Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजखुद को हिंदू बता दिल्ली से महिला को लेकर दुमका आ गया कामरान शेख,...

खुद को हिंदू बता दिल्ली से महिला को लेकर दुमका आ गया कामरान शेख, ग्रामीणों को हुआ शक तो खुली पोल: पुलिस के किया हवाले

हाल ही में अरमान अंसारी नामक व्यक्ति ने एक दलित नाबालिग को पहले तो अपनी हवस का शिकार बनाया और उसके बाद उसकी बेरहमी से हत्या कर दी। मृतक बच्ची की उम्र 14 वर्ष बताई जा रही है और उसका उसका शव एक पेड़ पर लटका मिला था। इस घटना से पहले अंकिता नामक एक हिंदू लड़की को शाहरुख ने जिंदा जला दिया था।

झारखंड (Jharkhand) के दुमका में हिंदू लड़कियों पर अत्याचार का सिलसिला समाप्त होने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा मामला रामगढ़ का ठेंगीमोड़ गाँव का है। यहाँ की एक शादीशुदा महिला ने मोहम्मद कामरान शेख नामक युवक पर आरोप लगाया है कि उसने धर्म छुपाकर महिला से दोस्ती की और उसे अपने पति के घर से भगाकर ले आया।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पीड़िता का 8 साल पहले उत्तर प्रदेश (UP) के विजय प्रकाश से शादी हुई थी। विजय दिल्ली में पेंटर का काम करता है और दोनों की 2 बेटियाँ भी हैं। पीड़िता 30 अगस्त 2022 को अपने पति को बिना बताए अपनी दोनों बेटियों को साथ लेकर कामरान के साथ भागकर अपने मायके आ गई थी।

घरवालों ने जब कामरान के बारे में पूछा तो महिला ने बताया कि वह उसका देवर है। हालाँकि, घरवालों को शक हुआ तो दोनों 1 सितंबर को वह अपनी चचेरी बहन के यहाँ चली गई। उधर शंका होने पर लड़की के घरवालों ने कामरान की तस्वीर उसके पति को भेजी तो उसने बताया कि वह मुस्लिम है और दिल्ली में उसी के मुहल्ले में रहता है।

उधर चचेरी बहन के घर जाने के बाद उसके समुदाय के नेता जीतलाल राय ने दोनों को बुलाया। उसने बताया है कि जिसे वह साथ लेकर चल रही है, उसका नाम कामरान है। इसके बाद महिला ने बताया कि कामरान ने उससे धर्म छुपाकर दोस्ती की थी। पति विजय ने दिल्ली पुलिस में अपहरण की शिकायत दर्ज करवाई।

जानकारी के मुताबिक, कामरान 30 वर्षीय महिला का मोबाईल नंबर जुगाड़ कर उसे मिस कॉल दिया। इसके बाद वह मीठी-मीठी बातें कर उससे दोस्ती कर ली। धीरे-धीरे कामरान ने महिला को अपने झाँसे में ले लिया। विजय की गैर-हाजिरी में कामरान उससे मिलने उसके घर भी आता था।

दुमका में पहले भी हुई घटना

आपको बताते चलें कि हाल ही में अरमान अंसारी नामक व्यक्ति ने एक दलित नाबालिग को पहले तो अपनी हवस का शिकार बनाया और उसके बाद उसकी बेरहमी से हत्या कर दी। मृतक बच्ची की उम्र 14 वर्ष बताई जा रही है और उसका उसका शव एक पेड़ पर लटका मिला था। इस घटना से पहले अंकिता नामक एक हिंदू लड़की को शाहरुख ने जिंदा जला दिया था।

इस घटना ने तो पूरे भारत को झकझोर कर दिया था। बताया जा रहा है कि शाहरुख अंकिता को मैसेज करता था, लेकिन अंकिता ने उसे जवाब नहीं दिया। इससे नाराज होकर शाहरुख ने अपने एक दोस्त के साथ मिलकर अंकिता की हत्या का प्लान बनाया। 23 अगस्त 2022 को शाहरुख ने पेट्रोल छिड़क अंकिता को आग लगा दी थी। इलाज के दौरान हिंदू युवती ने 27 अगस्त को दम तोड़ दिया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

वकील चलाता था वेश्यालय, पुलिस ने की कार्रवाई तो पहुँचा हाई कोर्ट: जज ने कहा- इसके कागज चेक करो, लगाया ₹10000 का जुर्माना

मद्रास हाई कोर्ट में एक वकील ने अपने वेश्यालय पर कार्रवाई के खिलाफ याचिका दायर की। कोर्ट ने याचिका खारिज करके ₹10,000 का जुर्माना लगा दिया।

माजिद फ्रीमैन पर आतंक का आरोप: ‘कश्मीर टाइप हिंदू कुत्तों का सफाया’ वाले पोस्ट और लेस्टर में भड़की हिंसा, इस्लामी आतंकी संगठन हमास का...

ब्रिटेन के लेस्टर में हिन्दुओं के विरुद्ध हिंसा भड़काने वाले माजिद फ्रीमैन पर सुरक्षा एजेंसियों ने आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -