Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाजपश्चिमी UP में दो बुजुर्ग साधुओं की हत्या: अलीगढ़ में ट्यूबवेल पर सोने गए...

पश्चिमी UP में दो बुजुर्ग साधुओं की हत्या: अलीगढ़ में ट्यूबवेल पर सोने गए 70 साल के पुजारी को ईंट-पत्थर से कूचकर मारा गया, पिछले 6 महीने में 8 का मर्डर

पिछले दो वर्षों में यूपी में 20 से अधिक साधुओं की हत्या हो चुकी है। अकेले पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पिछले 6 महीने में 8 साधुओं की हत्या हो चुकी है। लगातार हो रही हत्याओं से साधु समाज में डर का माहौल है। उन्होंने प्रशासन से आरोपितों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने के लिए कहा है।

उत्तर प्रदेश में साधु अब अपराधियों के निशाने पर हैं। अलीगढ़ में एक बार फिर एक साधु की निर्मम तरीके से हत्या कर दी गई है। 70 वर्षीय साधु बुद्धसेन रात में ट्यूबवेल पर सो रहे थे। इसी दौरान आए अज्ञात अपराधियों ने ईंट और पत्थर से कूच-कूचकर उनकी हत्या कर दी। इसके पहले जिले के एक मंदिर के साधु और उसके साथी की हत्या कर दी गई थी।

ग्रामीणों के अनुसार, दोपहर के बाद कुछ लोग खेतों की ओर चारा लेने गए तो बुद्धसेन को घायल अवस्था में पड़े हुए देखा। इसके बाद घटनास्थल पर लोग जुट गए और पुलिस को सूचना दी गई। घायल साधु को इलाज के लिए अकराबाद सीएचसी भेजा गया, जहाँ उनकी मौत हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अलीगढ़ भेज दिया है।

मामला जिले के विजयगढ़ थाना क्षेत्र के लाला का नगला गाँव की है। मृतक के परिजनों का कहना है कि बुद्धसेन ने बहुत पहले ही पारिवारिक जिंदगी छोड़ दी थी। वे पिछले 7 सालों से राहुल गुप्ता की ट्यूबल पर सोने के लिए जाते थे। घटना के दिन भी वे सोने गए थे, लेकिन गाँव के ही कुछ अन्य लोगों ने उनकी लाठी-डंडों और ईंट-पत्थरों से पीट-पीटकर हत्या कर दी।

पुलिस ने तहरीर के आधार पर अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि आरोपितों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। तहरीर के आधार पर IPC की धारा 302 के तहत केस दर्ज किया गया है। सीओ का कहना है कि जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

वहीं, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बरेला इलाके के परोरा गाँव में भी एक साधु की हत्या कर दी गई है। कहा जा रहा है कि साधु कुँवरपाल का शव खेत में मिला है। बता दें कि पिछले कुछ समय से देश भर में मंदिरों में चोरी और साधुओं की हत्या की घटनाओं में वृद्धि हुई है।

इससे पहले यूपी में 13 अगस्त को अलीगढ़ के मंदिर में 75 वर्षीय एक साधु और उसके साथी की हत्या कर दी गई थी। 16 अगस्त को ओरैया के मंदिर में तीन साधुओं की हत्या कर दी गई थी। 19 अगस्त को करनाल मंदिर में 1 पुजारी, 1 साधु व 2 सेवादारों की हत्या कर दी गई। वहीं, 20 अगस्त को प्रयागराज में एक साधु की हत्या कर दी गई थी।

पिछले दो वर्षों में यूपी में 20 से अधिक साधुओं की हत्या हो चुकी है। अकेले पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पिछले 6 महीने में 8 साधुओं की हत्या हो चुकी है। लगातार हो रही हत्याओं से साधु समाज में डर का माहौल है। उन्होंने प्रशासन से आरोपितों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने के लिए कहा है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

10 साल का इस्कॉन, 30 साल का युवक और न्यूयॉर्क में पहली रथयात्रा… जब महाप्रभु जगन्नाथ का प्रसाद ग्रहण कर डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा...

कंपनी ने तब कहा कि ये जमीन बिकने वाली है और करार के तहत अब इसके नए मालिकों के ऊपर है कि वो ये जमीन देते हैं या नहीं। नए मालिक डोनाल्ड ट्रम्प ही थे।

ट्रेनी IAS पूजा खेडकर की ऑडी सीज, ऊटपटांग माँगों के बचाव में रिटायर्ड IAS बाप: रिवॉल्वर लहराने पर FIR के बाद लाइसेंस रद्द करने...

ट्रेनिंग के दौरान ही VIP सुविधाओं के लिए नखरा करने वाली IAS पूजा खेडकर की करस्तानियों का उनके पिता दिलीप खेडकर ने बचाव किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -