Wednesday, July 24, 2024
Homeराजनीतिराहुल जी से टाइम माँगते हैं तो वह कहते हैं मैं अध्यक्ष नहीं हूँ:...

राहुल जी से टाइम माँगते हैं तो वह कहते हैं मैं अध्यक्ष नहीं हूँ: कॉन्ग्रेस को बचाने की सिंघवी ने लगाई गुहार, कहा- जल्द चुने नया अध्यक्ष

सिंघवी ने कहा कि अगर राहुल गॉंधी कॉन्ग्रेस की कमान नहीं सॅंभालना चाहते हैं तो उनकी जगह किसी और को पार्टी अध्यक्ष चुना जाना चाहिए। राहुल ने 2019 के आम चुनावों में पार्टी की करारी शिकस्त के बाद अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था।

राहुल गॉंधी के तौर-तरीकों की शिकायत करते हुए पूर्व में भी कई लोग कॉन्ग्रेस छोड़ चुके हैं। अब पार्टी के वरिष्ठ नेता और सांसद अभिषेक मनु सिंघवी ने इस तरफ इशारा किया है। उन्होंने पार्टी को बचाने के लिए जल्द अध्यक्ष चुने जाने की गुहार लगाई है।

सिंघवी ने सत्य हिंदी को दिए साक्षात्कार में कहा कि अगर राहुल गॉंधी कॉन्ग्रेस की कमान नहीं सॅंभालना चाहते हैं तो उनकी जगह किसी और को पार्टी अध्यक्ष चुना जाना चाहिए। राहुल ने 2019 के आम चुनावों में पार्टी की करारी शिकस्त के बाद अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। काफी मान-मनौव्वल के बाद भी जब वे दोबारा जिम्मेदारी सॅंभालने को तैयार नहीं हुए तो सोनिया गॉंधी को अंतरिम अध्यक्ष चुन लिया गया। सोमवार को बतौर अंतरिम अध्यक्ष साल भर हो जाएँगे।

सिंघवी का यह साक्षात्कार ऐसे वक्त में सामने आया है जब कॉन्ग्रेस के अस्तित्व पर संकट मॅंडरा रहा है। स्थायी अध्यक्ष न होने के कारण उसके सामने निलंबन और पार्टी का चुनाव चिह्न जब्त होने का खतरा है। इस साल की शुरुआत में मध्य प्रदेश में सरकार गॅंवाने वाली पार्टी के सामने यही खतरा राजस्थान में है। झारखंड की गठबंधन सरकार में भी सब कुछ ठीकठाक नहीं चल रहा। यहॉं तक कि पंजाब में भी कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व पर सांसद प्रताप सिंह बाजवा लगातार सवाल उठा रहे हैं।

सिंघवी से जब कॉन्ग्रेस अध्यक्ष के चुनाव को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, “अभी हमारी हालत ख़राब है, लेकिन हार के बाद भी यह कहना गलत होगा कि वे (राहुल गॉंधी) दोबारा नहीं हो सकते। हम कह रहे हैं कि राहुल गाँधी आएँ और अगर वो नहीं आना चाहते, उनकी ज़िद है तो फिर इस पर फ़ैसला करके नए अध्यक्ष को चुना जाए, यह अनिश्चितता नहीं रहनी चाहिए। इससे नुक़सान हो सकता है। कुछ हफ्तों में हल निकलेगा। कोई तो आएगा ही और चुनाव के रास्ते आएगा।”

यह पूछे जाने पर कि क्या गॉंधी परिवार के बिना कॉन्ग्रेस का काम चल सकता है सिंघवी ने कहा, “राहुल गाँधी पिछले एक साल से अध्यक्ष नहीं हैं कॉन्ग्रेस का काम चल रहा है। सोनिया जी अंतरिम अध्यक्ष के तौर पर काम कर रही हैं, बल्कि कई बार राहुल जी के पास टाइम माँगते हैं तो वह कहते हैं कि मैं अध्यक्ष नहीं हूँ। लेकिन प्रकृति हो या पार्टी, कहीं भी वैक्यूम नहीं रह सकता, लेकिन यह लॉन्ग टाइम विकल्प नहीं है।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मेरे बेटे को मार डाला’: आधुनिक पश्चिमी सभ्यता ने दुनिया के सबसे अमीर शख्स को भी दे दिया ऐसा दर्द, कहा – Woke वाले...

लिंग-परिवर्तन कराने वाले को उसके पुराने नाम से पुकारना 'Deadnaming' कहलाता है। उन्होंने कहा कि इसका अर्थ है कि उनका बेटा मर चुका है।

‘बंद ही रहेगा शंभू बॉर्डर, JCB लेकर नहीं कर सकते प्रदर्शन’: सुप्रीम कोर्ट ने ‘आंदोलनजीवी’ किसानों को दिया झटका, 15 अगस्त को दिल्ली कूच...

सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब और हरियाणा के बीच शंभू बॉर्डर को अभी बंद ही रखने का आदेश दिया है। कोर्ट ने कहा किसान JCB लेकर प्रदर्शन नहीं कर सकते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -