Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाजहॉस्टल में बुलाया, नंगा घुमाया, 3 दिनों तक रखा भूखा-प्यासा... टॉयलेट में मिला जिस...

हॉस्टल में बुलाया, नंगा घुमाया, 3 दिनों तक रखा भूखा-प्यासा… टॉयलेट में मिला जिस छात्र का शव उसे टॉर्चर करने का आरोप SFI के गुंडों पर, 6 गिरफ्तार

वायनाड के एक कॉलेज में पशु विज्ञान की पढ़ाई करने वाले छात्र जे एस सिद्धार्थ ने आत्महत्या कर ली थी। सिद्धार्थ को कॉलेज हॉस्टल के एक टॉयलेट में लटकता पाया गया था। पोस्टमॉर्टेम रिपोर्ट में बताया गया कि मौत से पहले सिद्धार्थ को बुरी तरीके से मारा पीटा गया था।

केरल के वायनाड में एक 20 वर्षीय छात्र जे एस सिद्धार्थ ने आत्महत्या कर ली। इस मामले में वामपंथी छात्र नेताओं पर मृतक को नग्न घुमाने, मारने पीटने, बेइज्जत करने और आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप लगे हैं। पुलिस ने इस मामले में 6 छात्रों को गिरफ्तार किया है। छात्र के पिता ने स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ़ इंडिया (SFI) के छात्र नेताओं पर हत्या के आरोप लगाए हैं।

जानकारी के अनुसार, 18 जनवरी, 2024 को वायनाड के एक कॉलेज में पशु विज्ञान की पढ़ाई करने वाले छात्र जे एस सिद्धार्थ ने आत्महत्या कर ली थी। सिद्धार्थ को कॉलेज हॉस्टल के एक टॉयलेट में लटकता पाया गया था। इसके बाद सिद्धार्थ की पोस्टमॉर्टेम रिपोर्ट में कई खुलासे हुए। रिपोर्ट में बताया गया कि मौत से पहले सिद्धार्थ को बुरी तरीके से मारा पीटा गया था। उसका पेट खाली था और शरीर पर घाव थे।

इसके बाद पुलिस ने इस मामले में अप्राकृतिक मौत का मामला दर्ज किया। इस मामले में 12 छात्रों को कॉलेज से निलंबित भी कर दिया गया। निलंबित किए जाने वालों में SFI के वामपंथी छात्र नेता भी हैं। सिद्धार्थ के पिता जयप्रकाश ने बताया है कि उनके बेटे को वामपंथी छात्रों ने काफी प्रताड़ित किया।

उन्होंने बताया कि सिद्धार्थ ने 14 फरवरी (वैलेंटाइन डे) के दिन एक छात्रा के साथ डांस किया था। वामपंथी छात्र इससे खीझ गए थे। वह अगले दिन घर लौटने वाला था। लेकिन इन SFI नेताओं ने बेटे को हॉस्टल में बुलाकर प्रताड़ित करना चालू किया। तीन दिनों तक लगातार उसे प्रताड़ित किया गया। उसे खाना पीना नहीं दिया गया। उसे रॉड से पीटा गया। उसको नंगा करके हॉस्टल में घुमाया गया और बेइज्जत किया गया। इसके बाद सिद्धार्थ के आत्महत्या की खबर आई।

सिद्धार्थ के पिता ने आरोप लगाया कि उसकी मौत की खबर से दो घंटे पहले उसने फ़ोन किया था। उसने आत्महत्या नहीं की बल्कि उसे मार कर लटकाया गया है। पुलिस ने इस मामले में 6 छात्रों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए छात्रों के नाम बिलगेट जोशुआ, एस अभिषेक, दोंस्दाई, रहना बिनॉय, एसडी आकाश और आरडी श्रीहरी हैं। पुलिस ने इस मामले में FIR दर्ज करते हुए 12 छात्रों को मुख्य आरोपित बनाया हैं। कई आरोपित अभी भी फरार हैं जिनमें SFI के छात्रनेता शामिल हैं।

मृतक सिद्धार्थ के पिता का कहना है कि आरोपित छात्र सत्ताधारी वामपंथी संगठनों से जुड़े हुए हैं इसलिए इस मामले में कार्रवाई नहीं की जा रही। आज (29 फरवरी, 2024) को इस मामले के एक मुख्य आरोपित अखिल को आज पलक्कड से गिरफ्तार किया है। इस मामले में केरल में विपक्षी दलों ने भी सरकार पर ढिलाई बरतने का आरोप लगाया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

10 साल का इस्कॉन, 30 साल का युवक और न्यूयॉर्क में पहली रथयात्रा… जब महाप्रभु जगन्नाथ का प्रसाद ग्रहण कर डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा...

कंपनी ने तब कहा कि ये जमीन बिकने वाली है और करार के तहत अब इसके नए मालिकों के ऊपर है कि वो ये जमीन देते हैं या नहीं। नए मालिक डोनाल्ड ट्रम्प ही थे।

ट्रेनी IAS पूजा खेडकर की ऑडी सीज, ऊटपटांग माँगों के बचाव में रिटायर्ड IAS बाप: रिवॉल्वर लहराने पर FIR के बाद लाइसेंस रद्द करने...

ट्रेनिंग के दौरान ही VIP सुविधाओं के लिए नखरा करने वाली IAS पूजा खेडकर की करस्तानियों का उनके पिता दिलीप खेडकर ने बचाव किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -