Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजआत्मघाती हमला था कोयम्बटूर मंदिर के पास हुआ धमाका? अब तक 5 गिरफ्तार, श्रीलंका सीरियल...

आत्मघाती हमला था कोयम्बटूर मंदिर के पास हुआ धमाका? अब तक 5 गिरफ्तार, श्रीलंका सीरियल ब्लास्ट वाले नेटवर्क से जुड़ा था मुबीन

ब्लास्ट में मारा गया मुबीन ज़हरान हाशिम नेटवर्क से जुड़ा था। जहरान हाशिम ईस्टर पर श्रीलंका में हुए सीरियल ब्लास्ट का मास्टरमाइंड है। मुबीन के घर के पास कुछ संदिग्ध बोरे लिए सीसीटीवी में दिखाई पड़े हैं।

तमिलनाडु के कोयम्बटूर में रविवार (23 अक्टूबर 2022) को कोट्टई ईश्वरम मंदिर के सामने एक कार में सिलिंडर ब्लास्ट हुआ था। रिपोर्टों के अनुसार यह एक आतंकी घटना थी। न्यूज 18 ने खुफिया सूत्रों के हवाले से इसके आत्मघाती हमला होने की आशंका जताई है। धमाके में मारा गया जमिज़ा मुबीन ISIS आतंकी बताया जा रहा। उसके लिंक श्रीलंका में हुए सीरियल ब्लास्ट वाले नेटवर्क से भी होने की बात कही जा रही है।

इस मामले में पुलिस ने अब तक कुल 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। मुबीन के घर से बड़ी मात्रा में विस्फोटक भी बरामद हुआ है। आशंका इस बात की भी जताई जा रही कि घटना दीवाली के दौरान मंदिर को निशाना बनाने की साजिश भी हो सकती है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक संदिग्धों की पहचान एक CCTV फुटेज के आधार पर की गई है। इन सभी को घटना से एक दिन पहले रेकी करते हुए देखा गया था। रेकी करने वालों में मृतक मुबीन भी दिखाई दे रहा है। फुटेज में संदिग्धों के हाथ में बोरे का बैग भी दिखाई दे रहा है। संदिग्धों के पास मौजूद बोरे में क्या था, इसकी जानकारी अभी सामने नहीं आ पाई है। ये सभी मुबीन के घर के पास जमा हुए थे।

तमिलनाडु पुलिस के DGP के सी शैलेन्द्र बाबू के मुताबिक विस्फोट कम क्षमता का था। उन्होंने बताया कि इसमें पोटेशियम नाइट्रेट का प्रयोग किया गया था। तमिलनाडु में AIADMK के महासचिव और नेता प्रतिपक्ष के पलानीस्वामी ने घटना की निष्पक्ष जाँच की माँग की है। मुख्यमंत्री स्टालिन को निशाने पर लेते हुए उन्होंने कहा कि जाँच पर किसी भी प्रकार का राजनैतिक दबाव न डाला जाए। तमिलनाडु भाजपा ने भी इसे आतंकी घटना बताया है। भाजपा ने 36 घंटे तक घटना पर मुख्यमंत्री की चुप्पी पर भी सवाल खड़े किए हैं।

NIA को आशंका है कि मृतक मुबीन ज़हरान हाशिम नेटवर्क से जुड़ा था। जहरान हाशिम ईस्टर पर श्रीलंका में हुए सीरियल ब्लास्ट का मास्टरमाइंड है। बताया जा रहा है कि मुबीन जहरान हाशिम नेटवर्क के तमिलनाडु तौहीद जमात के अज़हरुद्दीन नाम के आतंकी के माध्यम से जुड़ा था। अज़हरुद्दीन को केरल और तमिलनाडु में युवाओं की भर्ती और उन्हें कट्टरपंथी प्रशिक्षण देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।

गौरतलब है कि मुबीन से साल 2019 में तमिलनाडु पुलिस ISIS लिंक को लेकर पूछताछ कर चुकी है। मृतक मुबीन की उम्र 25 साल थी। हालाँकि पुलिस का दावा है कि जमिज़ा मुबीन का कोई पुराना आतंकी या आपराधिक रिकार्ड नहीं पाया गया है। शुरुआती जाँच में पुलिस को मुबीन की गाड़ी में लोहे की कीलें मिली थीं, जिसे गाड़ियों को पंचर करने में प्रयोग किया जाता है। उसकी गाड़ी से मार्बल भी बरामद हुए थे। विस्फोट में उसकी मारुति 800 कार के भी परखच्चे उड़ गए थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेचुरल फार्मिंग क्या है, बजट में क्यों इसे 1 करोड़ किसानों से जोड़ने का ऐलान: गोबर-गोमूत्र के इस्तेमाल से बढ़ेगी किसानों की आय

प्राकृतिक खेती एक रसायनमुक्त व्यवस्था है जिसमें प्राकृतिक संसाधनों का इस्तेमाल किया जाता है, जो फसलों, पेड़ों और पशुधन को एकीकृत करती है।

नारी शक्ति को मोदी सरकार ने समर्पित किए ₹3 लाख करोड़: नौकरी कर रहीं महिलाओं और उनके बच्चों के लिए भी रहने की सुविधा,...

बजट में महिलाओं की हिस्सेदारी कार्यबल में बढ़ाने पर काम किया गया है। इसके अलावा कामकाजी महिलाओं के लिए छात्रावास स्थापित करने का भी ऐलान हुआ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -