Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाजसंकट की घड़ी में मुस्लिम छात्रा को उसके घर छोड़ने गया हिन्दू दोस्त, भीड़...

संकट की घड़ी में मुस्लिम छात्रा को उसके घर छोड़ने गया हिन्दू दोस्त, भीड़ ने कर डाली पिटाई: 2 दोस्तों पर भी किया हमला, कर्नाटक की घटना

इतना ही नहीं, उसके 2 अन्य दोस्तों अभी और यशवंत पर भी भीड़ ने हमला कर दिया। घटना के बारे में सूचना पाकर ये दोनों दोस्त वहाँ पहुँचे थे।

कर्नाटक में 22 साल के एक हिन्दू युवक पर मुस्लिम भीड़ ने हमला कर दिया। उक्त युवक अपनी एक मुस्लिम दोस्त को उसके घर छोड़ने गया था। पीड़ित और मुस्लिम छात्रा एक ही क्लास में पढ़ते थे। शिवमोगा जिले के भद्रावती इलाके में ये घटना हुई है। मुस्लिम छात्रा को उसका हिन्दू दोस्त घर छोड़ने क्यों आया, इससे भड़क कर 5 मुस्लिमों ने उस पर हमला कर दिया। जहाँ लड़की कलंदर नगर में रहती है, वहीं युवक विश्वेसरैया नगर का रहने वाला है।

दोनों एक पैरामेडिकल कॉलेज में साथ पढ़ते हैं। शनिवार (27 मई, 2023) को छात्रा की बहन सड़क दुर्घटना में घायल हो गई थी, ऐसे में उसने अपने दोस्त से उसे घर पहुँचा देने के लिए कहा। जब 20 वर्षीय युवक अपनी दोस्त को घर छोड़ कर वापस लौट रहा था, तभी झंडाकट्टे के निकट मुस्लिम युवकों के एक समूह ने उसे घेर लिया। सबसे पहले पीड़ित से उसका नाम पूछा गया। जैसे ही उसने नाम बताया, उस पर हमला कर दिया गया।

हिन्दू युवक की पिटाई भी की गई। मुस्लिम भीड़ पूछ रही थी कि आखिर वो एक मुस्लिम लड़की के साथ क्यों घूम रहा था? इतना ही नहीं, उसके 2 अन्य दोस्तों अभि और यशवंत पर भी भीड़ ने हमला कर दिया। घटना के बारे में सूचना पाकर ये दोनों दोस्त वहाँ पहुँचे थे। जब स्थानीय लोगों ने इस घटना का विरोध किया तो मुस्लिम भीड़ ने स्थानीय लोगों को भी धमकाया। ओल्ड टाउन पुलिस थाने में इस बाबत FIR दर्ज कर ली गई है।

शिवमोगा के एसपी GK मिथुन ने ‘हिंदुस्तान टाइम्स’ को बताया, “पीड़ित विनय कुमार, अभि और यशवंत को पीटने वाले 4 आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है। एक अन्य आरोपित फरार है, जिसे पकड़ने के लिए तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।” पुलिस ने इस मामले में भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा-506 (किसी की जान को खतरा पहुँचाना), 504 (जानबूझकर अपमानित करना), 147 (दंगे करना), 149 (गैर-कानूनी ढंग से भीड़ जुटाना) और 323 (मारपीट) के तहत मामला दर्ज किया है।

एसपी ने चेताया है कि कानून हाथ में लेने वालों के खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पुलिस नागरिकों के संवैधानिक अधिकारों की रक्षा करेगी। बता दें कि हाल के दिनों में कई ऐसे मामले सामने आए हैं जहाँ किसी मुस्लिम महिला को उसके हिन्दू दोस्त के साथ देख कर मारपीट की गई। पटना में बाइक पर मुस्लिम युवती को हिन्दू युवक के साथ देखने पर मारपीट की गई। मुजफ्फरनगर, मेरठ और अहमदाबाद सहित कई इलाकों से ऐसे घटनाओना और उसके वीडियोज सामने आए।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शुक्र है मीलॉर्ड ने भी माना कि वो इंसान हैं! चाइल्ड पोर्नोग्राफी देखने को मद्रास हाई कोर्ट ने नहीं माना था अपराध, अब बदला...

चाइल्ड पोर्नोग्राफी को अपराध नहीं बताने वाले फैसले को मद्रास हाई कोर्ट के जज एम. नागप्रसन्ना ने वापस लिया और कहा कि जज भी मानव होते हैं।

आरक्षण के खिलाफ बांग्लादेश में धधकी आग में 115 की मौत, प्रदर्शनकारियों को देखते ही गोली मारने के आदेश: वहाँ फँसे भारतीयों को वापस...

बांग्लादेश में उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने के भी आदेश दिए गए हैं। वहाँ हिंसा में अब तक 115 लोगों की जान जा चुकी है और 1500+ घायल हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -