Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाजराजस्थान में तमिलनाडु के 12 पुलिसकर्मी गिरफ्तार: महिला को पकड़कर ले जा रही थी,...

राजस्थान में तमिलनाडु के 12 पुलिसकर्मी गिरफ्तार: महिला को पकड़कर ले जा रही थी, चोरी के केस से नाम हटाने को माँगे थे ₹25 लाख

तमिलनाडु पुलिस के जवान अजमेर के भिनाय थाना क्षेत्र के रहने वाले पन्नालाल सोनी और उनकी पत्नी सोनिया के घर पहुँचे। जानकारी के मुताबिक तमिलनाडु पुलिस आरोपित सोनिया को अपने साथ ले गई। साथ ही केस से नाम हटाने के लिए 25 लाख रुपए की माँग की।

बिहार के मजदूरों के साथ हिंसा को झुठलाने के आरोपों में घिरी तमिलनाडु पुलिस के 12 जवान राजस्थान में गिरफ्तार किए गए हैं। गोल्ड चोरी के मामले में कार्रवाई को लेकर अजमेर आई तमिलनाडु पुलिस की टीम पर केस से नाम हटाने के एवज में 25 लाख रुपए घूस माँगने का आरोप है। एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) ने 4 मर्चा 2023 की देर रात इन पुलिसकर्मियों को अजमेर रेलवे स्टेशन से हिरासत में लिया। वे अपने साथ एक आरोपित महिला को भी ले जा रहे थे।

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक तमिलनाडु पुलिस 105 तोला सोना चोरी के एक मामले की जाँच कर रही थी। चोरी किए गए सोने की कीमत तकरीबन 52 लाख रुपए बताई जा रही है। तमिलनाडु पुलिस के जवान अजमेर के भिनाय थाना क्षेत्र के रहने वाले पन्नालाल सोनी और उनकी पत्नी सोनिया के घर पहुँचे। जानकारी के मुताबिक तमिलनाडु पुलिस आरोपित सोनिया को अपने साथ ले गई। साथ ही केस से नाम हटाने के लिए 25 लाख रुपए की माँग की।

4 मार्च 2023 को अजमेर एसीबी को पन्नालाल सोनी ने इसकी शिकायत दी। अजमेर एसीबी ने अपने स्तर पर जाँच कराई तो आरोप सही निकले। इसके बाद दक्षिण भारतीय राज्य के पुलिसकर्मियों को एसीबी की 2 टीमों ने देर रात हिरासत में ले लिया। पकड़े गए तमिलनाडु पुलिस के जवानों से पूछताछ की जा रही है।

एसीबी के डीआईजी समीर कुमार सिंह ने जानकारी दी है कि प्रारंभिक पूछताछ में तमिलनाडु में सोना चोरी को लेकर चार मुकदमे दर्ज होने की बात सामने आई है। चोरी की घटना में भिनाय के भैरूखेड़ा के रहने वाले लोगों के शामिल होने की बात कही जा रही है। इन्हीं लोगों से बरामदगी के लिए तमिलनाडु की पुलिस अजमेर पहुँची थी। इस संबंध में तमिलनाडु की पुलिस ने जरूरी दस्तावेज भी दिखाए हैं।

तमिलनाडु पुलिस द्वारा दिए गए दस्तावेजों में सभी आरोपितों की गिरफ्तारी दिखाई गई है। राजस्थान पुलिस ने तमिलनाडु पुलिस से संपर्क कर मामले की जानकारी दे दी है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

मंगलौर के बहाने समझिए मुस्लिमों का वोटिंग पैटर्न: उत्तराखंड की जिस विधानसभा से आज तक नहीं जीता कोई हिन्दू, वहाँ के चुनाव परिणामों से...

मंगलौर में हाल के विधानसभा उपचुनावों में कॉन्ग्रेस ने भाजपा को हराया। इस चुनाव में मुस्लिम वोटिंग का पैटर्न भी एक बार फिर साफ़ हो गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -