Wednesday, October 20, 2021
Homeदेश-समाज'कॉन्ग्रेस को आने दो, फिर बताएँगे' - ट्रैफिक सिग्नल पर मोदी समर्थक को धमकी...

‘कॉन्ग्रेस को आने दो, फिर बताएँगे’ – ट्रैफिक सिग्नल पर मोदी समर्थक को धमकी और हमला

"मोदी वन्स मोर" स्टिकर को लेकर जिन लोगों ने मधुर को धमकी दी, उन पर हमला किया, उन लोगों ने पीएम मोदी और उनकी माँ को भी भद्दी गालियाँ दीं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके समर्थकों के ख़िलाफ़ हिंसात्मक रवैये को उजागर करने संबंधी एक चौंकाने वाली घटना का ख़ुलासा हुआ है। इस घटना को एक ट्विटर यूज़र मधुर ने शेयर किया है। अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा कि वह अपनी कार में पुरानी दिल्ली के दरियागंज इलाक़े से गुजर रहे थे, जिस पर “मोदी वन्स मोर” का स्टीकर लगा हुआ था। जैसे ही वह दरियागंज ट्रैफिक सिग्नल पर रुके तभी 3-4 लोग आए और उनकी कार को पीटना शुरू कर दिया। वे धमकी देकर कहने लगे, ‘कॉन्ग्रेस को आने दो, फिर बताएँगे तुम लोगों को’

हमलावरों के कहने का मतलब साफ़ था कि कॉन्ग्रेस को सत्ता में आने दो फिर तुम जैसे मोदी समर्थकों को सबक सिखाएँगे। इस लाइन से धमकी भरा लहज़ा साफ़ नज़र आता है। इस से पता चलता है कि इस समय माहौल किस तरह से बिगड़ा हुआ है। खुलेआम मोदी समर्थकों को न सिर्फ धमकी दी जा रही है बल्कि हमले भी किए जा रहे हैं।

मधुर ने अपने एक अन्य ट्वीट में लिखा कि सौभाग्य से ट्रैफिक सिग्नल ग्रीन हो गया और वो वहाँ से अपनी जान बचाकर भागने में सफल रहे। लेकिन यह घटना उनके लिए किसी बड़े हादसे से कम नहीं थी, जिसका असर उन पर काफ़ी गहरा पड़ा है।


बाद में मधुर ने ट्विटर पर ही अपनी कार का एक वीडियो भी पोस्ट किया, जिसमें साफ दिख रहा है कि ट्रैफिक सिग्नल पर बदमाशों द्वारा वाहन को खरोंचा गया था। और ऐसा सिर्फ इसलिए क्योंकि कार पर लगा स्टीकर हमलावरों को नहीं भाया।

ऑपइंडिया से बात करते हुए मधुर ने कहा कि वह उन लोगों की पहचान नहीं कर सकते क्योंकि जैसे ही ट्रैफिक सिग्नल की लाइट लाल से हरी हुई, उन्होंने वहाँ से अपनी जान बचाकर भागना ही उचित समझा। वैसे भी वो इलाक़ा मुस्लिम बहुल था, जहाँ उनके साथ किसी भी तरह का अप्रिय घटना घट सकती थी। अगर वो समझदारी नहीं दिखाते तो उनकी जान जाने का भी जोख़िम था। इसके अलावा मधुर ने इस बात का भी ज़िक्र किया कि हमले के दौरान न सिर्फ़ उन्हें भद्दी गालियाँ दी गईं बल्कि पीएम मोदी और उनकी माँ को भी गालियाँ दी गईं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘…पूरी पार्टी ही हैक कर ली है मोटा भाई ने’: सपा कार्यकर्ता ने मंच से किया BJP का प्रचार, लोगों ने लिए मजे; वीडियो...

SP के धरना प्रदर्शन का एक वीडियो क्लिप वायरल हो रहा है, जिसमें पार्टी का एक कार्यकर्ता अनजाने में बीजेपी के लिए प्रचार करता दिखाई दे रहा है।

स्मृति ईरानी ने फैबइंडिया के ट्रायल रूम से पकड़ा था हिडन कैमरा, ‘खादी’ के अवैध इस्तेमाल सहित कई मामले: ब्रांड का विवादों से है...

फैबइंडिया का विवादों से पुराना नाता रहा है। एक मामले में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने गोवा के कैंडोलिम में स्थित फैबइंडिया आउटलेट के ट्रायल रूम में हिडन कैमरा पकड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,106FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe