Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजकर्नाटक के शिवमोगा में लगे वीर सावरकर के पोस्टर तो काटा बवाल, प्रेम सिंह...

कर्नाटक के शिवमोगा में लगे वीर सावरकर के पोस्टर तो काटा बवाल, प्रेम सिंह को चाकू घोंपा: धारा 144 लागू, अब्दुल, नदीम और जबीउल्लाह गिरफ्तार

कर्नाटक के गृहमंत्री ने चाकू घोंपे जाने की घटना पर कहा, "जैसा कि मुझे बताया गया है कि शिवमोगा में एक चाकू घोंपने का मामला प्रकाश में आया है। ऐसा लग रहा है कि ये वीर सावरकर की फोटो से जुड़ा है। अभी पूरी डिटेल्स आना बाकी हैं।"

कर्नाटक के शिवमोगा में वीर सावरकर के पोस्टर लगाए जाने के कारण हुए बवाल के बाद वहाँ के गाँधी बाजार में एक हिंदू व्यक्ति को चाकू घोंपे जाने का मामला प्रकाश में आया है। पीड़ित की पहचान प्रेम सिंह के तौर पर हुई। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

तीन गिरफ्तार

डोडापेटे पुलिस ने इस संबंध में तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है। एक की पहचान 25 साल के नदीम के तौर पर हुई है और दूसरे की पहचान अब्दुल रहमान के तौर पर हुई हैं।

वहीं तीसरा आरोपित, सोमवार की देर शाम थिरतथल्ली रोड पर गिरफ्तार किया गया। मुख्य आरोपित को पकड़ने के दौरान पुलिस को गोली चलानी पड़ी, जो कि उसके पैर में लगी। उसका नाम जबीउल्लाह बताया गया है। उसने पकड़े जाने के बाद पुलिस पर हमला किया था, इसी वजह से पुलिस को जवाबी कार्रवाई में बंदूक चलानी पड़ी।

15 अगस्त को हुआ हमला

कथिततौर पर प्रेम सिंह एक कपड़े के स्टोर में काम करते थे। घर आते समय 15 अगस्त को उनके ऊपर हमला हुआ। स्थानीय अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है। पुलिस कह रही है कि अभी हमले का कारण साफ नहीं है।

हालाँकि कर्नाटक के गृहमंत्री अरागा ज्ञानेंद्र ने चाकू घोंपने की घटना को वीर सावरकर के पोस्टर से जोड़कर बताया है। उन्होंने इंडिया टुडे से बातचीत में कहा,

“जैसा कि मुझे बताया गया है कि शिवमोगा में एक चाकू घोंपने का मामला प्रकाश में आया है। ऐसा लग रहा है कि ये वीर सावरकर की फोटो से जुड़ा है। अभी पूरी डिटेल्स आना बाकी हैं।”

इस बीच शिवमोगा जिला कलेक्टर आर सेल्वमणि ने मंगलवार को शहर और भद्रावती नगर सीमा में स्कूल और कॉलेज बंद रखने का आदेश दिया है। उनके आदेशानुसार 18 अगस्त तक ये रोक इलाके में रहेगी। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में बताई जा रही है।

शिवमोगा में झड़प, धारा 144 लागू

बता दें कि कर्नाटक के शिवमोगा में सोमवार (15 अगस्त, 2022) को अमीर अहमद सर्कल पर हिंदूवादी संगठनों ने वीर सावरकर की तस्वीर लगाई थी। जिसके कुछ देर बाद वहाँ टीपू सुलतान सेना का झंडा लेकर दूसरे समुदाय के युवक पहुँच गए और तस्वीर हटाने की कोशिश करने लगे।

देखते ही देखते दोनों समुदाय में बहस शुरू हो गई। स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया। अमीर अहमद सर्कल में दोनों गुटों के बीच हुई झड़प को देखते हुए शिवमोगा पुलिस ने धारा 144 लागू कर दी है।

सावरकर के बैनर हटाए गए

एक अन्य घटना में, मेंगलुरु के सुरतकल (Surathkal) चौराहे का नाम सावरकर के नाम पर रखने वाले एक बैनर को हटा दिया गया है। सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI) के कार्यकर्ताओं ने इस बैनर पर आपत्ति जताई थी। SDPI की सुरतकल इकाई ने बैनर पर आपत्ति जताई और इसे पुलिस के संज्ञान में लेकर आई। निगम आयुक्त अक्षय श्रीधर ने बैनर को हटाने के आदेश दिए थे, जिसके बाद इसे हटा दिया गया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -