Saturday, July 31, 2021
Homeराजनीतिसंघियों को बलात्कारी बताने वाले कॉन्ग्रेस नेता पंकज पुनिया 14 दिनों की न्यायिक हिरासत...

संघियों को बलात्कारी बताने वाले कॉन्ग्रेस नेता पंकज पुनिया 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजे गए

पंकज पुनिया के ख़िलाफ़ उत्तर प्रदेश के हजरतगंज और नोएडा पुलिस ने आईटी एक्ट सहित कई मामलों में FIR दर्ज हुई थी। हजरतगंज में उनके खिलाफ धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने के मामले में केस दर्ज हुआ था। वहीं, नोएडा में कॉन्ग्रेस नेता के खिलाफ़ धारा 295ए, 500, 505, 153ए और 66 आईटी एक्ट के तहत दर्ज किया गया था।

कॉन्ग्रेस नेता पंकज पुनिया को हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के आरोप में 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। इस बात की जानकारी न्यूज नेशन के कंसल्टिंग एडिटर दीपक चौरसिया ने अपने ट्वीट के जरिए दी है।

दीपक चौरसिया ने ट्वीट में लिखा है, “पंकज पुनिया को एक आपत्तिजनक पोस्ट के माध्यम से ‘धार्मिक भावनाएँ आहत करने’ के आरोप में कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। कॉन्ग्रेस नेता के ट्वीट के बाद आरएसएस और बीजेपी कार्यकर्ताओं में रोष था, जिसको लेकर कॉन्ग्रेस नेता के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई थी।”

उल्लेखनीय है कि कॉन्ग्रेस नेता पंकज पुनिया को हरियाणा के करनाल से गिरफ्तार किया गया था। उनकी गिरफ्तारी सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी के मामले में हुई थी। कॉन्ग्रेस नेता ने प्रभु श्रीराम का अपमान किया था और संघियों को बलात्कारी बताया था।

पंकज पुनिया ट्वीट योगी

इस ट्वीट के बाद पुनिया के ख़िलाफ़ उत्तर प्रदेश के हजरतगंज और नोएडा पुलिस ने आईटी एक्ट सहित कई मामलों में FIR दर्ज हुई थी। हजरतगंज में उनके खिलाफ धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने के मामले में केस दर्ज हुआ था। वहीं, नोएडा में कॉन्ग्रेस नेता के खिलाफ़ धारा 295ए, 500, 505, 153ए और 66 आईटी एक्ट के तहत दर्ज किया गया था।

बता दें, पंकज पुनिया से पहले यूपी के कॉन्ग्रेस अध्यक्ष अजय लल्लू को भी 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया था। लल्लू की गिरफ्तारी बुधवार को प्रवासी मजदूरों के लिए बसों के इंतजाम को लेकर उपजे विवाद के कारण हुई थी।

पुनिया पर जहाँ ट्वीट में  ‘संघियों’ को बलात्कारी बताने, श्रीराम के नाम का गलत इस्तेमाल करने और योगी सरकार की आलोचना भद्दे तरीके से करने का आरोप है। अजय लल्लू समेत प्रियंका गाँधी के निजी सचिव संदीप सिंह पर धोखाधड़ी का आरोप है। इनके ख़िलाफ़ शिकायत मंगलवार को दर्ज हुई थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पेगासस: ‘खोजी’ पत्रकारिता का भ्रमजाल, जबरन बयानबाजी और ‘टाइमिंग’- देश के खिलाफ हर मसाले का प्रयोग

दुनिया भर में कुल जमा 23 स्मार्टफोन में 'संभावित निगरानी' को लेकर ऐसा बड़ा हल्ला मचा दिया गया है, मानो 50 देशों की सरकारें पेगासस के ज़रिए बड़े पैमाने पर अपने नागरिकों की साइबर जासूसी में लगी हों।

पिता ने उधार लेकर करवाई हॉकी की ट्रेनिंग, निधन के बाद अंतिम दर्शन भी छोड़ा: अब ओलंपिक में इतिहास रच दी श्रद्धांजलि

वंदना कटारिया के पिता का सपना था कि भारतीय महिला हॉकी टीम ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीते। बचपन में पिता ने उधार लेकर उन्हें हॉकी की ट्रेनिंग दिलवाई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,211FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe