
Homeदेश-समाजकानपुर में चला योगी सरकार का बुलडोजर: जुमा हिंसा के मास्टरमाइंड जफर हयात के...

कानपुर में चला योगी सरकार का बुलडोजर: जुमा हिंसा के मास्टरमाइंड जफर हयात के साथी इश्तियाक की ऊँची इमारत जमींदोज, देखिए Video

कानपुर विकास प्राधिकरण सचिव ने बताया, "केडीए लगातार लैंड माफियाओं के विरुद्ध एक्शन ले रहा है। कार्रवाई लगातार जारी है। भविष्य में ऐसे और भी अवैध निर्माणों और भू माफियाओं के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।"

उत्तर प्रदेश में जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसा मामलों में अब योगी सरकार का बुलडोजर आरोपितों के घर पहुँने लगा है। खबर है कि आज (11 जून 2022) कानपुर हिंसा के मुख्य आरोपित जफर हयात के करीबी दोस्त मोहम्मद इश्तियाक के घर प्रशासन की कार्रवाई हुई। नगर निगम की टीम ने अतिक्रमण विरोधी अभियान के तहत अवैध निर्माण होने के कारण ऊँची इमारत को तोड़ दिया। वहीं प्रयागराज में भी पुलिस ने 5000 लोगों के विरुद्ध एफआईआर की है।

समाचार एजेंसी एएनआई द्वारा कानपुर में हुई बुलडोजर की कार्रवाई की वीडियो शेयर की गई। देख सकते हैं कि कैसे ऊँची इमारत को बुलडोजर से नीचे गिराया गया। कानपुर विकास प्राधिकरण सचिव ने बताया, “केडीए लगातार लैंड माफियाओं के विरुद्ध एक्शन ले रहा है। कार्रवाई लगातार जारी है। भविष्य में ऐसे और भी अवैध निर्माणों और भू माफियाओं के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।”

इस कार्रवाई के दौरान इलाके में भारी सुरक्षाबल तैनात थे। इश्तियाक पर आरोप था कि उसने बिन नक्शे को पास कराए बिल्डिंग खड़ी की और उसके बाद रेसिडेंशियल बिल्डिंग को कमर्शियल के तौर पर इस्तेमाल किया जाने लगा। अब अधिकारियों ने इस कार्रवाई के बाद बताया,

“साल 2021 में इस बिल्डिंग को सील किया गया था और ध्वस्तीकरण के आदेश भी दिए गए थे। लेकिन इसके बाद भी निर्माण कार्य जारी रखा गया। शनिवार को बिल्डिंग गिराई गई। इस दौरान प्राधिकरण के अधिकारी, पुलिस और आरएएफ मौके पर मौजूद थे।”

बता दें कि इससे पहले उत्तर प्रदेश के कानपुर में 3 जून 2022 को जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसा मामले के प्रमुख आरोपित हयात जफर हाशमी (Hayat Zafar Hashmi) को 4 जून को गिरफ्तार किया गया था और इसके बाद उसे 5 जून को कोर्ट में पेश करके न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था। पुलिस ने दंगाइयों की लिस्ट जारी करके उन पर कार्रवाई शुरू की थी। पुलिस को पता चला था कि उपद्रव का दिन शहर में पीएम मोदी को देख के शुरू हुआ।

कानपुर की तरह बीते शुक्रवार को प्रयागराज में हुए दंगों पर भी योगी सरकार की कार्रवाई शुरू हो गई है। पुलिस ने बताया कि उन्होंने 70 नामजद और 5000 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। एसएसपी के अनुसार 29 अहम धाराओं में गैंगस्टर एक्ट और एनएसए के तहत कार्रवाई होगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पेट्रोल-डीजल के बाद पानी-बस किराए की बारी, कर्नाटक में जनता पर बोझ खटाखट: कॉन्ग्रेस की ‘रेवड़ी’ से खजाना खाली, अब कमाई के लिए विदेशी...

कर्नाटक की कॉन्ग्रेस सरकार की रेवड़ी योजनाएँ राज्य को महँगी पड़ रही हैं। पेट्रोल-डीजल के बाद अब पानी के दाम और बसों के किराए बढ़ाने की योजना है।

पूरी हुई 832 साल की प्रतीक्षा, राष्ट्र को PM मोदी ने समर्पित की नालंदा की विरासत: कहा- आग की लपटें ज्ञान को नहीं मिटा...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिहार के राजगीर में नालंदा विश्वविद्यालय के नए परिसर का उद्धघाटन किया। नया परिसर नालंदा विश्वविद्यालय के प्राचीन खंडहरों के पास है

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -