Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजPFI की महिला जासूस, अदालत की रेकी... इंदौर के कोर्ट में वकील के ड्रेस...

PFI की महिला जासूस, अदालत की रेकी… इंदौर के कोर्ट में वकील के ड्रेस में धराई सोनू मंसूरी, हिन्दू कार्यकर्ताओं पर रख रही थी नजर

पूछताछ में आरोपित महिला ने बताया कि वह वीडियो महिला वकील नूरजहाँ के कहने पर बना रही थी। महिला जासूस के मोबाइल में कोर्ट कार्रवाई का वीडियो भी मिला।

मध्य प्रदेश के इंदौर में पुलिस ने कोर्ट की कार्रवाई की वीडियो बना कर उसे प्रतिबंधित संगठन PFI (पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इंडिया) तक पहुँचाने के आरोप में एक 23 वर्षीया महिला को गिरफ्तार किया है। महिला का नाम सोनू मंसूरी है जो अदालत में वकील की ड्रेस में आई थी। जब महिला को गिरफ्तार किया गया था तब पठान फिल्म के विरोध के दौरान आपत्तिजनक नारे लगाने के आरोप में पकड़े गए हिन्दू संगठन से जुड़े कार्यकर्ताओं की सुनवाई चल रही थी। इस मामले में एक अन्य महिला वकील नूरजहाँ पर भी FIR दर्ज हुई है। नूरजहाँ पर आरोपित सोनू मंसूरी को अपने साथ कोर्ट में लाने का आरोप है। घटना शनिवार (28 जनवरी 2023) की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मामला एम जी रोड का है। दरअसल शनिवार को ‘पठान’ फिल्म के विरोध के दौरान कस्तूरी सिनेमा पर आपत्तिजनक नारे लगाने के आरोप में गिरफ्तार हिन्दू संगठन से जुड़े कार्यकर्ताओं की कोर्ट में पेशी थी। इस पेशी दौरान एक महिला चल रही कोर्ट कार्रवाई की वीडियो बना रही थी। आस-पास मौजूद अन्य वकीलों की नजर उस महिला पर गई तो उन्होंने उस से पूछताछ की। इस दौरान वीडियो बनाने वाली महिला कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे पाई।

महिला वकील की ड्रेस में थी। पूछताछ में आरोपिता ने बताया कि वह वीडियो महिला वकील नूरजहाँ के कहने पर बना रही थी। लड़की के मोबाइल में कोर्ट कार्रवाई का वीडियो भी मिला। बाद में पुलिस को मामले की सूचना दी गई। बताया जा रहा है कि लड़की ने पुलिस के आगे कबूल किया कि वह प्रतिबंधित पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इंडिया (PFI) के इशारे पर ऐसा कर रही थी। तलाशी के दौरान लड़की के पास से 1 लाख 16 हजार रुपए नकद मिलने की भी जानकारी है। पुलिस द्वारा मंसूरी का फोन जब्त कर लिया गया है जिसमें कई अन्य आत्तिजनक वीडियो मिलने की बात कही जा रही है।

महिला वकील की ड्रेस में थी। पूछताछ में आरोपित महिला ने बताया कि वह वीडियो महिला वकील नूरजहाँ के कहने पर बना रही थी। महिला जासूस के मोबाइल में कोर्ट कार्रवाई का वीडियो भी मिला। बाद में पुलिस को मामले की सूचना दी गई। बताया जा रहा है कि लड़की ने पुलिस के आगे कबूल किया कि वह प्रतिबंधित पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इंडिया (PFI) के इशारे पर ऐसा कर रही थी। तलाशी के दौरान लड़की के पास से 1 लाख 16 हजार रुपए नकद मिलने की भी जानकारी है। मंसूरी ने पुलिस के आगे यह भी माना कि वह वकील नहीं है। कोर्ट की घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है।

हालाँकि सोनू मंसूरी के पास बरामद हुए पैसों को ले कर अलग-अलग दावे किए जा रहे हैं। वहीं दावा ये भी है कि अरोपिता के पास से फर्जी कागजात भी बरामद हुए हैं। अभिभाषक संघ के सदस्य सुरेन्द्र सिंह की शिकायत पर फर्जी वकील सोनू मंसूरी (23) पिता सुपडु मंसूरी निवासी सुनिकेत अपार्टमेंट आंनद बाजार, इंदौर और वकील नूरजहाँ के खिलाफ 410, 420 और 120 बी के तहत FIR दर्ज हुई है। घटना के बाद दूसरी आरोपिता महिला वकील नूरजहाँ फरार चल रहीं हैं जिनकी तलाश पुलिस कर रही है। मूल रूप से भोपाल की रहने वाली नूरजहाँ इंदौर बार एसोशिएशन का चुनाव भी लड़ चुकी हैं और PFI से जुडी बताई जा रहीं हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

टीम से बाहर होने पर मोहम्मद शमी का वायरल वीडियो, कहा – किसी के बाप से कुछ नहीं लेता हूँ, बल्कि देता हूँ

"मुझे मौका दोगे तभी तो मैं अपनी स्किल दिखाऊँगा, जब आप हाथ में गेंद दोगे। मैं सवाल नहीं पूछता। जिसे मेरी ज़रूरत है, वो मुझे मौका देगा।"

थूक लगी रोटी सोनू सूद को कबूल है, कबूल है, कबूल है! खुद की तुलना भगवान राम से, खाने में थूकने वाले उनके लिए...

“हमारे श्री राम जी ने शबरी के जूठे बेर खाए थे तो मैं क्यों नहीं खा सकता। बस मानवता बरकरार रहनी चाहिए। जय श्री राम।” - सोनू सूद

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -