Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीतिप्रियंका गाँधी के साथ UP कॉन्ग्रेस अध्यक्ष नाव से गंगा के रास्ते जा रहे...

प्रियंका गाँधी के साथ UP कॉन्ग्रेस अध्यक्ष नाव से गंगा के रास्ते जा रहे थे रामघाट, लहरों में जा गिरे

प्रियंका गाँधी से साथ यूपी कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू भी थे। ये नाव से गंगा के रास्ते जा रहे थे। नाव पर चढ़ते समय संतुलन बिगड़ने से पाँव फिसला और वो गंगा में गिर गए।

कॉन्ग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव व यूपी प्रभारी प्रियंका गाँधी शुक्रवार (जनवरी 10, 2019) को वाराणसी पहुँचीं। वो यहाँ पर नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) के खिलाफ गिरफ्तार हुए लोगों से मिलने गईं थीं। उन्होंने पहले राजघाट पर स्थित रविदास मंदिर में दर्शन किया। इसके बाद वह नाव से गंगा के रास्ते रामघाट पहुँचीं।

इस दौरान प्रियंका के साथ नाव पर जाते वक्त यूपी कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू गंगा की लहरों में जा गिरे। नाव पर चढ़ते समय संतुलन बिगड़ गया, जिससे अजय सिंह का पाँव फिसला और वो गंगा में गिर गए। हालाँकि वहाँ मौजूद सुरक्षाकमिर्यों और कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने उन्हें तुरंत संभाल लिया। 

रविदास मंदिर में दर्शन करने के बाद प्रियंका गाँधी ने विजिटर बुक में लिखा, “मैं लंबे समय से यहाँ आना चाहती थी। रविदास मंदिर में दर्शन करने की मेरी इच्छा आज पूरी हो गई है। रविदास समुदाय के लोगों और मंदिर के सभी सेवादारों को बहुत-बहुत बधाई और धन्यवाद।” इसके बाद उन्होंने काशी विश्वनाथ मंदिर में भी दर्शन किया।

इस दौरान प्रियंका गाँधी ने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के सामाजिक कार्यकर्ताओं और छात्रों समेत 59 लोगों से मिली, जो कि 19 दिसंबर 2019 को सीएए के खिलाफ विरोध करने को लेकर जेल गए थे। हाल ही में वो जमानत पर रिहा हुए थे। प्रियंका गाँधी ने कहा कि कॉन्ग्रेस पार्टी एक ऐसी लीगल सेल बनाएगी, जो सीएए के विरोध में देश भर में जेल जाने वाले लोगों को मुकदमा लड़ने में न्यायिक सहायता दे सके। आगे प्रियंका ने कहा कि CAA के विरोध में जेल जाने वालों के साथ उनकी पार्टी खड़ी है। कॉन्ग्रेस पार्टी की सरकार आएगी तो सभी के मुकदमे खत्म किए जाएँगे। इस समय मुकदमा लड़ने में कॉन्ग्रेस पार्टी मदद करेगी। 

हालाँकि, इस दौरान कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं और मीडिया को मंदिर से दूर रखा गया, जिसका कॉन्ग्रेसी कार्यकर्ताओं ने विरोध किया। कार्यकर्ताओं ने अपनी ही पार्टी के नेताओं पर आरोप लगाया कि वे उन्हें प्रियंका से मिलने नहीं दे रहे। पंचगंगा घाट और राजघाट पर प्रियंका गाँधी से मिलने गए कार्यकर्ता रोके जाने पर नाराज होकर आपस में ही भिड़ गए और वहाँ उत्पात भी मचाया जिससे थोड़ी देर के लिए अफरा-तफरी मच गई। कार्यकर्ता इतने पर भी नहीं रूके और राजघाट पर प्रियंका से मिलने के लिए जमकर धक्का-मुक्की भी की। 

प्रियंका गाँधी की खुली पोल-पट्टी, देखिए JNU हिंसा में घायल छात्र से कैसे मुँह मोड़ा

‘जिन्ना हैं राहुल-प्रियंका, हमने तो नहीं कहा मुसोलिनी के फौजी थे सोनिया गाँधी के पिता’

‘UP में हिंसा के लिए वित्तीय मदद कर रही हैं प्रियंका गाँधी’

CAA पर ‘पॉलिटिक्स’ करने पहुँचीं प्रियंका गाँधी, आपस में ही लड़ गए कॉन्ग्रेसी: देखें Video

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,824FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe