Friday, August 6, 2021
Homeदेश-समाजदिल्ली: कोरोना से जंग में स्वास्थ्यकर्मी, सफाईकर्मी की गई जान तो परिवार को मिलेंगे...

दिल्ली: कोरोना से जंग में स्वास्थ्यकर्मी, सफाईकर्मी की गई जान तो परिवार को मिलेंगे ₹1 करोड़

एलजी अनिल बैजल ने दिल्ली में मौजूद कोरोना हॉटस्पॉट के साथ ही अन्य इलाकों को सेनेटाइज करने के लिए और फायर ब्रिगेड की मदद से डिसइंफेक्टेंट का छिड़काव करने को कहा। साथ ही आपदा प्रबंधन विभाग के अधिकारियों को भी उचित कार्रवाई करने के आदेश दिए।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना संकट से लड़ने वाले सभी स्वास्थ्य कर्मियों और सफाई कर्मियों के लिए बड़ी घोषणा की है। दिल्ली सीएम ने ऐलान किया है कि यदि कोरोना से जंग के दौरान किसी हेल्थ सेक्टर के कर्मी की जान गई तो उसके परिवार को दिल्ली सरकार 1-1 करोड़ रुपए की सहायता राशि देगी। बता दें उपराज्यपाल के साथ हुई बैठक के बाद केजरीवाल ने ये बड़ा ऐलान किया।

सीएम केजरीवाल ने ये बड़ी घोषणा करते हुए कहा, “चाहे वह सफाई कर्मचारी हो, डॉक्टर हो या फिर नर्स, कोरोना के खिलाफ जंग में अगर उनकी जान चली जाती है तो उनका सम्मान करते हुए उनके परिवार को 1 करोड़ रुपए दिए जाएँगे। चाहे वे प्राइवेट हॉस्पिटल के हों या सरकारी इससे फर्क नहीं पड़ेगा।”

गौरतलब है कि इससे पहले दिल्ली के एलजी अनिल बैजल ने कोरोना से लड़ने की तैयारियों पर सीएम अरविंद केजरीवाल, मुख्य सचिव और दिल्ली पुलिस कमिश्नर से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए बात की। उन्होंने स्वास्‍थ्य इंतजामों का हाल जाना, आइसोलेशन में रह रहे लोगों की संख्या के साथ ही लॉकडाउन के दौरान की स्थिति को भी समझा। एलजी अनिल बैजल ने इस दौरान दिल्ली में मौजूद कोरोना हॉटस्पॉट के साथ ही अन्य इलाकों को सेनेटाइज करने के लिए और फायर ब्रिगेड की मदद से डिसइंफेक्टेंट का छिड़काव करने को कहा। साथ ही उन्होंने आपदा प्रबंधन विभाग के अधिकारियों को भी उचित कार्रवाई करने के आदेश दिए।

बता दें,दिल्‍ली के एलजी अनिल बैजल, सीएम अरविंद केजरीवाल अन्य अधिकारियों के साथ हर दिन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक कर राजधानी के हाल पर चर्चा कर रहे हैं और जरूरी कदम उठाने संबंधी निर्देश जारी कर रहे हैं। ताजा अपडेट के मुताबिक इस समय दिल्ली में कोरोना के 23 नए मामले आए हैं। इसके साथ ही यहाँ कोरोना पॉजिटिव लोगों का आँकड़ा 120 पहुँच गया है। पूरे भारत में इस समय कोरोना के 1590 मरीज हैं और इससे मरने वालों में 47 लोग शामिल हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तान में गणेश मंदिर तोड़ने पर भारत सख्त, सालभर में 7 मंदिर बन चुके हैं इस्लामी कट्टरपंथियों का निशाना

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में मंदिर तोड़े जाने के बाद भारत सरकार ने पाकिस्तान के शीर्ष राजनयिक को तलब किया है।

अफगानिस्तान: पहले कॉमेडियन और अब कवि, तालिबान ने अब्दुल्ला अतेफी को घर से घसीट कर निकाला और मार डाला

अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह ने भी अब्दुल्ला अतेफी की हत्या की निंदा की और कहा कि अफगानिस्तान की बुद्धिमत्ता खतरे में है और तालिबान इसे ख़त्म करके अफगानिस्तान को बंजर बनाना चाहता है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,173FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe