Sunday, June 16, 2024
Homeराजनीतिमोदी सरकार 80 करोड़ लोगों को देगी ₹2 और ₹3 प्रति किलो गेहूँ-चावल: 7...

मोदी सरकार 80 करोड़ लोगों को देगी ₹2 और ₹3 प्रति किलो गेहूँ-चावल: 7 किलो प्रति व्यक्ति की दर से 3 महीने के लिए एडवांस राशन दिया जाएगा

केंद्र सरकार देश के 80 करोड़ लोगों को हर महीने 7 किलो प्रति व्यक्ति राशन देगी, जोकि 3 महीने के लिए एडवांस होगा। वहीं जावड़ेकर ने मीडिया को बताया कि सरकार 80 करोड़ लोगों को 27 रुपए प्रति किलो वाला गेहूँ मात्र 2 रुपए प्रति किलोग्राम में और 37 रुपए किलोग्राम वाला चावल 3 रुपए प्रति किलोग्राम में देगी।

पूरा विश्व कोरोना की महामारी से जूझ रहा है। इसी बीच मोदी सरकार ने कोरोना से जंग करने के लिए पूरी तरह से कमर कस ली है। पहले तो मोदी सरकार ने 21 दिनों का पूरे देश में लॉकडाउन घोषित किया अब सरकार कमर सकते हुए कोरोना से जंग लड़ने के लिए एक और बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने अब देश के 80 करोड़ लोगों को 2 रुपए प्रति किलो गेंहूँ और 3 रुपए प्रति किलो चावल देने का फैसला किया है। साथ ही राज्य सरकारों से तीन माह का राशन खरीदने की बात कही है। जिससे कि कोरोना के खिलाफ इस जंग में सभी देश वासियों को समय से राशन मिल सके।

पीएम मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में यह फैसला लिया गया। कैबिनेट बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने प्रेस कॉन्फ्रेस करके कहा कि देश के 80 करोड़ लोगों को सस्ते दर पर राशन दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार देश के 80 करोड़ लोगों को हर महीने 7 किलो प्रति व्यक्ति राशन देगी, जोकि 3 महीने के लिए एडवांस होगा। वहीं जावड़ेकर ने मीडिया को बताया कि सरकार 80 करोड़ लोगों को 27 रुपए प्रति किलो वाला गेहूँ मात्र 2 रुपए प्रति किलोग्राम में और 37 रुपए किलोग्राम वाला चावल 3 रुपए प्रति किलोग्राम में देगी।

उन्होंने यह भी बताया कि इस पर 1 लाख 80 हजार करोड़ रुपए खर्च हो रहे हैं। यह तीन महीने के लिए राज्यों को एडवांस में दिया जाएगा। इस दौरान जावड़ेकर ने कोरोना के बचाव के लिए लोगों से सामाजिक दूरी बनाए रखने की अपील की। साथ ही कहा कि किसी भी तरह की अफवाहों पर ध्यान न दें। सरकार के पास पर्याप्त राशन का भंडार है। इसलिए किसी भी कीमत पर घरों से बाहन न निकलें साथ ही इस बीमारी से लड़ने के लिए कुछ भी काम करने से पहले हाथ धोना और बार-बार हाथ धोना। वहीं जावड़ेकर ने लॉकडाउन को सकारात्मक रूप से लेते हुए कहा कि आप लोगों के लिए परिवार के साथ समय बिताने का अच्छा मौका है और 21 दिनों तक घरों के अंदर ही रहे।

उन्होंने यह भी कहा कि आवश्यक सेवाओं जैसे दूध, पशुचारा राशन आदि की सभी दुकानें हर दिन खुली रहेंगी। इसलिए हमें दुकानों पर जाकर भीड़ करने की आवश्ययकता नहीं है। इस दौरान सभी लोग अपने बीच कम से कम 6 फुट का अंतर रखें। हमें डरने की नहीं बल्कि समझदारी से काम लेने की जरूरत है।

आपको बता दें कि कोरोना महामारी की चपेट में अब तक विश्व के 196 से अधिक देश आ चुके हैं। भारत में मरने वालों की संख्या 11, जबकि इससे संक्रमित लोगों की संख्या 562 से अधिक हो गई है। इनमें से 41 मरीज ठीक हो चुके हैं। इन्ही आँकड़ों को देखते हुए भारत सरकार ने पूरे देश में 21 दिन यानी कि 14 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन घोषित कर दिया है। साथ ही मोदी ने लोगों से घरों में पहने की भी अपील की है उन्होंने कहा है कि अगर हम 21 दिन नहीं संभले तो हम 21 साल पीछे चले जाएँगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K में योग दिवस मनाएँगे PM मोदी, अमरनाथ यात्रा भी होगी शुरू… उच्च-स्तरीय बैठक में अमित शाह का निर्देश – पूरी क्षमता लगाएँ, आतंकियों...

2023 में 4.28 लाख से भी अधिक श्रद्धालुओं ने बाबा अमरनाथ का दर्शन किया था। इस बार ये आँकड़ा 5 लाख होने की उम्मीद है। स्पेशल कार्ड और बीमा कवर दिया जाएगा।

परचून की दुकान से लेकर कई हजार करोड़ के कारोबार तक, 38 मुकदमों वाले हाजी इक़बाल ने सपा-बसपा सरकार में ऐसी जुटाई अकूत संपत्ति:...

सहारनपुर में मिर्जापुर का रहने वाला मोहम्मद इकबाल परचून की दुकान से काम शुरू कर आगे बढ़ता गया। कभी शहद बेचा, तो फिर राजनीति में आया और खनन माफिया भी बना।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -