Wednesday, July 24, 2024
HomeराजनीतिBBC की प्रोपेगेंडा डॉक्यूमेंट्री पर दिल्ली से पुदुच्चेरी तक बवाल काट रहे वामपंथी, ABVP...

BBC की प्रोपेगेंडा डॉक्यूमेंट्री पर दिल्ली से पुदुच्चेरी तक बवाल काट रहे वामपंथी, ABVP ने हैदराबाद यूनिवर्सिटी में दिखाई कश्मीर फाइल्स

TISS के प्रोग्रेसिव स्टूडेंट्स फोरम ने भी 28 जनवरी को प्रोपेगेंडा यूनिवर्सिटी की स्क्रीनिंग का ऐलान किया है। हालाँकि टीआईएसएस मैनेजमेंट ने अब तक इसके लिए अनुमति नहीं दी है।

प्रतिबंध के बावजूद बीबीसी की प्रोपेंगेंडा डॉक्यूेंट्री की स्क्रीनिंग को लेकर देश के कई हिस्सों में वामपंथियों का बवाल देखने को मिला है। पुदुच्चेरी, जादवपुर और हैदराबाद यूनिवर्सिटी में इसकी स्क्रीनिंग हुई है। TISS ने भी स्क्रीनिंग का ऐलान किया है। कई जगहों पर झड़प की भी खबर है। हैदराबाद यूनिवर्सिटी में एबीवीपी की ओर से ‘द कश्मीर फाइल्स’ दिखाई गई है।

डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग को लेकर हैदराबाद विश्वविद्यालय लगातार चर्चा में रहा है। गुरुवार (26 दिसंबर 2023) को स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI) ने विश्विद्यालय परिसर में बिना अनुमति डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग की। इसका विरोध करने के लिए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) ने द कश्मीर फाइल्स की स्क्रीनिंग की। इस स्क्रीनिंग को लेकर हैदराबाद विश्वविद्यालय द्वारा कहा गया है कि कोई भी अप्रिय घटना नहीं हुई। वहीं, ABVP के छात्रों ने विश्वविद्यालय के गार्ड्स पर मारपीट का आरोप लगाया है।

प्रोग्रेसिव स्टूडेंट्स फोरम ने मुंबई के टाटा इंस्टीट्यूट और सोशल साइंसेज (TISS) में भी बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री दिखाने का ऐलान किया है। प्रोग्रेसिव स्टूडेंट्स फोरम ने कहा है कि वह शनिवार (28 जनवरी 2023) को इसकी स्क्रीनिंग करेगा। हालाँकि टीआईएसएस मैनेजमेंट ने अब तक इसके लिए अनुमति नहीं दी है।

वामपंथी छात्र संगठन ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (AISA) ने अंबेडकर विश्विद्यालय में जामिया मिल्लिया इस्लामिया व जेएनयू के छात्रों समर्थन में विरोध प्रदर्शन करने का ऐलान किया। यह प्रदर्शन जामिया मिल्लिया इस्लामिया में डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग के दौरान पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई के विरोध में शुक्रवार (27 जनवरी 2023) को होना है।

पश्चिम बंगाल के कोलकाता में स्थित जादवपुर यूनिवर्सिटी में भी गुरुवार (26 जनवरी 2023) को डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग हुई। पुदुच्चेरी विश्वविद्यालय में स्क्रीनिंग के दौरान SFI और ABVP के बीच हिंसक झड़प में 5 छात्रों के घायल होने की खबर है। इससे पहले जेएनयू और जामिया में भी डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग को लेकर विवाद देखने को मिला था।

दरअसल, इस डॉक्यूमेंट्री में BBC ने गुजरात दंगों का दोष वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर डालने की कोशिश की है। यही नहीं, उनकी छवि इस्लाम विरोधी भी दिखाने की कोशिश की है। दो पार्ट में बनाई गई BBC की इस सीरीज में प्रधानमंत्री मोदी और भारत के मुस्लिमों के बीच तनाव की बात कही गई है। बीबीसी ने मोदी सरकार के देश के मुस्लिमों के प्रति रवैए, कथित विवादित नीतियाँ, कश्मीर के विशेष दर्जे को खत्म करने और नागरिकता कानून को लेकर भी सवाल उठाए गए हैं। BBC की डॉक्यूमेंट्री पर सरकार ने सख्त रुख अपनाया है। सरकार के आदेश के बाद ट्विटर और यूट्यूब से डॉक्यूमेंट्री से संबंधित लिंक हटाए जा रहे हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -