Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजयूक्रेन की नाबालिग लड़की से पाकिस्तानी टूरिस्ट ने किया रेप: बच्ची की माँ के...

यूक्रेन की नाबालिग लड़की से पाकिस्तानी टूरिस्ट ने किया रेप: बच्ची की माँ के साथ रहता है लिव-इन में, गिरफ्तार

यूक्रेन निवासी पीड़िता के पिता द्वारा कोतवाली में दर्ज कराए गए मुकदमे के अनुसार 31 अगस्त को रात करीब 8:30 बजे पाकिस्तानी युवक लड़की के यहाँ आया और नाबालिग को अकेला पाकर उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया।

मथुरा में विदेशी नाबालिग लड़की का बलात्कार करने के आरोप में कल (सितंबर 2, 2020) यूपी पुलिस ने एक पाकिस्तानी युवक को गिरफ्तार किया है। युवक टूरिस्ट वीजा लेकर भारत आया था और पिछले पाँच साल से लड़की को जानता था। घटना की शिकायत लड़की के घरवालों ने कोतवाली में दी थी।

जानकारी के अनुसार, यूक्रेन निवासी पीड़िता के पिता द्वारा कोतवाली में दर्ज कराए गए मुकदमे के अनुसार 31 अगस्त को रात करीब 8:30 बजे पाकिस्तानी युवक लड़की के यहाँ आया और नाबालिग को अकेला पाकर उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया।

शिकायत में पिता ने बताया कि जब वह 1 सितंबर को लौट कर आए तो उनकी बेटी ने उन्हें अपने साथ हुई घटना के बारे में जानकारी दी। कहा जा रहा है लड़की के पिता धार्मिक समारोह में जा जाकर भजन कीर्तन गाते थे। घटना वाली रात वह अपने गुरू से मिलने गए हुए थे। इसी दौरान आनंद कुमार नामक पाकिस्तानी ने रेप की घटना को अंजाम दिया। रिपोर्ट्स के मुताबिक आरोपित भी संगीत का टीचर है।

लड़की के पिता ने शिकायत में यह भी कहा कि उनकी बेटी के साथ दुष्कर्म करने वाला युवक उनकी पूर्व पत्नी के साथ पिछले काफी समय से लिव इन रिलेशनशिप में रह रहा है। वह मूल रूप से कराची पाकिस्तान का रहने वाला है और वर्तमान में बराहघाट स्थित एक अपार्टमेंट में रह रहा है। बता दें, पिता की तहरीर के बाद पुलिस ने युवक को गिरफ्तार कर लिया है।

नवभारत टाइम्स की खबर के अनुसार, यूक्रेन की इस नाबालिग के माता-पिता इस्कॉन भक्त हैं। माता-पिता के बीच तलाक हो चुका है जिसक बाद से दोनों अलग-अलग रहते हैं। बच्ची अपने पिता के साथ रहती है। युवक भी कई सालों से टूरिस्ट वीजा पर भारत में रुका हुआ है।

मामले में एसपी (सिटी) उदय शंकर सिंह ने बताया, “पाकिस्तान के कराची शहर के नारायण पुरा इलाका निवासी आनन्द नामक युवक पिछले पाँच वर्ष से यूक्रेन निवासी एक किशोरी को संगीत की शिक्षा दे रहा था। वह यहाँ टूरिस्ट वीजा पर आया हुआ है। किशोरी के माता-पिता भी पिछले दस वर्ष से वृन्दावन में रहकर भजन-कीर्तन करते हैं।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दिल्ली हाईकोर्ट ने शिव मंदिर के ध्वस्तीकरण को ठहराया जायज, बॉम्बे HC ने विशालगढ़ में बुलडोजर पर लगाया ब्रेक: मंदिर की याचिका रद्द, मुस्लिमों...

बॉम्बे हाईकोर्ट ने मकबूल अहमद मुजवर व अन्य की याचिका पर इंस्पेक्टर तक को तलब कर लिया। कहा - एक भी संरचना नहीं गिराई जाए। याचिका में 'शिवभक्तों' पर आरोप।

आरक्षण पर बांग्लादेश में हो रही हत्याएँ, सीख भारत के लिए: परिवार और जाति-विशेष से बाहर निकले रिजर्वेशन का जिन्न

बांग्लादेश में आरक्षण के खिलाफ छात्र सड़कों पर उतर आए हैं। वहाँ सेना को तैनात किया गया है। इससे भारत को सीख लेने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -