Saturday, July 31, 2021
Homeदेश-समाजयूपी पुलिस ने चौराहे पर टाँगी दंगाइयों की तस्वीर, कहा- बवालियों की पहचान कर...

यूपी पुलिस ने चौराहे पर टाँगी दंगाइयों की तस्वीर, कहा- बवालियों की पहचान कर फ़ौरन खबर करें

सबसे ज़्यादा मुक़दमे लोनी क्षेत्र में दर्ज हुए। लोनी औक लोनी बॉर्डर में ही 3200 से अधिक ज्ञात और अज्ञात दंगाइयों के ख़िलाफ़ मुक़दमा दर्ज किया गया है। वहीं, सबसे अधिक गिरफ़्तारियाँ साहिबाबाद क्षेत्र में हुई।

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध के नाम पर उत्तर प्रदेश के कई शहरों में प्रदर्शनकारियों ने हिंसा और आगजनी की। इन दंगाइयों पर यूपी पुलिस लगातार शिंकजा कसने में लगी है। इसी कड़ी में गाजियाबाद पुलिस ने शुक्रवार को हुए प्रदर्शन के दौरान उपद्रव करने वालों की तस्वीर जारी की है। इनकी तस्वीर वाले पोस्टर चौराहे पर लगाए हैं और लोगों से इनकी पहचान कर जानकारी देने की अपील की है।

प्रदर्शन के दौरान जिले के लोनी थाना क्षेत्र में उपद्रवियों ने काफी हिंसा की थी। इनकी पहचान के लिए तस्वीरों वाले पोस्टर बीच चौराहों पर लगाए गए हैं। इनके बारे में सूचना देने वालों की पहचान गुप्त रखी जाएगी।

शुक्रवार को CAA ख़िलाफ़ हुए विरोध-प्रदर्शन के बाद पत्थरबाज़ी और बवाल काटने के मामले में जिले के 4 थानों में 451 ज्ञात समेत क़रीब 5000 अज्ञात पर मुक़दमा दर्ज किया गया है। इनमें पूर्व विधायक ज़ाकिर अली, सभासद सलाउद्दीन, सपा नेता रिज़वान सैफी, आरिफ़ के नाम भी शामिल हैं।

ख़बर के अनुसार, एसएसपी ने बताया कि फ़िलहाल साहिबाबाद से 44, मुरादनगर से 17 और लोनी से 4 आरोपितों को गिरफ़्तार किया गया है। अज्ञात दंगाइयों की पहचान के लिए सामने आई फ़ोटो और वीडियो फुटेज के माध्यम से की जा रही है। बता दें कि शुक्रवार को हुए बवाल में दंगाइयों ने जमकर पत्थरबाज़ी की थी। 

इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने देर रात घंटाघर कोतवाली, मुरादनगर, लोनी बॉर्डर और साहिबाबाद में सात मुक़दमे दर्ज किए थे। ग़ौर करने वाली बात यह है सबसे ज़्यादा मुक़दमे लोनी क्षेत्र में दर्ज हुए। लोनी औक लोनी बॉर्डर में ही 3200 से अधिक ज्ञात और अज्ञात दंगाइयों के ख़िलाफ़ मुक़दमा दर्ज किया गया है। वहीं, सबसे अधिक गिरफ़्तारियाँ साहिबाबाद क्षेत्र में हुई। कुल मिलाकर अब तक गाज़ियाबाद में 135 से अधिक उद्रवियों को गिरफ़्तार किया जा चुका है।

इससे पहले गोरखपुर में पुलिस ने उपद्रवियों की फ़ोटो सोशल मीडिया पर जारी की थी। गोरखपुर पुलिस ने भी कहा था कि दंगाइयों के संबंध में सूचना देने वाले का नाम गोपनीय रखा जाएगा और सहयोग करने वालों को उचित ईनाम भी दिया जाएगा। एक्शन में आई योगी सरकार ने राजधानी लखनऊ के खदरा इलाक़े में हिंसक विरोध-प्रदर्शन के दौरान उपद्रव मचाने वाले दंगाइयों के स्कैच जारी किए थे।

लखनऊ हिंसा में 250 लोग गिरफ्तार (तस्वीर साभार: News-18)

शनिवार (21 दिसंबर) को लखनऊ के एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया था कि 250 दंगाइयों को वीडियो फ़ुटेज और फ़ोटो के आधार पर पहचान कर गिरफ़्तार किया गया। उन्होंने बताया था कि दंगाइयों की गिरफ़्तारी के लिए छापेमारी जारी है। इसके अलावा पुलिस प्रशासन आरोपितों पर रासुका (NSA) और सम्पत्ति कुर्क की कार्रवाई करने की तैयारी कर रही है।

एक्शन में योगी सरकार: मुजफ्फरनगर में उपद्रवियों की संपत्ति सील, गोरखपुर के ये हैं 60 वांटेड

25-30 पुलिस वालों को दुकान में बंद कर जिंदा जलाने का प्रयास: नमाज के बाद हापुड़ में उपद्रवियों का तांडव

कानपुर में CAA पर हिंसा: दंगाइयों ने पुलिस पर तेज़ाब और पेट्रोल बम से किया हमला, 50 गिरफ़्तार-12 को लगी गोली


  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पेगासस: ‘खोजी’ पत्रकारिता का भ्रमजाल, जबरन बयानबाजी और ‘टाइमिंग’- देश के खिलाफ हर मसाले का प्रयोग

दुनिया भर में कुल जमा 23 स्मार्टफोन में 'संभावित निगरानी' को लेकर ऐसा बड़ा हल्ला मचा दिया गया है, मानो 50 देशों की सरकारें पेगासस के ज़रिए बड़े पैमाने पर अपने नागरिकों की साइबर जासूसी में लगी हों।

पिता ने उधार लेकर करवाई हॉकी की ट्रेनिंग, निधन के बाद अंतिम दर्शन भी छोड़ा: अब ओलंपिक में इतिहास रच दी श्रद्धांजलि

वंदना कटारिया के पिता का सपना था कि भारतीय महिला हॉकी टीम ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीते। बचपन में पिता ने उधार लेकर उन्हें हॉकी की ट्रेनिंग दिलवाई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,211FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe