Monday, September 21, 2020
Home देश-समाज दिल्ली दंगों के विरोध में हिंदुओं का पीस मार्च, लगे 'आतंकी नहीं पलने देंगे,...

दिल्ली दंगों के विरोध में हिंदुओं का पीस मार्च, लगे ‘आतंकी नहीं पलने देंगे, देश नहीं जलने देंगे’ के नारे

मार्च के दौरान 'आतंकी नहीं पलने देंगे, देश नहीं जलने देंगे', 'वन्दे मातरम' जैसे नारे लगे। सीएए विरोधी प्रदर्शनों के दौरान लगे मजहबी उन्मादी नारों के उलट जिहाद के खिलाफ संदेश देते इन नारों की सोशल मीडिया पर काफी तारीफ हो रही है।

दिल्ली के उत्तर-पूर्वी जिले में हुए हिन्दुओं के नरसंहार के खिलाफ शनिवार (29 फरवरी 2020) को जंतर-मंतर पर शांति मार्च निकाला गया। हजारों की तादाद में हिन्दुओं ने मार्च में हिस्सा लिया। यह विरोध-प्रदर्शन सभी राष्ट्रवादी हिन्दू संगठनों द्वारा संयुक्त रूप से “दिल्ली पीस फोरम” के अंतर्गत किया गया था। रैली के आयोजकों ने बताया कि बड़ी संख्या में राष्ट्रवादियों ने इस रैली को समर्थन दिया।

अंकित शर्मा, विनोद कुमार, रतनलाल सहित दिल्ली दंगों में मुस्लिम भीड़ के शिकार हुए सभी मृतकों को श्रद्धांजलि दी गई। दंगों के दौरान हिन्दुओं के खिलाफ सुनियोजित तरीके से हिंसा को अंजाम दिया गया। उनकी निर्मम तरीके से हत्या की गई और उनके घर, स्कूल, दुकानों, वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया। ट्विटर पर ‘शांति मार्च’ के समर्थन में #DelhiAgainstJehadiViolence का हैशटैग ट्रेंड किया गया।

मार्च के दौरान ‘आतंकी नहीं पलने देंगे, देश नहीं जलने देंगे’, ‘वन्दे मातरम’ जैसे नारे लगे। सीएए विरोधी प्रदर्शनों के दौरान लगे मजहबी उन्मादी नारों के उलट जिहाद के खिलाफ संदेश देते इन नारों की सोशल मीडिया पर काफी तारीफ हो रही है। मार्च के आयोजकों ने बताया कि जो भी क्षेत्र या राज्य इतिहास में इस्लामी क्रूरता के कारण बच गए हैं, उन पर फिर से साजिश के तहत हमले किए जा रहे है। शुरुआत बंगाल से हुई और अब ये मंजर दिल्ली तक पहुँच चुका है।

मार्च में शामिल लोगों ने कहा कि अलीगढ़ की तीन मंदिरों को तहस-नहस कर दिया गया। लेकिन दिल्ली में एक मस्जिद पर झंडा लगाया जाना सबसे बड़ा मुद्दा बन गया। ये पक्षपात क्यों? उन्होंने बताया कि भारत की संस्कृति पिछले कई सालों से खतरे में है। पत्रकारों का एक बड़ा गिरोह हिन्दुओं को शैतान साबित कर भारत की एकता को खंडित करने में लगा हुआ है। उन्होंने आरोप लगाया कि हालिया दिल्ली दंगों में कॉन्ग्रेस और आप द्वारा भड़काए गए गुंडों ने उत्पात मचाया। उन्होंने कहा कि जिस तरह से एक आईबी अधिकारी और कॉन्स्टेबल को मारा गया है, वो सब देख कर उनका ह्रदय रो रहा है।

- विज्ञापन -

मार्च में शामिल लोगों ने इस बात पर चिंता जताई कि जहाँ एक तरफ़ हिन्दू अपने रोजमर्रा के कार्य में व्यस्त रहते हैं, मुस्लिम भीड़ सड़क जाम कर अपनी साजिशों को अंजाम देने में प्रयासरत रहती है। ‘शांति मार्च’ का पूरा जोर इस बात पर था कि इस देश में हिन्दुओं को दोयम दर्जे का नागरिक नहीं बनने दिया जाएगा। पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह के 2012 में दिए गए बयान की भी निंदा की गई, जिसमें उन्होंने कहा था कि देश की संपत्ति पर पहला अधिकार मुसलमानों का है। आक्रोशित लोगों ने पूछा कि सब कुछ मुस्लिमों को मिल जाएगा तो 80% हिन्दुओं का क्या? रैली के आयोजकों ने बताया:

“75 दिनों तक राजधानी को शाहीन बाग से बंधक बनाने की कोशिश की गई। जब उच्चतम न्यायालय ने आपत्ति जताई तो बजाए शाहीन बाग के प्रदर्शन को बंद करने के वो उल्टा जाफराबाद में भी प्रदर्शन की तैयारी करने लगे। किस तरह संवैधानिक रूप से यह जायज है? मजहब के सामने देश को कोई मोल नहीं देते ये लोग। समझने वाली बात है कि अगर मौजूदा माहौल में हिन्दू हिंसक होते तो हिन्दू बहुल इलाके जहाँ मुसलमानों की आबादी 15-20% है, वहाँ के मुसलमान सुरक्षित नहीं रहते। पर दंगों का केंद्र वही इलाके हैं जो मुस्लिम बहुल हैं। स्पष्ट है कि हिंसा के जिम्मेवार कौन लोग हैं।”

मार्च का आयोजन एकदम शांतिपूर्ण रहा। सुरक्षा की भी पूरी व्यवस्था थी। किसी ने भी ऐसा कोई कार्य नहीं किया, जिससे शांति-व्यवस्था पर कोई आँच आए। लोगों ने पुलिस के साथ पूरा सहयोग किया। मार्च में शामिल आम लोगों ने इस ओर मजबूती से ध्यान दिलाया कि इस्लाम को मानने वाले चाहे किसी भी पद पर आसीन हो, विधायक हो, RJ हों, अभिनेता हो या आम आदमी हों- सब एक सुर में अपने मजहब के लोगों का समर्थन करते आए हैं और आगे भी करते रहेंगे। इसलिए, अब हिन्दुओं को भी ऐसे ही एक होने की ज़रूरत है।

तब ब्रिटिश थे, अब कॉन्ग्रेस है: बंगाल विभाजन से दिल्ली दंगों तक यूँ समझें मुसलमानों का किरदार

दिल्ली दंगा ग्राउंड रिपोर्ट: छतों से एसिड बरसा रही थीं मुस्लिम औरतें, गुलेल से दाग रहे थे पेट्रोल बम

वे 20-25,000 के बीच थे, हम केवल 200: जख्मी ACP ने सुनाई उस दिन की आपबीती जब बलिदान हुए थे रतनलाल

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Searched termsDelhiAgainstJehadiViolence, दिल्ली पीस फोरम, दिल्ली पीस मार्च, जंतर मंतर पीस मार्च, हिंदू पीस मार्च अंग्रेज मुसलमान, ब्रिटिश मुसलमान, कांग्रेस मुसलमान, एएमयू, लॉर्ड कर्जन, बंगाल विभाजन, बंगाल में दंगे, भारत में दंगे, हिंदू मुस्लिम दंगे, बंग भंग, अलग मुस्लिम देश की मांग, अब्दुल्ला शुहरावर्दी, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, हिस्ट्री ऑफ फ्रीडम मूवमेंट इन इंडिया, सर सैयद अहमद, पाकिस्तान की मांग, दिल्ली दंगा, दिल्ली दंगा लिबरल गैंग, दिल्ली दंगा लिबरल मीडिया, दिल्ली दंगा हिंदूफोबिया, दिल्ली दंगा प्राइम टाइम, रवीश कुमार प्राइम टाइम, दिल्ली दंगा एनडीटीवी, दिल्ली दंगा सेकुलर मीडिया, दिल्ली दंगा की खबरें, दिल्ली दंगों में कौन शामिल, दंगा और मुसलमान, दिल्ली में मुसलमानों का दंगा, पीएम मोदी, नरेंद्र मोदी, दिल्ली दंगा मोदी, दिल्ली हिंसा मोदी, उत्तर पूर्वी दिल्ली हिंसा मोदी, आईबी कॉन्स्टेबल की हत्या, अंकित शर्मा की हत्या, चांदबाग अंकित शर्मा की हत्या, दिल्ली हिंसा विवेक, विवेक ड्रिल मशीन से छेद, विवेक जीटीबी अस्पताल, विवेक एक्सरे, दिल्ली हिंदू युवक की हत्या, दिल्ली विनोद की हत्या, दिल्ली ब्रहम्पुरी विनोद की हत्या, दिल्ली हिंसा अमित शाह, दिल्ली हिंसा केजरीवाल, दिल्ली हिंसा उपराज्यपाल, अमित शाह हाई लेवल मीटिंग, दिल्ली पुलिस, दिल्ली पुलिस रतनलाल, हेड कांस्टेबल रतनलाल, रतनलाल का परिवार, ट्रंप का भारत दौरा, ट्रंप मोदी, बिल क्लिंटन का भारत दौरा, छत्तीसिंह पुरा नरसंहार, दिल्ली हिंसा, नॉर्थ ईस्ट दिल्ली, दिल्ली पुलिस, करावल नगर, जाफराबाद, मौजपुर, गोकलपुरी, शाहरुख, कांस्टेबल रतनलाल की मौत, दिल्ली में पथराव, दिल्ली में आगजनी, दिल्ली में फायरिंग, भजनपुरा, दिल्ली सीएए हिंसा, शाहीन बाग, शाहीनबाग प्रदर्शन, शाहीन बाग वायरल वीडियो, CAA NRC शाहीन बाग, CAA NRC असम, शाहीन बाग मास्टरमाइंड, cab and nrc hindi, CAA मुसलमान, नागरिकता कानून मुसलमान, नागरिकता कानून हिंसा, भारत विरोधी नारे, मुस्लिम हरामी क्यो होते है, nrc ke bare mein muslim mulkon ki rai, मुसलमान डरे हुए हैं या डरा रहे हैं, हिंसा में शामिल pfi और सीमी मुसलमान, हिन्दुत्व के विरोध का भूत, हमें चाहिए आजादी ये कैसा नारा है, हिंदुओं से चाहिए आजादी, rambhakt gopal, ram bhakt gopal, jamia violence, जामिया हिंसा, राम भक्त गोपाल
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ठुड्डी के बगल में 1.5 इंच छेद, आँख-नाक से खून; हाथ मुड़े: आखिर दिशा सालियान के साथ क्या हुआ था?

दिशा सालियान की मौत को लेकर रोज नए खुलासे हो रहे हैं। अब एंबुलेंस ड्राइवर ने उनके शरीर पर गहरे घाव देखने का दावा किया है।

सिर्फ 194 दिन में बिहार के हर गाँव में फास्ट इंटरनेट, जुड़ेगा ऑप्टिकल फाइबर से, बनेगा देश का पहला ऐसा राज्य

गाँवों में टेली-मेडिसिन के द्वारा जनता को बड़े अस्पतालों के अच्छे डॉक्टरों की सलाह भी मिल सकेगी। छात्र तेज गति इंटरनेट उपलब्ध होने से...

कॉलेज-किताबें सब झूठे, असल में जिहादियों की ‘वंडर वुमन’ बनना चाहती थी कोलकाता की तानिया परवीन

22 साल की तानिया परवीन 70 जिहादी ग्रुप्स का हिस्सा थी। पढ़िए, कैसे बनी वह लश्कर आतंकी। कितने खतरनाक थे उसके इरादे।

सपा-बसपा ने 10 साल में दी जितनी नौकरी, उससे ज्यादा योगी सरकार ने 3 साल में दिए

सपा और बसपा ने अपने 5 साल के कार्यकाल में जितनी नौकरियाँ दी, उससे ज्यादा योगी आदित्यनाथ की सरकार 3 साल में दे चुकी है।

सुदर्शन ‘UPSC जिहाद’ मामला: ऑपइंडिया, इंडिक कलेक्टिव ट्रस्ट और UpWord ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की ‘हस्तक्षेप याचिका’

मजहब विशेष के दोषियों को बचाने के लिए मीडिया का एक बड़ा वर्ग कैसे उनके अपराध को कम कर दिखाता है, इसको लेकर ऑपइंडिया ने एक रिपोर्ट तैयार की है।

बिहार में कुछ अच्छा हो, कोई अच्छा काम करे… और वो मोदी से जुड़ा हो तो ‘चुड़ैल मीडिया’ भला क्यों दिखाए?

सुल्तानगंज-कहलगाँव के 60 km के क्षेत्र को “विक्रमशिला गांगेय डॉलफिन सैंक्चुअरी” घोषित किया जा चुका है। इस काम को और एक कदम आगे ले जा कर...

प्रचलित ख़बरें

‘उसने अपने C**k को जबरन मेरी Vagina में डालने की कोशिश की’: पायल घोष ने अनुराग कश्यप पर लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप

“अगले दिन उसने मुझे फिर से बुलाया। उन्होंने कहा कि वह मुझसे कुछ चर्चा करना चाहते हैं। मैं उसके यहाँ गई। वह व्हिस्की या स्कॉच पी रहा था। बहुत बदबू आ रही थी। हो सकता है कि वह चरस, गाँजा या ड्रग्स हो, मुझे इसके बारे में कुछ भी पता नहीं है लेकिन मैं बेवकूफ नही हूँ।”

संघी पायल घोष ने जिस थाली में खाया उसी में छेद किया – जया बच्चन

जया बच्चन का कहना है कि अनुराग कश्यप पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाकर पायल घोष ने जिस थाली में खाया, उसी में छेद किया है।

व्हिस्की पिलाते हुए… 7 बार न्यूड सीन: अनुराग कश्यप ने कुबरा सैत को सेक्रेड गेम्स में ऐसे किया यूज

पक्के 'फेमिनिस्ट' अनुराग पर 2018 में भी यौन उत्पीड़न तो नहीं लेकिन बार-बार एक ही तरह का सीन (न्यूड सीन करवाने) करवाने का आरोप लग चुका है।

प्रेगनेंसी टेस्ट की तरह कोरोना जाँच: भारत का ₹500 वाला ‘फेलूदा’ 30 मिनट में बताएगा संक्रमण है या नहीं

दिल्ली की टाटा CSIR लैब ने भारत की सबसे सस्ती कोरोना टेस्ट किट विकसित की है। इसका नाम 'फेलूदा' रखा गया है। इससे मात्र 30 मिनट के भीतर संक्रमण का पता चल सकेगा।

कहाँ गायब हुए अकाउंट्स? सोनू सूद की दरियादिली का उठाया फायदा या फिर था प्रोपेगेंडा का हिस्सा

सोशल मीडिया में एक नई चर्चा के तूल पकड़ने के बाद कई यूजर्स सोनू सूद की मंशा सवाल उठा रहे हैं। कुछ ट्विटर अकाउंट्स अचानक गायब होने पर विवाद है।

जया बच्चन का कुत्ता टॉमी, देश के आम लोगों का कुत्ता कुत्ता: बॉलीवुड सितारों की कहानी

जया बच्चन जी के घर में आइना भी होगा। कभी सजते-संवरते उसमें अपनी आँखों से आँखे मिला कर देखिएगा। हो सकता है कुछ शर्म बाकी हो तो वो आँखों में...

नुसरत जहां की फोटो दिखा लुभा रहा था वीडियो चैट ऐप, TMC सांसद के कंप्लेन पर हरकत में आई पुलिस

टीएमसी सांसद नुसरत जहां ने अपनी तस्वीर के गलत इस्तेमाल को लेकर एक वीडियो चैट ऐप के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है।

रिया का ड्रग्स कनेक्शन छोटा नहीं, दुबई और आतंकी समूहों से जुड़े हैं तार: NCB प्रमुख राकेश अस्थाना

एनसीबी प्रमुख राकेश अस्थाना ने एक इंटरव्यू में कहा है कि रिया के मामले से बड़े ड्रग्स रैकेट का पता चला है कि जिसके लिंक दुबई और आतंकी समूहों से जुड़े हुए हैं।

ठुड्डी के बगल में 1.5 इंच छेद, आँख-नाक से खून; हाथ मुड़े: आखिर दिशा सालियान के साथ क्या हुआ था?

दिशा सालियान की मौत को लेकर रोज नए खुलासे हो रहे हैं। अब एंबुलेंस ड्राइवर ने उनके शरीर पर गहरे घाव देखने का दावा किया है।

सिर्फ 194 दिन में बिहार के हर गाँव में फास्ट इंटरनेट, जुड़ेगा ऑप्टिकल फाइबर से, बनेगा देश का पहला ऐसा राज्य

गाँवों में टेली-मेडिसिन के द्वारा जनता को बड़े अस्पतालों के अच्छे डॉक्टरों की सलाह भी मिल सकेगी। छात्र तेज गति इंटरनेट उपलब्ध होने से...

जिसे आज ताजमहल कहते हैं, वो शिव मंदिर ‘तेजो महालय’ है: शंकराचार्य ने CM योगी से की ‘दूषित प्रचार’ रोकने की अपील

ओडिशा के पुरी स्थित गोवर्धन मठ के शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती ने ताजमहल को लेकर बड़ा दावा किया है। उनका कहना है कि ये प्राचीन काल में भगवान शिव का मंदिर था और इसका नाम 'तेजो महालय' था।

बिहार को ₹14000+ करोड़ की सौगात: 9 राजमार्ग, PM पैकेज के तहत गंगा नदी पर बनाए जाएँगे 17 पुल

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बिहार के 45945 गाँवों को ऑप्टिकल फाइबर इंटरनेट सेवाओं से जोड़ने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि गाँव के किसान...

‘गलत साबित हुई तो माफी माँग छोड़ दूँगी ट्विटर’: कंगना ने ट्रोल करने वालों को कहा पप्पू की चंपू सेना

अपने ट्वीट को तोड़-मरोड़कर पेश करने वालों को कंगना रनौत ने चुनौती दी है। उन्होंने कहा है कि यदि यह साबित हो गया कि उन्होंने किसानों को आतंकी कहा था तो वे ट्विटर छोड़ देंगी।

कॉलेज-किताबें सब झूठे, असल में जिहादियों की ‘वंडर वुमन’ बनना चाहती थी कोलकाता की तानिया परवीन

22 साल की तानिया परवीन 70 जिहादी ग्रुप्स का हिस्सा थी। पढ़िए, कैसे बनी वह लश्कर आतंकी। कितने खतरनाक थे उसके इरादे।

सपा-बसपा ने 10 साल में दी जितनी नौकरी, उससे ज्यादा योगी सरकार ने 3 साल में दिए

सपा और बसपा ने अपने 5 साल के कार्यकाल में जितनी नौकरियाँ दी, उससे ज्यादा योगी आदित्यनाथ की सरकार 3 साल में दे चुकी है।

सुदर्शन ‘UPSC जिहाद’ मामला: ऑपइंडिया, इंडिक कलेक्टिव ट्रस्ट और UpWord ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की ‘हस्तक्षेप याचिका’

मजहब विशेष के दोषियों को बचाने के लिए मीडिया का एक बड़ा वर्ग कैसे उनके अपराध को कम कर दिखाता है, इसको लेकर ऑपइंडिया ने एक रिपोर्ट तैयार की है।

हमसे जुड़ें

263,159FansLike
77,972FollowersFollow
322,000SubscribersSubscribe
Advertisements