Monday, July 22, 2024
Homeदेश-समाजशकील का 'कर्ज' उतारने में मारी गई नीलम यादव, रास्ते में घेरकर काट डाले...

शकील का ‘कर्ज’ उतारने में मारी गई नीलम यादव, रास्ते में घेरकर काट डाले थे हाथ-कान-स्तन: बिहार पुलिस की थ्योरी पर BJP ने CM नीतीश को घेरा

निखिल आनंद भाजपा के OBC मोर्चा के राष्ट्रीय महासचिव हैं। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि भागलपुर में एक OBC समुदाय की यादव जाति की महिला की मुस्लिम व्यक्ति द्वारा हत्या के मामले में स्थानीय प्रशासन भ्रम फैला रहा है।

बिहार के भागलपुर में 3 दिसंबर, 2022 को नीलम यादव नाम की महिला की हत्या करने वाले मुख्य आरोपित शकील मियाँ को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। शकील को लाक्षीपुर के मोरंग बगीचे से पकड़ा गया है। शकील के साथ इस घटना में 4 अन्य आरोपितों को भी गिरफ्तार किया गया है जिसमें उसका भाई जदरूद्दीन भी शामिल है।। पकड़े गए आरोपितों से पूछताछ चल रही है। यह गिरफ्तारी सोमवार (5 दिसम्बर, 2022) को हुई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भागलपुर पुलिस अधीक्षक ने शकील की गिरफ्तारी के लिए 5 थानों की फ़ोर्स को लगा रखा था। माना जा रहा है कि जल्द ही घटना के असली कारणों का खुलासा किया जा सकता है।

पुलिस पर शकील को बचाने का आरोप

इस मामले में भाजपा ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। भाजपा ने पुलिस पर आरोपितों को बचाने का आरोप लग रहा है। भाजपा नेता निखिल आनंद ने मंगलवार (6 दिसम्बर, 2022) को वीडियो जारी करते हुए बताया कि पुलिस ने अभी तक आरोपितों की पहचान और तस्वीरें सार्वजनिक नहीं की हैं। निखिल का ये भी आरोप है कि केस में नामजद आरोपितों का पुराना आपराधिक इतिहास भी है, जिन्हें पिछले अपराधों में भी पुलिस ने संरक्षण दिया है।

निखिल आनंद भाजपा के OBC मोर्चा के राष्ट्रीय महासचिव हैं। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि भागलपुर में एक OBC समुदाय की यादव जाति की महिला की मुस्लिम व्यक्ति द्वारा हत्या के मामले में स्थानीय प्रशासन भ्रम फैला रहा है। जिले के पुलिस अधीक्षक पर आरोप लगाते हुए निखिल ने कहा कि वो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दबाव में केवल अनुमान से काम कर रहे हैं। आरोपित की हरकत को तालिबानी सोच वाला बताते हुए निखिल आनंद ने इस मामले को पूरी तरह से सांप्रदायिक बताया है।

अपने वीडियो में निखिल आनंद ने आगे बताया कि भागलपुर के SP इस हत्याकांड में पीड़ित द्वारा आरोपित से कर्ज लेने की कहानी गढ़ रहे हैं। वीडियो में आगे बताया गया है कि न सिर्फ मृतका के परिजनों बल्कि आस-पड़ोस के लोगों ने भी पुलिस के इस आधारहीन दावे को नकार दिया है। घटनास्थल के आसपास की कुछ अन्य महिलाओं के बयानों का हवाला देते हुए निखिल आनंद ने बताया कि आरोपित एक आदतन अपराधी है। उन्होंने दावा किया कि शकील का हिन्दू महिलाओं को तंग करने का पुराना इतिहास रहा है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

काँवड़िए नहीं जान पाएँगे दुकान ‘अब्दुल’ या ‘अभिषेक’ की, सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक: कहा- बताना होगा सिर्फ मांसाहार/शाकाहार के बारे में,

सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के कांवड़ रूट पर दुकानदारों के नाम दर्शाने वाले आदेश पर अंतरिम रोक लगा दी है।

AAP विधायक की वकीलगिरी का हाई कोर्ट ने उतारा भूत: गलत-सलत लिख कर ले गया था याचिका, लग चुका है बीवी को कुत्ते से...

दिल्ली हाईकोर्ट के जज ने सोमनाथ भारती की याचिका पर कहा कि वो नोटिस जारी नहीं कर सकते, उन्हें ये समझ ही नहीं आ रहा है, वो मामला स्थगित करते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -