Wednesday, July 17, 2024
Homeराजनीति'पुलवामा में शहीदों को मरवा कर PM मोदी ने माँगे वोट': कॉन्ग्रेस नेता उदित...

‘पुलवामा में शहीदों को मरवा कर PM मोदी ने माँगे वोट’: कॉन्ग्रेस नेता उदित राज की आपत्तिजनक टिप्पणी, पटना हाईकोर्ट के जज को भी बताया ‘जातिवादी’

"पुलवामा में शहीदों को मरवाकर मोदी जी ने उन्हीं के नाम पर वोट माँगा था। कर्नाटक में बजरंग बली के नाम पर मोदी जी ने वोट माँगा है।"

कॉन्ग्रेस नेता उदित राज ने प्रधानमंत्री के साथ-साथ न्यायपालिका पर भी विवादित बयान दिया है। उन्होंने शुक्रवार (5 मई, 2023) को की गई एक ट्वीट में लिखा, “पुलवामा में शहीदों को मरवाकर मोदी जी ने उन्हीं के नाम पर वोट माँगा था। कर्नाटक में बजरंग बली के नाम पर मोदी जी ने वोट माँगा है। सत्ता के लिए कुछ भी! भगवान को तो बख्श दो!” बता दें कि पुलवामा में आतंकी हमले में 40 भारतीय जवान बलिदान हुए थे।”

इसके अलावा उदित राज ने शुक्रवार को ही न्यायपालिका पर भी आपत्तिजनक टिप्पणी की। उन्होंने लिखा, “पटना हाईकोर्ट के जज जातिवादी हैं। ये कैसे जाति जनगणना पर रोक लगा सकते हैं। क्या चुनी हुई सरकार की भूमिका यही निभाएँगे?” बता दें कि बिहार सरकार 500 रुपए खर्च कर के जाति जनगणना करा रही है, जिसके खिलाफ पटना हाईकोर्ट में याचिका दायर कर के इसे लोगों की जनता का उल्लंघन और करदाताओं के पैसे की बर्बादी बताया गया था।”

पटना हाईकोर्ट ने सुनवाई करते हुए इस पर त्वरित रूप से रोक लगा दी। अब इसके बाद न्यायपालिका पर टिप्पणी करते हुए ‘Unorganized Workers & Employees Congress (KKC)’ के अध्यक्ष उदित राज ने जजों को ही जातिवादी करार दिया है। वहीं पुलवामा पर उन्होंने पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक द्वारा फैलाए गए प्रोपेगंडा को आगे बढ़ाते हुए आपत्तिजनक टिप्पणी की है। भागलपुर के कॉन्ग्रेस विधायक अजित शर्मा ने भी ऐसा ही बयान दिया था।

प्रधानमंत्री और न्यायपालिका पर कॉन्ग्रेस नेता उदित राज की आपत्तिजनक टिप्पणी

हाल ही में ये पहला मौका नहीं है, जब उदित राज ने इस तरह के बयान दिए हों। मनरेगा के नाम पर आयोजित एक विरोध प्रदर्शन के आयोजन के बाद उन्होंने अपनी तस्वीर शेयर करते हुए लिखा था,  “जो भी मोदी भक्त होगा, मारा जाएगा।” 2014 में भाजपा के ही टिकट पर नॉर्थ-वेस्ट दिल्ली से सांसद चुने गए उदित राज का 2019 में टिकट कट गया था, जिसके बाद उन्होंने कॉन्ग्रेस का दामन थाम लिया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ उलूल-जलूल बकने लगे। 

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -