Monday, October 25, 2021
Homeदेश-समाजबुलेट प्रूफ जैकेट को चीरती हुई निकली दंगाई की गोली, जेब में विराजमान शिवजी...

बुलेट प्रूफ जैकेट को चीरती हुई निकली दंगाई की गोली, जेब में विराजमान शिवजी ने बचाई कॉन्स्टेबल की जान

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध के नाम पर प्रदेश में हुई हिंसा को लेकर उत्तर प्रदेश पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई कर रही है। उपद्रवियों की पहचान कर एफआईआर दर्ज करने और उन्हें गिरफ्तार का सिलसिला जारी है।

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद शुरू हुआ हिंसक-प्रदर्शन शनिवार को भी जारी रहा। इस दौरान कॉन्स्टेबल विजेंद्र कुमार को नया जीवन मिला। प्रदर्शन के दौरान दंगाइयों ने फायरिंग की। इस दौरान एक बुलेट विजेंद्र कुमार के बुलेटप्रूफ जैकेट के आर-पार चली गई। लेकिन सिक्कों से भरे पर्स में जाकर गोली फँस गई। विजेंद्र ने पर्स जैकेट की ऊपर वाली जेब में रखा हुआ था।

विजेंद्र ने कहा, “यह मेरा दूसरा जीवन है। मैं भगवान का शुक्रगुजार हूँ। कल विरोध-प्रदर्शन के दौरान यह गोली लगी थी। मुझे वास्तव में ऐसा लग रहा है कि यह मेरा दूसरा जीवन है।” उन्होंने बताया, “भारी पथराव और फायरिंग के बीच मुझे हिंसक भीड़ को रोकना था। इसी दौरान एक गोली मेरे सीने की तरफ आई। मेरी बुलेटप्रूफ जैकेट तो इससे नहीं बचा पाई, लेकिन मेरा पर्स जिसमें मैंने भगवान शिव की तस्वीर रखी थी ने बचा लिया।”

जब विरोध-प्रदर्शन ने हिंसक रूप ले लिया और फायरिंग शुरू हुई उस वक़्त विजेंद्र कुमार फिरोजाबाद एसपी के एस्कॉर्ट में शामिल थे। फिरोजाबाद एसपी सचिंद्र पटेल ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि विजेंद्र कुमार भाग्यशाली थे, वो बाल-बाल बच गए। पटेल ने बताया कि हिंसक भीड़ पुलिसवालों पर फायरिंग कर रही थी। थानाध्यक्ष, सब इंस्पेक्टर और कॉन्स्टेबल सहित 40 पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं।

बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून के विरोध के नाम पर प्रदेश में हुई हिंसा को लेकर उत्तर प्रदेश पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करनी शुरू कर दी है। उपद्रवियों की पहचान कर एफआईआर दर्ज करने और उन्हें गिरफ्तार का सिलसिला जारी है। साथ ही सीएम योगी आदित्यनाथ की सरकार ने हिंसा के बाद हुए नुकसान की भरपाई के लिए एक 4 सदस्यीय कमेटी बना दी है, जो गिरफ्तार लोगों को पैसा वसूल करेगी। सीएम के इस ऐलान के दो दिन बाद शनिवार से ही उपद्रवियों की पहचान कर नोटिस भेजना शुरू हो गया है। मुजफ्फरनगर में प्रशासन ने त्वरित कार्रवाई करते हुए 50 दुकानों को सील कर दिया है।

एक्शन में योगी सरकार: मुजफ्फरनगर में उपद्रवियों की संपत्ति सील, गोरखपुर के ये हैं 60 वांटेड

25-30 पुलिस वालों को दुकान में बंद कर जिंदा जलाने का प्रयास: नमाज के बाद हापुड़ में उपद्रवियों का तांडव

कानपुर में CAA पर हिंसा: दंगाइयों ने पुलिस पर तेज़ाब और पेट्रोल बम से किया हमला, 50 गिरफ़्तार-12 को लगी गोली

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

केरल में नॉन-हलाल रेस्तराँ खोलने वाली महिला को बेरहमी से पीटा, दूसरी ब्रांच खोलने के खिलाफ इस्लामवादी दे रहे थे धमकी

ट्विटर यूजर के अनुसार, बदमाशों के खिलाफ आत्मरक्षा में रेस्तराँ कर्मचारियों द्वारा जवाबी कार्रवाई के बाद केरल पुलिस तुशारा की तलाश कर रही है।

असम: CM सरमा ने किनारे किया दीवाली पर पटाखों पर प्रतिबंध का आदेश, कहा – जनभावनाओं के हिसाब से होगा फैसला

असम में दीवाली के मौके पर पटाखों पर पूर्ण प्रतिबंध का ऐलान किया गया था। अब मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा है कि ये आदेश बदलेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
131,783FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe