Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाजपुरोला में लव जिहाद के खिलाफ नहीं होगी महापंचायत, सुप्रीम कोर्ट ने नहीं लगाई...

पुरोला में लव जिहाद के खिलाफ नहीं होगी महापंचायत, सुप्रीम कोर्ट ने नहीं लगाई रोक पर पुलिस ने लगा दी धारा 144: बोले CM धामी- हाथ में न लें कानून

उत्तरकाशी जिले के पुरोला में लव जिहाद की घटनाएँ लगातार देखने को मिल रही है। 26 मई 2023 को पुरोला कस्बे में उबैद नाम का एक मुस्लिम 9वीं कक्षा की एक नाबालिग हिंदू छात्रा को लेकर भागने की कोशिश कर रहा था। इस दौरान स्थानीय लोगों ने उसे पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया था।

उत्तराखंड में लव जिहाद (Love Jihad in Uttarakhand) का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। उत्तरकाशी में गुुरुवार (15 जून 2023) को होने वाली हिंदू महापंचायत को देखते हुए जिले में पुलिस मुस्तैद हो गई है। वहीं, पुरोला में पुलिस ने महापंचायत की इजाजत देने से इनकार करते हुए धारा 144 लगा दी है।

इस महापंचायत को रोकने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने भी एक याचिका दायर की गई थी, जिस पर विचार करने से सर्वोच्च न्यायालय ने इनकार कर दिया। महापंचायत से राज्य में सांप्रदायिक तनाव बढ़ने की बात कहते हुए दायर याचिका को खारिज करते हुए सर्वोच्च न्यायालय ने याचिकाकर्ता को उच्च न्यायालय या संबंधित अधिकारियों से संपर्क करने के लिए कहा है।

बता दें कि हिंदू महापंचायत के बाद मुस्लिमों ने 18 जून 2023 को राजधानी देहरादून में महापंचायत करने की घोषणा की है। हालाँकि, तनाव को देखते हुए प्रशासन ने प्रस्तावित महापंचायत की अनुमति देने से इनकार कर दिया है। इसके साथ ही पुरोला में धारा 144 लागू कर दी गई है।

हिंदू संगठनों ने प्रशासन से महापंचायत की इजाजत माँगी थी, लेकिन प्रशासन ने कर दिया। इसके बाद इलाके में एक प्लाटून PAC को तैनात किया गया है। इलाके में चप्पे-चप्पे पर पुलिस को तैनात किया गया है। पुलिस ने कहा कि माहौल बिगाड़ने की कोशिश करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

राज्य के DGP अशोक कुमार ने कहा, “ज़िला पुलिस और प्रशासन पूरी तरह से सजग और सतर्क है। कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए जो भी आवश्यक कदम हैं, उन्हें उठाए जा रहे हैं। किसी को भी शांति भंग करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। जो भी कानून का उल्लंघन करेगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी”

वहीं, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा, “हमने लोगों से कहा है कि शांति व्यवस्था बनाए रखें। कोई कानून को अपने हाथों में ना ले। अभी तक जितनी भी घटनाएँ हुई हैं, प्रशासन ने उस पर सही तरह से काम किया है। अभी तक मारपीट या लूटपाट जैसी कोई घटना नहीं हुई है। अगर कोई दोषी होगा तो उसके खिलाफ कानून अपना काम करेगा।” 

बता दें कि उत्तरकाशी जिले के पुरोला में लव जिहाद की घटनाएँ लगातार देखने को मिल रही है। 26 मई 2023 को पुरोला कस्बे में उबैद नाम का एक मुस्लिम 9वीं कक्षा की एक नाबालिग हिंदू छात्रा को लेकर भागने की कोशिश कर रहा था। इस दौरान स्थानीय लोगों ने उसे पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया था। पुलिस ने पॉक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज कर आरोपित और उसके साथी को जेल भेज दिया था।

हालाँकि पुलिस कार्रवाई के बावजूद इस तरह की घटनाएँ थमने का नाम नहीं ले रही हैं। पुरोला के बाद से देहरादून, विकासनगर, डोईवाला, टिहरी सहित कई शहर और कस्बों में इस तरह के मामले सामने आए हैं। हालाँकि, पुलिस इन सभी मामलों में कार्रवाई कर रही है।

पुरोला और आसपास के इलाकों में लव जिहाद की बढ़ती घटनाओं के बाद पुरोला के लोग सड़कों पर उतर आए। स्थानीय लोगों ने अपने मुस्लिम किराएदारों से घरों को खाली करने के लिए कह दिया। बताया जा रहा है कि कुछ मुस्लिम दुकानदार वहाँ से चले भी गए हैं। इस घटना को लेकर इलाके में तनाव बान हुआ है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिस भोजशाला को मुस्लिम कहते हैं कमाल मौलाना मस्जिद, वह मंदिर ही है: ASI ने हाई कोर्ट को बताया- मंदिरों के हिस्से पर बने...

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट को सौंपी गई रिपोर्ट में ASI ने कहा है कि भोजशाला का वर्तमान परिसर यहाँ पहले मौजूद मंदिर के अवशेषों से बनाया गया था।

भारतवंशी पत्नी, हिंदू पंडित ने करवाई शादी: कौन हैं JD वेंस जिन्हें डोनाल्ड ट्रम्प ने चुना अपना उपराष्ट्रपति उम्मीदवार, हमले के बाद पूर्व अमेरिकी...

पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को रिपब्लिकन पार्टी के नेशनल कंवेंशन में राष्ट्रपति और सीनेटर JD वेंस को उपराष्ट्रपति उम्मीदवार चुना है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -