Friday, April 16, 2021
Home देश-समाज अधनंगी लाश, पूरे शरीर में खरोंच, न्यू ईयर पार्टी... सहेली के साथ अंतरंग बॉयफ्रेंड?...

अधनंगी लाश, पूरे शरीर में खरोंच, न्यू ईयर पार्टी… सहेली के साथ अंतरंग बॉयफ्रेंड? – मुंबई का रहस्यमयी जाह्नवी मर्डर केस

"मैंने जाह्नवी और श्री को पार्टी में एक कोने में जाकर अंतरंग अवस्था में देखा था। वहीं दीया एक सोफे पर आकर सो गई थी। तभी श्री आकर उसके बगल में बैठ गया। उसके बाद दोनों अंतरंग होने लगे। इससे जाह्नवी नाराज हो गई और..."

मुंबई के खार वेस्ट में नए साल की पार्टी के दौरान जाह्नवी कुकरेजा की हत्या को लेकर नए खौफनाक डिटेल्स सामने आ रहे हैं। अब पुलिस ने जानकारी दी है कि जाह्नवी की लाश अधनंगी अवस्था में मिली थी। साथ ही ‘Vaginal Swabs’ को भी फॉरेंसिक जाँच के लिए भेजा गया है। भगवती इमारत के टैरेस पर हुई उस पार्टी में शामिल लोगों और आरोपितों के यूरिन सैम्पल्स भी लिए गए हैं, ताकि पता लगाया जा सके कि इन सभी ने ड्रग्स का इस्तेमाल तो नहीं किया था।

शनिवार (जनवरी 2, 2021) को खार पुलिस ने दोनों आरोपितों श्री जोगधनकर और उसकी दोस्त दीया पडलकर को बांद्रा मजिस्ट्रेट कोर्ट के समक्ष पेश किया, जहाँ से दोनों को जनवरी 7 तक के लिए पुलिस कस्टडी में भेज दिया गया। ‘Mid Day’ की खबर के अनुसार, रिमांड एप्लीकेशन में पुलिस ने बताया है कि जाह्नवी कुकरेजा के पूरे शरीर में जगह-जगह खरोंचने के निशान थे। मृतका की हत्या और उसके साथ हुए बर्ताव में पार्टी में शामिल अन्य लोगों का हाथ था या नहीं, पुलिस इस बात की जाँच कर रही है।

श्री जोगधनकर और जाह्नवी पिछले 3 वर्षों से रिलेशनशिप में थे और पुलिस अभी तक इसे लव ट्रायंगल का मामला मान कर ही चल रही है। पार्टी में 14 लोग शामिल थे। जाह्नवी इस बात से नाराज़ हो गई कि उसका बॉयफ्रेंड श्री और दीया पार्टी में ज्यादा नजदीक आ रहे थे और उसने उन्हें आपत्तिजनक अवस्था में पकड़ भी लिया था।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि किसी भी महिला की लाश जब इस अवस्था में मिलती है तो वैजाइनल स्वैब्स की फॉरेंसिक जाँच एक ज़रूरी प्रक्रिया है। पुलिस ने कोर्ट को बताया कि काली ड्रेस पहनी हुई जाह्नवी की लाश ग्राउंड फ्लोर पर सीढ़ियों के पास मिली थी। उसकी सैंडल सीढ़ियों पर पड़े हुए थे, बालों का एक क्लच बगल में पड़ा हुआ था और वो खून से लथपथ थी।

जाह्नवी कुकरेजा की खोपड़ी तो दोनों तरफ से फूटी ही हुई थी, साथ ही उसके घुटनों, हाथ, हथेली, पीठ, कुहनी और दोनों पाँवों पर भी खुरचने के निशान थे। ‘Mid Day’ का कहना है कि कुछ डिटेल्स यौन शोषण की तरफ भी इशारा करते हैं, जिन्हे वो फ़िलहाल प्रकाशित नहीं कर रहा है।

पुलिस का कहना है कि इतने निशान आपसी मारपीट या यौन अपराध में से कुछ भी हो सकता है। जहाँ श्री जोगधनकर के हाथों और सिर में चोट था, वहीं दीया की होठों पर चोट के निशान थे। शुरुआती पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सिर के जख्म को मौत की वजह बताया गया है। पुलिस ने पार्टी में शामिल 12 लोगों के बयान दर्ज किए हैं, जिनमें से 4 को महत्वपूर्ण मार्क किया गया है। 22 साल की एक महिला ने अपने बयान में कुछ खुलासे किए हैं।

उसने कहा, “मैंने जाह्नवी और श्री को पार्टी में एक कोने में जाकर अंतरंग अवस्था में देखा था। वहीं दीया एक सोफे पर आकर सो गई थी। वो पूरी तरह नशे के प्रभाव में थी। तभी श्री जोगधनकर आकर उसके बगल में बैठ गया। उसके बाद दोनों अंतरंग होने लगे। इससे जाह्नवी नाराज हो गई और उसने अपना फोन प्रोजेक्टर से डिस्कनेक्ट कर दिया।” एक अन्य 22 वर्षीय महिला ने बताया कि उसने दीया को पार्टी के आयोजक और मेजबान यश आहूजा के बेडरूम में रात के डेढ़ बजे देखा था।

एक 20 वर्षीय युवक ने भी छत पर श्री और जाह्नवी के करीब आने की पुष्टि की है। उसने बताया कि जब वो आहूजा के घर में लिफ्ट से गया तो उसने दीया के होठों से खून बहते देखा और वो उस वक़्त बाथरूम में थी। वहीं एक 23 वर्षीय युवक का कहना है कि दीया को उल्टियाँ करते देख श्री उसे लिफ्ट से आहूजा के घर में लेकर गया, ताकि साफ़-सफाई की जा सके। उसने ये भी बताया कि दीया, श्री जोगधनकर को पसंद करती थी।

उसने बताया कि इसके कुछ देर बाद ही उसने दीया के होठों से खून बहते देखा। एक पुलिस अधिकारी का कहना है कि दूसरे फ्लोर पर ये घटना हुई और वहाँ से पीड़िता को घसीटते हुए ग्राउंड फ्लोर तक ले जाया गया। पुलिस ने बताया कि पार्टी में शामिल युवक-युवतियाँ विरोधाभासी बयान दे रहे हैं। दूसरे फ्लोर पर क्या हुआ था, ये सब शायद आरोपितों को ही पता है और वो शराब के नशे में होने के कारण कुछ याद न रहने की बात कह रहे हैं।

मुख्य आरोपित श्री जोगधनकर तो यहाँ तक कह रहा है कि नशे के कारण उसे ये तक नहीं पता कि पार्टी स्थल से वो सायन हॉस्पिटल इलाज कराने कैसे पहुँच गया। इस घटना के बाद फ़टे कपड़ों में उसे इमारत से बाहर जाते हुए CCTV फुटेज में देखा जा सकता है। श्री के वकील ने कोर्ट में कहा कि आरोपित को फ़िलहाल उचित मेडिकल इलाज की ज़रूरत है, इसीलिए उसे पुलिस कस्टडी में नहीं भेजा जाए।

वहीं दूसरी आरोपित दीया के वकील ने कहा, “मेरी क्लाइंट तो बस मृतक और आरोपित श्री को लड़ाई-झगड़ा करने से रोक रही थी। वो उन्हें शांत कर रही थी। मीडिया में जिस तरह की खबरें चल रही हैं, उससे लगता है कि ये मीडिया ट्रायल और छवि बदनाम करने वाला एक और मामला बन जाएगा। ये सुशांत सिंह राजपूत की मौत जैसा मामला बना दिया जाएगा और दीया शायद दूसरी रिया चक्रवर्ती बन जाए।”

वहीं जाह्नवी कुकरेजा की माँ निधि का कहना है कि उनकी बेटी और दीया 13 सालों से दोस्त थीं और पड़ोसी भी थीं। उन्होंने दीया के इस हत्याकांड में शामिल होने पर अनिश्चितता जताई। उन्होंने बताया कि उनके पति का जन्मदिन मना कर ही जाह्नवी न्यू ईयर पार्टी में दीया के कहने पर गई थी। अब जब पुलिस ने दोनों आरोपितों को कोर्ट के आदेश के बाद कस्टडी में लिया है, मुंबई की न्यू ईयर पार्टी में हुई इस हत्या को लेकर और खुलासे होने की संभावना है।

बता दें कि ये पार्टी 16वीं मंजिल पर चल रही थी। मुंबई में पार्टियों पर नए साल में प्रतिबन्ध होने के बावजूद ये कैसा हो रहा था, इसकी जाँच के लिए अलग से मामला दर्ज किया गया है। सूचना मिलने पर पुलिस तुरंत जाह्नवी को बांद्रा के भाभा हॉस्पिटल लेकर गई, जहाँ उसे मृत घोषित कर दिया गया। रात के 2:00-2:15 के बीच ही उसकी मौत हो चुकी थी। सांताक्रुज की रहने वाली जाह्नवी कुकरेजा खार के 14th रोड स्थित भगवंती हाइट्स इमारत में यश आहूजा द्वारा आयोजित एक पार्टी में हिस्सा ले रही थी। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

द प्रिंट की ‘ज्योति’ में केमिकल लोचा ही नहीं, हिसाब-किताब में भी कमजोर: अल्पज्ञान पर पहले भी करा चुकी हैं फजीहत

रेमेडिसविर पर 'ज्ञान' बघार फजीहत कराने वाली ज्योति मल्होत्रा मिलियन के फेर में भी पड़ चुकी हैं। उनके इस 'ज्ञान' के बचाव में द प्रिंट हास्यास्पद सफाई भी दे चुका है।

सुशांत सिंह राजपूत पर फेक न्यूज के लिए AajTak को ऑन एयर माँगनी पड़ेगी माफी, ₹1 लाख जुर्माना भी: NBSA ने खारिज की समीक्षा...

AajTak से 23 अप्रैल को शाम के 8 बजे बड़े-बड़े अक्षरों में लिख कर और बोल कर Live माफी माँगने को कहा गया है।

‘आरोग्य सेतु’ डाउनलोड करने की शर्त पर उमर खालिद को जमानत, पर जेल से बाहर ​नहीं निकल पाएगा दिल्ली के हिंदू विरोधी दंगों का...

दिल्ली दंगों से जुड़े एक मामले में उमर खालिद को जमानत मिल गई है। लेकिन फिलहाल वह जेल से बाहर नहीं निकल पाएगा। जाने क्यों?

कोरोना से जंग में मुकेश अंबानी ने गुजरात की रिफाइनरी का खोला दरवाजा, फ्री में महाराष्ट्र को दे रहे ऑक्सीजन

मुकेश अंबानी ने अपनी रिफाइनरी की ऑक्सीजन की सप्लाई अस्पतालों को मुफ्त में शुरू की है। महाराष्ट्र को 100 टन ऑक्सीजन की सप्लाई की जाएगी।

‘अब या तो गुस्ताख रहेंगे या हम, क्योंकि ये गर्दन नबी की अजमत के लिए है’: तहरीक फरोग-ए-इस्लाम की लिस्ट, नरसिंहानंद को बताया ‘वहशी’

मौलवियों ने कहा कि 'जेल भरो आंदोलन' के दौरान लाठी-गोलियाँ चलेंगी, लेकिन हिंदुस्तान की जेलें भर जाएंगी, क्योंकि सवाल नबी की अजमत का है।

चीन के लिए बैटिंग या 4200 करोड़ रुपए पर ध्यान: CM ठाकरे क्यों चाहते हैं कोरोना घोषित हो प्राकृतिक आपदा?

COVID19 यदि प्राकृतिक आपदा घोषित हो जाए तो स्टेट डिज़ैस्टर रिलीफ़ फंड में इकट्ठा हुए क़रीब 4200 करोड़ रुपए को खर्च करने का रास्ता खुल जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

बेटी के साथ रेप का बदला? पीड़ित पिता ने एक ही परिवार के 6 लोगों की लाश बिछा दी, 6 महीने के बच्चे को...

मृतकों के परिवार के जिस व्यक्ति पर रेप का आरोप है वह फरार है। पुलिस ने हत्या के आरोपित को हिरासत में ले लिया है।

‘अब या तो गुस्ताख रहेंगे या हम, क्योंकि ये गर्दन नबी की अजमत के लिए है’: तहरीक फरोग-ए-इस्लाम की लिस्ट, नरसिंहानंद को बताया ‘वहशी’

मौलवियों ने कहा कि 'जेल भरो आंदोलन' के दौरान लाठी-गोलियाँ चलेंगी, लेकिन हिंदुस्तान की जेलें भर जाएंगी, क्योंकि सवाल नबी की अजमत का है।

चीन के लिए बैटिंग या 4200 करोड़ रुपए पर ध्यान: CM ठाकरे क्यों चाहते हैं कोरोना घोषित हो प्राकृतिक आपदा?

COVID19 यदि प्राकृतिक आपदा घोषित हो जाए तो स्टेट डिज़ैस्टर रिलीफ़ फंड में इकट्ठा हुए क़रीब 4200 करोड़ रुपए को खर्च करने का रास्ता खुल जाएगा।

छबड़ा में मुस्लिम भीड़ के सामने पुलिस भी थी बेबस: अब चारों ओर तबाही का मंजर, बिजली-पानी भी ठप

हिन्दुओं की दुकानों को निशाना बनाया गया। आँसू गैस के गोले दागे जाने पर हिंसक भीड़ ने पुलिस को ही दौड़ा-दौड़ा कर पीटा।

…स्कर्ट वाली का रेप हो जाता: कंपनी ने Pak कर्मचारी को निकाला, कोर्ट ने कहा – ‘मूर्ख है, बर्खास्त मत करो, रख लो’

इंग्लैंड में एक पाकिस्तानी कर्मचारी ने सहकर्मी के साथ बातचीत में कहा कि अगर यह पाकिस्तान होता तो स्कर्ट वाली लड़कियों का रेप हो जाता।

‘कल के कायर आज के मुस्लिम’: यति नरसिंहानंद को गाली देती भीड़ को हिन्दुओं ने ऐसे दिया जवाब

यमुनानगर में माइक लेकर भड़काऊ बयानबाजी करती भीड़ को पीछे हटना पड़ा। जानिए हिन्दू कार्यकर्ताओं ने कैसे किया प्रतिकार?
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,985FansLike
82,212FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe