Sunday, July 14, 2024
Homeराजनीतिकोर्ट में बोले केजरीवाल- मैंने सिसोदिया का नहीं लिया नाम, CBI ने कहा था-...

कोर्ट में बोले केजरीवाल- मैंने सिसोदिया का नहीं लिया नाम, CBI ने कहा था- दिल्ली के CM ने नई शराब नीति को मनीष का आइडिया बताया

केजरीवाल की गिरफ्तारी के लिए सीबीआई का कारण यह था कि वह उस कैबिनेट का हिस्सा थे जिसने शराब नीति को मंजूरी दी थी। उसमें बदलाव किए गए और थोक विक्रेताओं के लिए प्रॉफिट मार्जिन 5 फीसदी से बढ़ाकर 12 फीसदी कर दिया गया।

दिल्ली शराब घोटाला केस में सीबीआई ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार कर लिया है। इस बीच, सीबीआई ने कोर्ट में दिल्ली की शराब नीति को लेकर बड़ा दावा किया है। सीबीआई ने कहा है कि अरविंद केजरीवाल ने पूछताछ में दिल्ली की शराब नीति की जिम्मेदारी मनीष सिसोदिया पर डाली है। वहीं, कुछ मीडिया रिपोर्ट में अरविंद केजरीवाल ने कोर्ट में कहा है कि मनीष सिसोदिया पर जिम्मेदारी डालने से जुड़ी जो खबरें मीडिया में चल रही हैं, वो गलत हैं।

आजतक की रिपोर्ट के मुताबिक, सीबीआई ने कहा कि केजरीवाल ने विजय नायर से संबंधों पर पलड़ा झाड़ने की कोशिश की है। उन्होंने सीबीआई से कहा कि विजय नायर ने उनके साथ काम नहीं किया बल्कि उसने आतिशी और सौरभ भारद्वाज के तहत काम किया था। सीबीआई का दावा है कि इस तरह केजरीवाल ने दिल्ली एक्साइज पॉलिसी की पूरी जिम्मेदारी मनीष सिसोदिया पर डाल दी। केजरीवाल ने कहा कि एक्साइज पॉलिसी का आइडिया उनका नहीं बल्कि मनीष सिसोदिया का था। उन्होंने सारा दोष मनीष सिसोदिया पर डालते हुए कहा कि उन्हें आबकारी नीति के बारे में कोई जानकारी नहीं है।

सीबीआई ने कोर्ट में कहा कि 16 मार्च 2021 को एक शराब कारोबारी से संपर्क किया गया। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने शराब नीति को लेकर उससे मुलाकात की। केजरीवाल ने 16 मार्च को सचिवालय में मगुंटा रेड्डी से पहली बार मुलाकात की। रेड्डी ने केजरीवाल से मुलाकात कर शराब नीति को लेकर सपोर्ट माँगा था, इस पर केजरीवाल ने मदद का आश्वासन दिया लेकिन उनसे आम आदमी पार्टी को फंड देने को कहा।

मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि सीबीआई ने बताया कि अरविंद केजरीवाल ने ही मंगुटा रेड्डी से कहा था कि वो बीआरएस की नेता के. कविता से बात करें। इसके बाद 19 मार्च 2021 को कविता ने रेड्डी से संपर्क किया और उनसे हैदराबाद में मिलने को कहा। हैदराबाद में कविता ने रेड्डी से पचास करोड़ की माँग की। रेड्डी को बताया गया कि वे पहले से ही नई शराब नीति पर काम कर रहे हैं और उनसे इस पॉलिसी पर साथ मिलकर काम करने को कहा गया। ये सब मुख्यमंत्री केजरीवाल की जानकारी और उनके निर्देश पर हुआ।

केजरीवाल की गिरफ्तारी के लिए सीबीआई का कारण यह था कि वह उस कैबिनेट का हिस्सा थे जिसने शराब नीति को मंजूरी दी थी। उसमें बदलाव किए गए और थोक विक्रेताओं के लिए प्रॉफिट मार्जिन 5 फीसदी से बढ़ाकर 12 फीसदी कर दिया गया।

इस बीच, कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि अरविंद केजरीवाल ने मनीष सिसोदिया पर जिम्मेदारी डालने की खबरों का खंडन किया है। न्यूज18 के मुताबिक, “अरविंद केजरीवाल ने कोर्ट में कहा है कि’ मीडिया में चल रहा है कि मैंने सारा दोष मनीष सिसोदिया पर डाल दिया है। मैंने ऐसा कोई बयान नहीं दिया है।'”

बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बुधवार (26 जून 2024) को सीबीआई ने गिरफ्तार कर लिया। सीबीआई ने अरविंद केजरीवाल को तिहाड़ जेल से लाकर कोर्ट में पेश किया और अपनी दलीलें देकर कोर्ट की अनुमति से अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार कर लिया। सीबीआई ने कोर्ट से अरविंद केजरीवाल की 5 दिन की कस्टडी माँगी है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जगन्नाथ मंदिर के ‘रत्न भंडार’ और ‘भीतरा कक्ष’ में क्या-क्या: RBI-ASI के लोगों के साथ सँपेरे भी तैनात, चाबियाँ खो जाने पर PM मोदी...

कहा जाता है कि इसकी चाबियाँ खो गई हैं, जिस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सवाल उठाया था। राज्य में भाजपा की पहली बार जीत हुई है, वर्षों से यहाँ BJD की सरकार थी।

मांस-मछली से मुक्त हुआ गुजरात का पालिताना, इस्लाम और ईसाइयत से भी पुराना है इस शहर का इतिहास: जैन मंदिर शहर के नाम से...

शत्रुंजय पहाड़ियों की यह पवित्रता और शीर्ष पर स्थित धार्मिक मंदिर, साथ ही जैन धर्म का मूल सिद्धांत अहिंसा है जो पालिताना में मांस की बिक्री और खपत पर प्रतिबंध लगाने की मांग का आधार बनता है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -