Wednesday, July 28, 2021
Homeदेश-समाजमुंबई: 5 साल की बच्ची के रेप पर हुई जेल, छूटने पर 9 साल...

मुंबई: 5 साल की बच्ची के रेप पर हुई जेल, छूटने पर 9 साल की बच्ची का रेप कर हत्या की

जेल से बाहर आने के 6 महीने बाद ही उसने जिस तरह की वारदात को अंजाम दिया है, उससे साफ जाहिर हो रहा है कि जेल के अंदर का उसका व्यवहार महज एक दिखावा था।

मुंबई से इंसानियत को शर्मशार करने वाली एक घटना सामने आई है। विले पार्ले इलाके में 9 साल की बच्‍ची के साथ दुष्‍कर्म और उसके बाद उसकी बेरहमी से हत्‍या करने का एक मामला सामने आया है। बच्ची का शव एक सार्वजनिक शौचालय में पाया गया। पुलिस ने इस मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार व्यक्ति का नाम वडिवेल देवेंद्र उर्फ गुंडप्प है। देवेंद्र को शनिवार (अप्रैल 6, 2019) को POCSO अदालत में पेश किया गया। जिसके बाद उस पर भारतीय दंड संहिता की धारा 201, 302, 363, 376 और POCSO अधिनियम की धाराओं 4, 8 और 12 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

बच्ची की गुमशुदगी की रिपोर्ट गुरूवार (अप्रैल 4, 2019) को जुहू पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई गई थी जिसके बाद से पुलिस छानबीन में जुटी हुई थी। पुलिस ने बताया कि 2 दिन पहले बच्ची की माँ ने बच्ची को चाय पत्ती लाने के लिए दुकान पर भेजा था, जिसके बाद बच्ची घर वापस नहीं लौटी। बच्ची की तलाशी में जुटी पुलिस ने जब उस जगह का सीसीटीवी कैमरा चेक किया तो उसमें उसने बच्ची को गुंडप्प के साथ देखा। जिसके बाद पुलिस ने उसे हिरासत में लिया और पूछताछ करना शुरू किया। पहले तो उसने ये कहते हुए इनकार कर दिया कि उसने बच्ची को वहींं पर छोड़ दिया था, उसके बाद उस बच्ची का क्या हुआ, उसे नहीं पता, मगर फिर शनिवार (अप्रैल 6, 2019) को सुबह उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

गौरतलब है कि देवेंद्र 6 महीने पहले ही जेल से रिहा हुआ है। साल 2013 में गुंडप्प ने एक 5 साल की बच्ची का रेप किया था, जिसके लिए उसे सजा मिली थी। जेल में किए गए अच्छे व्यवहार की वजह से गुंडप्पा की सजा को कम करते हुए सजा की निश्चित अवधि से पहले ही रिहा कर दिया गया। मगर जेल से बाहर आने के 6 महीने बाद ही उसने जिस तरह की वारदात को अंजाम दिया है, उससे साफ जाहिर हो रहा है कि जेल के अंदर का उसका व्यवहार महज एक दिखावा था। उसके अंदर का वहशीपन और क्रूरता अभी भी जिंदा है तभी तो उसने 9 साल की मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के बाद निर्ममता से उसकी हत्या कर दी।

बच्‍ची की लाश मिलने के बाद लोगों का गुस्‍सा भड़क गया। परिजनों और सैंकड़ों लोगों ने जुहू पुलिस स्टेशन के बाहर पहुंचकर जमकर हंगामा किया। जुहू पुलिस ने परिजन समेत हजारों की संख्या में प्रदर्शन कर रहे लोगों को आश्वासन दिया है कि पुलिस इस मामले में आरोपी पर सख्त कार्रवाई करेगी और कोर्ट से अपील करेगी कि उसे सख्त से सख्त सजा दी जाए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बद्रीनाथ नहीं, वो बदरुद्दीन शाह हैं…मुस्लिमों का तीर्थ स्थल’: देवबंदी मौलाना पर उत्तराखंड में FIR, कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी

मौलाना के खिलाफ़ आईपीसी की धारा 153ए, 505, और आईटी एक्ट की धारा 66F के तहत केस किया गया है। शिकायतकर्ता का आरोप है कि उसके बयान से हिंदू भावनाएँ आहत हुईं।

बसवराज बोम्मई होंगे कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री: पिता भी थे CM, राजीव गाँधी के जमाने में गवर्नर ने छीन ली थी कुर्सी

बसवराज बोम्मई के पिता एस आर बोम्मई भी राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके हैं, जबकि बसवराज ने भाजपा 2008 में ज्वाइन की थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,573FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe