Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाज'अखिलेश यादव को जूते से मारेंगे, ये सपा की चाल': अतीक के बेटे के...

‘अखिलेश यादव को जूते से मारेंगे, ये सपा की चाल’: अतीक के बेटे के जनाजे में शामिल महिलाओं का फूटा गुस्सा, बोलीं – योगी देते हैं राशन, वो गरीबों के मददगार

एक अन्य व्यक्ति ने कहा है कि वह गोरखपुर मठ में गए थे, तब योगी कुछ भी नहीं थे। योगी मुस्लिमों का पहले न्याय करते हैं।

अतीक अहमद और उसके भाई की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इससे पहले अतीक का बेटा असद भी पुलिस एनकाउंटर में मारा गया था। उसे अब दफनाया जा चुका है। लेकिन इससे पहले उसके जनाजे में आईं महिलाओं का कहना है कि योगी ने जो किया है वह सही है। उन्होंने कहा कि अगर अगर अखिलेश यादव और मायावती वोट माँगने आएँगीं तो जूते से मारकर भगा दिया जाएगा।

दरअसल, ‘द राजधर्म’ नामक यूट्यूब चैनल ने असद अहमद के जनाजे में आई महिलाओं से बातचीत की है। इस बातचीत के दौरान शबनम नामक महिला ने कहा है कि अखिलेश यादव की चाल के चलते यह सब हुआ है। अखिलेश यादव ने मिट्टी में मिलाने के लिए उकसाया था। अखिलेश यादव मुसलिमों के वोट के लिए सब बोल रहे हैं। मुस्लिम बेवकूफ नहीं है कि उनको वोट देगा। अखिलेश यादव के कारण ही असद मारा गया है। कोई और कारण नहीं है। शबनम ने आगे है कि वह बाबाजी (योगी आदित्यनाथ) को वोट देंगी। लेकिन अखिलेश यादव और बहन जी (मायावती) को वोट नहीं देंगी। उन्हें जूते से मारकर भगाएँगी।

एक अन्य व्यक्ति ने कहा है कि वह गोरखपुर मठ में गए थे, तब योगी कुछ भी नहीं थे। योगी मुस्लिमों का पहले न्याय करते हैं। अखिलेश यादव ने सीएम योगी को ताव दिला दिया। हो सकता है कि इस सबके पीछे अखिलेश यादव का हाथ हो। उन्हें लगता है कि इसमें सपा की कोई चाल है। इसकी जाँच होनी चाहिए। जाँच में दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा। रजिया नामक महिला ने कहा है कि योगी बहुत अच्छे हैं, वह राशन देते हैं। गरीबों की मदद करते हैं। बच्चों की पढ़ाई के लिए पैसा देते हैं। सब करते हैं। वह कहीं से गलत नहीं है, उन्हें कहीं से भी गलत साबित नहीं किया जा सकता।

एक अन्य महिला ने एनकाउंटर को लेकर कहा है कि अखिलेश यादव ने कहीं न कहीं इस सब में एक खेल खेला है। इन लोगों को इस्तेमाल किया है। इसके बाद यह सब कर दिया। अखिलेश अगर इतने ही अच्छे होते तो वह योगी जी को भड़काते ही क्यों?

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लोकसभा में ‘परंपरा’ की बातें, खुद की सत्ता वाले राज्यों में दोनों हाथों में लड्डू: डिप्टी स्पीकर पद पर हल्ला कर रहा I.N.D.I. गठबंधन,...

कर्नाटक, तेलंगाना और हिमाचल प्रदेश में कॉन्ग्रेस ने अपने ही नेता को डिप्टी स्पीकर बना रखा है विधानसभा में। तमिलनाडु में DMK, झारखंड में JMM, केरल में लेफ्ट और पश्चिम बंगाल में TMC ने भी यही किया है। दिल्ली और पंजाब में AAP भी यही कर रही है। लोकसभा में यही I.N.D.I. गठबंधन वाले 'परंपरा' और 'परिपाटी' की बातें करते नहीं थक रहे।

शराब घोटाले में जेल में ही बंद रहेंगे दिल्ली के CM केजरीवाल, हाई कोर्ट ने जमानत पर लगाई रोक: निचली अदालत के फैसले पर...

हाई कोर्ट ने कहा कि निचली अदालत ने मामले के पूरे कागजों पर जोर नहीं दिया जो कि पूरी तरह से अनुचित है और दिखाता है कि अदालत ने मामले के सबूतों पर पूरा दिमाग नहीं लगाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -