Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाज'मेरे पति को टार्गेट किया जा रहा, वो जैसे भी हैं मेरे हैं': अब...

‘मेरे पति को टार्गेट किया जा रहा, वो जैसे भी हैं मेरे हैं’: अब दुःखी हुई ‘लप्पू सा सचिन’ कहने वाली सीमा हैदर की पड़ोसन, कहा – कच्छा-बनियान में भी काम करते हैं…

"मेरा पति सीमा हैदर को भगा के नहीं ला रहा। मैं किसी के साथ नहीं जा रही। हम मियाँ-बीवी हैं दोनों। मेरे पति को टॉर्चर किया जा रहा है।"

सीमा हैदर की ‘पड़ोसन’ मिथिलेश भाटी ने सचिन को लप्पू और झींगुर कहा था। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ था। इसके बाद सीमा हैदर के वकील ने भिथिलेश भाटी को नोटिस भेजा है। वहीं, मिथिलेश के पति का भी वीडियो सामने आया। इसको लेकर मीडिया पर तरह-तरह के मीम बन रहे थे। इस पर मिथिलेश का कहना है कि उनके पति को लेकर जो कुछ हो रहा है उससे वह दुःखी है।

दरअसल, सीमा हैदर और सचिन मीणा की पड़ोसन मिथिलेश भाटी के कई वीडियो वायरल हुए थे। इनमें उन्होंने लप्पू सा सचिन, झींगुर सा लड़का, टायर से हवा निकल गई, उसे बोलना नहीं आता समेत तमाम तरह की बातें कहीं थीं। वीडियो वायरल होने के बाद मीडिया ने मिथिलेश भाटी के पति का इंटरव्यू लिया था। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ।

वीडियो में मिथिलेश के पति सुरेश खेत में पेड़ों के नीचे सोते नजर दिए थे। साथ ही उन्होंने बताया था कि वह खेती करते हैं। यही नहीं सुरेश भाटी ने मिथिलेश के बयान का समर्थन करने की जगह कहा था कि उसकी अपनी सोच है। वह क्या कह सकते हैं। यह वीडियो सामने आने के बाद नेटिजेन्स सोशल मीडिया पर मिथिलेश भाटी और उनके पति दोनों को ट्रोल कर रहे थे।

एक यूजर ने लिखा, “मिथिलेश भाटी और गीता भाटी को कोई बता दो, सचिन में कुछ ऐसा है जो पाकिस्तान से एक लड़की चली आई, और तुम्हारे पति तुम्हारे साइड में भी नही खड़े। मैं सचिन को प्रताड़ित करने के पक्ष में नही हूँ।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “लप्पू सा सचिन बोलने वाली चप्पू सी मिथिलेश भाटी के बाबा दादा जैसे टॉम क्रूज पति। देखते जाईए, मसाला ही मसाला है।”

एक यूजर ने लिखा, “यह है वायरल मिथिलेश भाटी और उसके पति का फोटो है जिनका नाम सुरेश भाटी है। अब आप अपनी प्रतिक्रिया दे सकते हैं।”

एक यूजर ने लिखा, “ये हैं लप्पू सा सचिन, झींगुर सा लड़का बोलना वा पे आवे ना बोलने वाली मिथिलेश भाटी के पति। मैंने सुना है मिथिलेशजी ने भी लव मैरिज किया था क्या देखा था ये भी बता देती तो ज्यादा बेहतर होता।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “इतने दिन से सोच रहे थे कि उसका पति पता नही कैसा होगा लेकिन लप्पू सी आंटी का खुद का पति झींगुर सा निकला।”

सोशल मीडिया पर इस तरह की बातें और मीम सामने आने के बाद मिथिलेश भाटी ने कहा है कि उनके पति को लेकर जो कुछ भी कहा जा रहा है वह सही नहीं है। ‘टाइम्स नाउ’ से बात करते हुए मिथिलेश ने कहा है, “जो मेरे पति के साथ किया जा रहा है उसका थोड़ा दुःख है। कुछ लोग उनको टारगेट कर रहे हैं। वो आदमी खेतों में काम करने वाला नॉर्मल है। कच्छा बनियान में भी करेगा। कच्छा कमीज में भी करेगा। शेरवानी, कोट पैंट पहनकर कोई नहीं करता। मेरे हसबैंड पढ़े लिखे नहीं हैं ज्यादा। मेरे से भी कम पढ़े लिखे हैं। लेकिन पूरा सपोर्ट करते हैं।”

वहीं, TV9 से बात करते हुए मिथिलेश ने कहा है, “मैंने तो उसे लप्पू भर कहा है। मेरे पति को तो न जाने क्या-क्या लिखकर वीडियो वायरल किया जा रहा है। मेरा पति जैसा भी है मेरा है। चाहे वह 100 साल का हो या 2 साल का हो। मेरा पति सीमा हैदर को भगा के नहीं ला रहा। मैं किसी के साथ नहीं जा रही। हम मियाँ-बीवी हैं दोनों। मेरे पति को टॉर्चर किया जा रहा है।”

मिथिलेश भाटी के इस बयान के बाद सीमा हैदर का बयान भी सामने आया। सीमा ने सचिन को लेकर कहा था, “मेरा पति मेरे सिर का ताज है। किसी को भी कुछ कहने का अधिकार नहीं है।” यही नहीं, सीमा हैदर के वकील एपी सिंह ने मिथिलेश भाटी को कानूनी नोटिस भेजा था। मीडिया से बातचीत में एपी सिंह ने कहा कि मिथिलेश भाटी को लीगल नोटिस भेजना इसलिए जरूरी था, क्योंकि इससे सचिन के मनोबल पर असर पड़ रहा है। उसकी छवि धूमिल हो रही है। इस वीडियो में वह जिस तरह के शब्दों का इस्तेमाल कर रही है, वह बेहद आपत्तिजनक है। लप्पू और झींगुर कहना बॉडी शेमिंग जैसा है।

मिथिलेश भाटी ने कहा था लप्पू-झींगुर

मिथिलेश भाटी एक वीडियो वायरल हुआ था। इसमें वह कह रहीं थी, “लप्पू सा सचिन है। झींगुर सा लड़का है। क्या है सचिन में? बोलना उसको आवे न, बोल वो पाता नहीं है, इससे प्यार करेगी सीमा? हाथ फिराती रहे बस बैठी-बैठी, ये प्यार है? पाँचवीं पास खुद को बता रही है और फर्राटेदार इंग्लिश बोले है, कम्प्यूटर चला रही है। चार-चार पासपोर्ट लेकर आई है।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -