Saturday, August 8, 2020
Home देश-समाज 25-30 पुलिस वालों को दुकान में बंद कर जिंदा जलाने का प्रयास: नमाज के...

25-30 पुलिस वालों को दुकान में बंद कर जिंदा जलाने का प्रयास: नमाज के बाद हापुड़ में उपद्रवियों का तांडव

उपद्रवियों का ये जानलेवा और हिंसक रवैया दिखाता है कि इनके अंदर न तो कानून का डर है और न ही इंसानियत बची है। कुछ लोग इसे ‘शांतिपूर्ण प्रदर्शन’ और इन उपद्रवियों को ‘शांतिप्रिय प्रदर्शनकारी’ कह रहे हैं जबकि...

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर देश भर में विरोध प्रदर्शन के नाम पर गुंडई हो रही है। यह किसी भी दृष्टिकोण से विरोध प्रदर्शन नहीं दिख रहा है। यदि प्रदर्शनकारियों द्वारा किए जा रहे इस हिंसक प्रदर्शन को दंगा कहा जाए, तो शायद कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी और इसे करने वाले को प्रदर्शनकारी नहीं बल्कि उपद्रवी या दंगई कहना चाहिए, क्योंकि प्रदर्शन करने का ये तरीका तो बिल्कुल नहीं होता है।

जिस तरह से ये प्रदर्शन कर रहे हैं, उसमें साफ दिख रहा है कि इनके ऊपर खून सवार है और ये जान लेने पर उतारू हैं। वरना 25 पुलिसकर्मी की भीड़ को घेरना और भी उन्हें एक दुकान में बंद कर आगजनी और पथराव करना मामूली बात नहीं है। बता दें कि मेरठ में शुक्रवार (दिसंबर 20, 2019) जुमे की नमाज के बाद अचानक अराजकता फैली और उपद्रवी सड़कों पर आ गए। मेरठ, मुजफ्फरनगर, बिजनौर और बुलंदशहर में उपद्रवियों ने जमकर उत्पात मचाया। इस दौरान एक बैंक व पुलिस चौकी समेत सैकड़ों वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया। उपद्रवियों को नियंत्रित करने में पुलिस व दंगा नियंत्रण बल को खासी मशक्कत करनी पड़ी।

अमर उजाला के मेरठ संस्करण में प्रकाशित खबर

हापुड़ में बवालियों का मन इतना बढ़ गया कि पुलिस की एक पूरी टीम की घेराबंदी की और एक दुकान में बंधक बना लिया था। उपद्रवियों ने पुलिस को दुकान के अंदर बंद करके शटर पर आग लगाने का प्रयास किया। जब सूचना पाकर पर पुलिस वहाँ पहुँची तो उपद्रवियों ने उनकी गाड़ी पर भी पथराव किया और फायरिंग कर उन्हें दौड़ा दिया। इसके बाद एसडीएम-सीओ भी आए, लेकिन वो ट्रेनी सिपाहियों को बंधनमुक्त नहीं करा पाए। एक बात तो निश्चित है कि अगर ट्रेनी सिपाही शटर तोड़कर निकलते तो उपद्रवी उन्हें छोड़ते नहीं।

इसके अलावा बुलंदशहर में भीड़ में शामिल युवकों ने अवैध हथियारों से पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी, जिससे पुलिसकर्मी भागकर थाने में घुस गए। इस दौरान भीड़ ने सड़क के किनारे खड़े एक दर्जन से अधिक चार पहिया और दो पहिया वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया। उपद्रवियों ने पथराव भी किया, जिसमें आधादर्जन पुलिसकर्मी घायल हो गए।

- विज्ञापन -

इससे पहले इसी तरह के हिंसक प्रदर्शन की कई तस्वीरें गुजरात के अहमदाबाद से भी आईं थी। अहमदाबाद के शाह आलम इलाके में दरगाह में इकट्ठी हुई भीड़ ने नमाज के पुलिसकर्मियों को घेर लिया और उन पर पथराव शुरू कर दिया था। पुलिसकर्मी भागकर छिपने की कोशिश कर रहे होते हैं, लेकिन उपद्रवी लगातार उन पर पत्थर लाठियों से वार करते रहे।

उपद्रवियों का ये जानलेवा और हिंसक रवैया दिखाता है कि इनके अंदर न तो कानून का डर है और न ही इंसानियत बची है और कुछ लोग इसे ‘शांतिपूर्ण प्रदर्शन’ और इन उपद्रवियों को ‘शांतिप्रिय प्रदर्शनकारी’ कहते हैं। वहीं कुछ लोगों द्वारा उपद्रवियों की इस भीड़ को ‘डरा हुआ’ भी कहा जा रहा है। पता नहीं वो लोग किस चश्मा से देख रहे हैं इस हिंसक प्रदर्शन को।

‘सभी मूर्तियों को हटा दिया जाएगा… केवल अल्लाह का नाम रहेगा’: IIT कानपुर में हिंदू व देश विरोधी-प्रदर्शन

ऑटो में बच्ची बैठी हो या औरत… हम तो डंडे बरसाएँगे: लालू यादव की पार्टी के नेताओं की गुंडई

मरीचझापी में जिन 7000 हिंदू शरणार्थियों का संहार हुआ वे भी दलित थे, जय भीम-जय मीम का नया छलावा है ‘रावण’

‘यह टाइम दस्तावेज़ जुटाने का नहीं, सड़कों पर उतरने का है’- मालेगाँव के मौलाना का दंगाई फरमान

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सुशांत के नाम पर बिहार को गाली, बिहारी परिवारों को बताया जहरीला: शेखर गुप्ता की वेबसाइट की करतूत पर रवीश भी चुप

शेखर गुप्ता की वेबसाइट पर प्रकाशित लेख में कहा गया है कि 'विषाक्त' बिहारी परिवारों में बच्चों पर श्रवण कुमार बनने की जिम्मेदारी होती है। बिहारी रवीश कुमार प्रदेश के अपमान पर चुप हैं।

‘आधी उम्र की लड़कियों से रोमांस..’: अक्षय कुमार ने राम मंदिर का किया स्वागत तो भड़की AltNews की पत्रकार

ऑल्ट न्यूज़ अब हिंदू घृणा के निम्नतम स्तर पर उतर आया है। उसके पत्रकार ने अक्षय कुमार को निशाना बनाया क्योंकि उन्होंने राम मंदिर भूमिपूजन का स्वागत किया।

दिशा सालियान की आखिरी रात की पूरी कहानी: ‘मौत’ से 1 घंटे पहले का वीडियो आया सामने, सुसाइड थ्योरी पर उठे कई नए सवाल

सोशल मीडिया पर वायरल इस वीडियो को देख कर हर किसी के मन में यहीं सवाल है कि इतनी खुश दिखने वाली दिशा ने आखिर क्यों कुछ समय बाद सुसाइड कर लिया?

सुशांत सिंह राजपूत इतने बड़े स्टार नहीं थे कि मुंबई पुलिस पर इतना दबाव डाला जाए: राजदीप सरदेसाई

“लोगों ने पुलिस पर अपना भरोसा खो दिया है। सार्वजनिक संस्थानों, IPS अधिकारियों पर सवाल उठ रहे हैं, चाहे वह मुंबई हो या बिहार पुलिस। क्या वे वास्तव में निष्पक्ष जाँच कर रहे हैं? सुशांत सिंह राजपूत इतने बड़े स्टार नहीं थे कि मुंबई पुलिस पर इतना दबाव डाला जाए।"

इधर राम मंदिर का भूमिपूजन, उधर ‘Burnol’ के सर्च में भारी उछाल: नॉर्थ-ईस्ट ने दिखाई सबसे ज्यादा दिलचस्पी

5 अगस्त 2020 को अयोध्या में राम मंदिर भूमिपूजन के दौरान बर्नोल के सर्च में अप्रत्याशित वृद्धि देखी गई।

हिन्दुओं को गाली, लेकिन बुर्का, शरिया, मौलाना, मदरसा पर चुप्पी: जस्टिस काटजू ने ‘सेकुलर’ गैंग को लताड़ा

कन्हैया कुमार, शेहला रशीद, उमर खालिद, आरफा खानम, राणा अयूब सबको एक साथ सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज काटजू ने निशाने पर लिया है और इनके कथित सेकुलरिज्म को धो दिया है।

प्रचलित ख़बरें

कॉल रिकॉर्ड से खुली रिया चकवर्ती की कुंडली: मुंबई के DCP के संपर्क में थी, महेश भट्ट का भी नाम

रिया चक्रवर्ती की कॉल डिटेल से पता चला है कि वह मुंबई पुलिस के एक टॉप अधिकारी के संपर्क में थी।

मस्जिद में कुरान पढ़ती बच्ची से रेप का Video आया सामने, मौलवी फरार: पाकिस्तान के सिंध प्रांत की घटना

पाकिस्तान के सिंध प्रान्त स्थित कंदियारो की एक मस्जिद में बच्ची से रेप का मामला सामने आया है। आरोपित मौलवी अब्बास फरार बताया जा रहा है।

‘घुस के मारो सालों को’: बंगाल में मुस्लिम भीड़ ने राम की पूजा कर रहे हिंदुओं को बनाया निशाना, देखें Video

राम मंदिर भूमिपूजन के मौके पर बंगाल में कई जगहों पर पूजा आयोजित की गई थी। इन्हें मुस्लिम भीड़ ने चुन-चुनकर निशाना बनाया।

असम: राम मंदिर का जश्न मना रहे बजरंगदल कार्यकर्ताओं से मुस्लिमों ने की हिंसक झड़प, 25 को बनाया बंधक, कर्फ्यू

झड़प के दौरान पाकिस्तान के समर्थन में भी नारे लगे गए और मुस्लिम युवकों ने बजरंगदल के करीब 25 कार्यकर्ताओं को बंधक भी बना दिया।

जैसे-जैसे खुल रही परतें, रिया चकवर्ती पर कसता जा रहा शिकंजा: सुशांत की मौत में गर्लफ्रेंड के ‘विलेन’ बनने की पूरी कहानी

14 जून को सुशांत घर में लटके मिले थे। शुरू में सुसाइड लग रहा मामला आगे बढ़ा और संदेह के दायरे में आई रिया चकवर्ती। क्या हुए हैं खुलासे? पढ़िए, सब कुछ।

अच्छी बेगम बनो, जिसने मुसलमान बनाया उसके पास जाओ: 14 साल की ईसाई बच्ची के आँसू से भी नहीं पसीजा लाहौर हाई कोर्ट

मारिया शाहबाज को इस साल अप्रैल में अगवा किया गया था। स्थानीय अदालत ने उसे पुनर्वास केंद्र भेजने का आदेश दिया था, जिसे लाहौर हाई कोर्ट ने पलट दिया।

सुशांत के नाम पर बिहार को गाली, बिहारी परिवारों को बताया जहरीला: शेखर गुप्ता की वेबसाइट की करतूत पर रवीश भी चुप

शेखर गुप्ता की वेबसाइट पर प्रकाशित लेख में कहा गया है कि 'विषाक्त' बिहारी परिवारों में बच्चों पर श्रवण कुमार बनने की जिम्मेदारी होती है। बिहारी रवीश कुमार प्रदेश के अपमान पर चुप हैं।

एनकाउंटर के डर से विकास दुबे का साथी गले में तख्ती लटकाकर UP पुलिस के सामने हुआ दंडवत, कहा- मुझ पर रहम करो

विकास दुबे का सहयोगी उमाकांत उन 21 वांछित अपराधियों में शुमार था, जिनकी पुलिस बिकरू हत्याकांड के बाद से तलाश कर रही थी। अब किया सरेंडर।

‘आधी उम्र की लड़कियों से रोमांस..’: अक्षय कुमार ने राम मंदिर का किया स्वागत तो भड़की AltNews की पत्रकार

ऑल्ट न्यूज़ अब हिंदू घृणा के निम्नतम स्तर पर उतर आया है। उसके पत्रकार ने अक्षय कुमार को निशाना बनाया क्योंकि उन्होंने राम मंदिर भूमिपूजन का स्वागत किया।

बच्चों से अधनंगे बदन पर पेंटिंग करवाने वाली रेहाना फातिमा ने किया आत्मसमर्पण: SC ने खारिज कर दी थी अग्रिम जमानत याचिका

केरल के सबरीमाला स्थित भगवान अयप्पा मंदिर में घुसने की कोशिश करने और साजिशन अपनी सोशल मीडिया पोस्ट से श्रद्धालुओं की भावनाओं को भड़काने को लेकर विवादों में आई एक्टिविस्ट रेहाना फातिमा ने शनिवार की शाम को एर्नाकुलम साउथ पुलिस स्टेशन में आत्मसमर्पण कर दिया।

दिशा सालियान की आखिरी रात की पूरी कहानी: ‘मौत’ से 1 घंटे पहले का वीडियो आया सामने, सुसाइड थ्योरी पर उठे कई नए सवाल

सोशल मीडिया पर वायरल इस वीडियो को देख कर हर किसी के मन में यहीं सवाल है कि इतनी खुश दिखने वाली दिशा ने आखिर क्यों कुछ समय बाद सुसाइड कर लिया?

पिछली सरकारों ने नहीं दिया अयोध्या पर ध्यान, CM योगी के नेतृत्व में होगा राम जन्मस्थान का विकास: अयोध्या के शाही सदस्य

“इससे पहले अन्य लोग सरकार में थे, उन्होंने अयोध्या पर बिल्कुल ध्यान नहीं दिया। यहाँ किसी तरह का विकास कार्य नहीं हुआ करता था। अब पूरे अयोध्या और यहाँ तक ​​कि भारत को भी उम्मीद है कि यह एक सुंदर शहर बनकर उभरेगा।”

सुशांत सिंह राजपूत इतने बड़े स्टार नहीं थे कि मुंबई पुलिस पर इतना दबाव डाला जाए: राजदीप सरदेसाई

“लोगों ने पुलिस पर अपना भरोसा खो दिया है। सार्वजनिक संस्थानों, IPS अधिकारियों पर सवाल उठ रहे हैं, चाहे वह मुंबई हो या बिहार पुलिस। क्या वे वास्तव में निष्पक्ष जाँच कर रहे हैं? सुशांत सिंह राजपूत इतने बड़े स्टार नहीं थे कि मुंबई पुलिस पर इतना दबाव डाला जाए।"

आजमगढ़ के कबीरुद्दीनपुर में क्षतिग्रस्त कर दी गई भगवान शिव की प्रतिमा: फरार हुए आरोपित, क्षेत्र में तनाव

ये घटना अतरौलिया थाना क्षेत्र के शेखपुरा कबीरूद्दीनपुर गाँव की है, जहाँ ग्राम समाज की ही जमीन पर 15 वर्ष पहले शिव मंदिर की स्थापना की गई थी।

अयोध्या राम मंदिर 1000 साल तक रहेगी पूरी तरह सुरक्षित: भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदा भी कुछ बिगाड़ नहीं पाएगी

राम मंदिर का निर्माण कुछ इस तरह होगा कि इस पर किसी प्रकार के कोई प्राकृतिक आपदाओं का असर नहीं होगा। हजारों सालों तक इस पर भूकंप जैसे प्राकृतिक आपदाओं का भी कोई असर नहीं होगा।

कर्नाटक: मंदिरों से दानपेटी हटाते पुजारियों का वीडियो फिर वायरल, सरकारी नियंत्रण का कर रहे थे विरोध

कर्नाटक के पुजारियों का वह वीडियो फिर से वायरल हो रहा है जब उन्होंने मंदिरों से दानपेटी हटा दी थी। ऐसा मंदिरों पर सरकारी नियंत्रण के विरोध में किया गया था।

हमसे जुड़ें

244,817FansLike
64,481FollowersFollow
293,000SubscribersSubscribe
Advertisements