Tuesday, July 27, 2021
Homeराजनीतिमहाराष्ट्र कॉन्ग्रेस अध्यक्ष ने जताई थी मुख्यमंत्री बनने की इच्छा, भड़के संजय राउत ने...

महाराष्ट्र कॉन्ग्रेस अध्यक्ष ने जताई थी मुख्यमंत्री बनने की इच्छा, भड़के संजय राउत ने कहा- उद्धव ही रहेंगे CM

2.5 सालों में महाराष्ट्र में शिवसेना के मुख्यमंत्री के बदले जाने की अफवाहों पर प्रतिक्रिया देते हुए संजय राउत ने कहा कि जब महाराष्ट्र में 3 पार्टियों ने मिलकर सरकार बनाई थी, तब उन्होंने प्रतिबद्धता जाहिर की थी और यह निर्णय लिया था कि....

“जब तीन पार्टियों ने सरकार मिलकर बनाई थी तब यही फैसला किया गया था कि उद्धव ठाकरे पूरे 5 साल तक महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री रहेंगे।“ यह बात कही है शिवसेना के वरिष्ठ नेता और सांसद संजय राउत ने।

2.5 सालों में महाराष्ट्र में शिवसेना के मुख्यमंत्री के बदले जाने की अफवाहों पर प्रतिक्रिया देते हुए संजय राउत ने कहा कि जब महाराष्ट्र में 3 पार्टियों ने मिलकर सरकार बनाई थी, तब उन्होंने प्रतिबद्धता जाहिर की थी और यह निर्णय लिया था कि उद्धव ठाकरे ही पूरे 5 सालों तक महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री होंगे। राउत ने कहा कि यदि कोई मुख्यमंत्री बदले जाने की बात कर रहा है तो यह झूठ है और अफवाह है।

राउत ने यह भी कहा कि 3 पार्टियों का एक साथ आना मर्जर (विलय) नहीं था बल्कि एक गठबंधन था और सभी पार्टियाँ अपना विस्तार करने के लिए स्वतंत्र हैं। राउत ने यह भी कहा कि वो हर चुनाव साथ लड़ने के लिए प्रतिबद्ध नहीं हैं। उन्होंने कहा कि स्थानीय चुनावों के बारे में फैसला स्थानीय नेता ही करेंगे और वो केवल लोकसभा और राज्य के चुनावों पर ही रणनीतियाँ बनाते हैं।

नासिक में चर्चा करते हुए संजय राउत ने कहा कि जब मुख्यमंत्री को लेकर तीनों पार्टियों के विधायकों की चर्चा हो रही थी तब वो वहाँ उपस्थित थे और वह इस बात के साक्षी हैं कि सभी ने इस बात पर मुहर लगाई थी कि उद्धव ठाकरे ही पूरे 5 साल मुख्यमंत्री रहेंगे इसलिए किसी और के मुख्यमंत्री बनने का कोई प्रश्न ही नहीं उठता है।

ज्ञात हो कि महाराष्ट्र प्रदेश कॉन्ग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नाना पटोले ने कहा था कि उनकी इच्छा मुख्यमंत्री बनने की है। इस पर अपनी राय रखते हुए संजय राउत ने कहा कि कॉन्ग्रेस में कई ऐसे नेता हैं जो मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री भी बन सकते हैं। यह राजनीति है और यहाँ बड़े सपने और बड़ी इच्छाएं रखना गलत नहीं है।

इससे पहले संजय राउत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी तारीफ कर चुके हैं। उन्होंने कहा था कि इस समय नरेंद्र मोदी ही देश और भाजपा के सबसे बड़े नेता हैं। उन्होंने यह भी कहा था कि भाजपा ने अपनी सर्वोच्च सफलता नरेंद्र मोदी के पिछले 7 साल के कार्यकाल के दौरान ही हासिल की है। संजय राउत का यह बयान तब आया था जब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दिल्ली में पीएम मोदी से व्यक्तिगत मुलाकात की थी।

हालाँकि संजय राउत ने उद्धव ठाकरे के मुख्यमंत्री बने रहने की बात तब कही है जब मराठी दैनिक तरुण भारत ने रिपोर्ट छापी थी। इसमें बताया गया था कि पवार को अब पछतावा हो रहा है और उन्हें लगता है कि उद्धव ठाकरे को सीएम बनाना ‘भारी भूल’ थी।

रिपोर्ट में कहा गया था कि उद्धव ठाकरे द्वारा शरद पवार के फोन कॉल का जवाब नहीं देने के बाद, एनसीपी प्रमुख ने संजय राउत के सामने इस बात को स्वीकारा था कि उन्होंने ठाकरे को महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनाकर बहुत बड़ी गलती कर दी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,362FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe