Monday, July 22, 2024
Homeदेश-समाज'साल 2036 में भारत करेगा ओलंपिक का आयोजन, तब तक भारत आर्थिक शक्ति होगा':...

‘साल 2036 में भारत करेगा ओलंपिक का आयोजन, तब तक भारत आर्थिक शक्ति होगा’: PM मोदी ने गोवा में 37वें राष्ट्रीय खेलों का किया उद्घाटन

राष्ट्रीय खेलों का 37वाँ संस्करण 26 अक्टूबर से 9 नवंबर तक चलेगा। गोवा के पाँच शहरों मापुसा, मडगांव, पणजी, पोंडा और वास्को में इनका आयोजन हो रहा है। इसके लिए कई स्टेडियमों को अपग्रेड किया गया है। इस दौरान कैंपल इंडोर स्टेडियम में नेटबॉल, कबड्डी और टेबल टेनिस की मैच खेले जाएँगे।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार (26 अक्टूबर 2023) को गोवा में 37वें राष्ट्रीय खेलों का उद्घाटन किया। गोवा के मडगांव में 26 अक्तूबर से 9 नवंबर तक चलने वाले इस खेल महाकुंभ में 10 हजार से अधिक एथलीट भाग लेंगे। उद्घाटन समारोह में गोवा की विंडसर्फर कात्या इडा कोएल्हो ने प्रधानमंत्री को मशाल सौंपी। इस खेल महाकुंभ का पहला स्वर्ण पदक गोवा ने जीतर शानदार शुरुआत भी कर दी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रीय एकता की थीम पर आधारित समारोह में शामिल हुए। इस कार्यक्रम में 600 कलाकारों ने हिस्सा लिया। मडगांव के पंडित जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में आयोजित उद्घाटन कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने कहा कि खेल के क्षेत्र में भारत की सफलता देश की पूरी सफलता से अलग नहीं है। भारत खेल में हर दिन नए कीर्तिमान बना रहा है और सभी क्षेत्रों में आगे बढ़ रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भाजपा सरकार ने खेलो इंडिया से लेकर तमाम अभियानों के जरिये देश में खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने के लिए नया इकोसिस्टम बनाया गया है। उन्होंने कहा कि बीते नौ वर्षों में देश के गाँव-गाँव से टैलेंट की खोज कर उन्हें ओलंपिक पोडियम तक पहुँचाने का रोडमैप बनाया है। इसी का सुखद परिणाम आज पूरा देश देख रहा हैं।

अपने संबोधन से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गोवा के मडगाँव में मौजूद हजारों लोगों का अभिनंदन किया।

पीएम मोदी ने कहा, “मैंने आईओसी को आश्वासन दिया है कि भारत 2030 में युवा ओलंपिक और 2036 में ओलंपिक की मेजबानी करने के लिए तैयार है… 2036 तक भारत प्रमुख आर्थिक शक्तियों में से एक होगा और देश में एक बहुत बड़ा मध्यम वर्ग होगा। भारत का अंतरिक्ष से लेकर खेल तक हर जगह डंका बजेगा… आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर पर खर्च करने को तैयार है भारत और इसी लिए तब तक ओलंपिक भी हमारे लिए आसान हो जाएगा।”

गोवा ने की गोल्ड से शुरुआत

राष्ट्रीय खेलों के 37वें संस्करण की शुरुआत गोवा ने गोल्ड के साथ की है। मेजबान गोवा के बाबू गाओनकर ने मेन्स लेजर रन इवेंट का गोल्ड मेडल जीता। इसी प्रतिस्पर्धा के मिक्स्ड रिले में उन्होंने सीता गोसावी और पूरी टीम के साथ मिलकर सिल्वर मेडर भी जीता। इन खेलों में भारत की स्टार महिला तलवारबाज भवानी देवी ने केरल की एस. सोउमिया को 15-5 से हराकर गोल्ड मेडल जीता।

वहीं, 59 किलोग्राम वेटलिफ्टिंग में पॉपी हजारिका ने असम को गोल्ड मेडल दिलाया। वेटलिफ्टिंग में ही 67 किलोग्राम भार वर्ग में मिजोरम की लालहुंथारा ने गोल्ड मेडल जीता। जिम्नास्टिक में हरियाणा के योगेश्वर सिंह ने गोल्ड मेडल जीता, जबकि ओडिशा की तरफ से प्रणति नायक ने महिलाओं के ऑल राउंड इंडिविजुअल में गोल्ड मेडल जीता।

9 नवंबर तक चलेंगे राष्ट्रीय खेल

राष्ट्रीय खेलों का 37वाँ संस्करण 26 अक्टूबर से 9 नवंबर तक चलेगा। गोवा के पाँच शहरों मापुसा, मडगांव, पणजी, पोंडा और वास्को में इनका आयोजन हो रहा है। इसके लिए कई स्टेडियमों को अपग्रेड किया गया है। इस दौरान कैंपल इंडोर स्टेडियम में नेटबॉल, कबड्डी और टेबल टेनिस की मैच खेले जाएँगे।

वहीं, एथलेटिक्स और रग्बी के मुकाबले बम्बोलिम एथलेटिक्स स्टेडियम में होंगे। राष्ट्रीय खेलों का सीधा प्रसारण आप डीडी स्पोर्ट्स चैनल पर देख सकते हैं। वहीं, ई-स्ट्रीम के जरिए यूट्यूब पर भी इन खेलों का प्रसारण प्रसार भारती कर रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हज पर मुस्लिम मर्द दबाते हैं बच्चियों-औरतों के स्तन, पीछे से सटाते हैं लिंग, घुसाते हैं उँगली… और कहते हैं अल्हम्दुलिल्लाह: जिन-जिन ने झेला,...

कुछ महिलाओं की मानें तो उन्हें यकीन नहीं हुआ इतनी 'पाक' जगह पर लोग ऐसी हरकत कर रहे हैं और ऐसा करके किसी को कोई पछतावा भी नहीं था।

बाइडेन बाहर, कमला हैरिस पर संकट: अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में ओबामा ने चली चाल, समर्थन पर कहा – भविष्य में क्या होगा, कोई नहीं...

अमेरिका में होने वाले राष्ट्रपति चुनावों की दौड़ से बाइडेन ने अपना नाम पीछे लिया तो बराक ओबामा ने उनकी तारीफ की और कमला हैरिस का समर्थन करने से बचते दिखे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -