Thursday, January 28, 2021
Home राजनीति हिन्दू महिलाएँ दूर से आकर नाले में भरती हैं केजरीवाल का 'फ्री पानी', मुस्लिमों...

हिन्दू महिलाएँ दूर से आकर नाले में भरती हैं केजरीवाल का ‘फ्री पानी’, मुस्लिमों के लिए टंकी: ग्राउंड रिपोर्ट

आम आदमी पार्टी के विधायक हाजी यूनुस ने मुस्लिम इलाक़ों में पानी की उपलब्धता की बेहतर व्यवस्था की है। 20 हज़ार के क़रीब हिन्दू नाले के पास जाकर पानी भरने को विवश हैं। इस दौरान महिलाओं के नाले में गिरने का ख़तरा लगा रहता है। लोग दूर-दूर से वहाँ पानी भरने आते हैं।

नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में हुए हिन्दू-विरोधी दंगों के दौरान ऑपइंडिया की टीम जब ग्राउंड जीरो पर कवरेज के लिए पहुँची, तब वहाँ हमें हिन्दुओं की दुर्दशा के बारे में ज्ञात हुआ। शिव विहार चौक से थोड़ी ही दूर एक नाले पास हमें वो सच्चाई दिखी, जो दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार के दावों को खोखला साबित करती है। शिव विहार, गोविन्द विहार और महालक्ष्मी इन्क्लेव सहित आसपास के इलाक़ों के क़रीब 20 हज़ार हिन्दू पिछले 8 सालों से (कुछ के मुताबिक 20 वर्षों से) एक ऐसी परेशानी का सामना कर रहे हैं, जिसे शब्दों में बयाँ करना मुश्किल है लेकिन हम यहाँ आप तक एक-एक डिटेल पहुँचाएँगे।

एक बड़ा सा नाला। नाले के बीच से गोविन्द विहार की एक गली की तरफ जाती हुई सड़क। उस सड़क के दोनों तरफ उस बड़े से नाले का मुँह खुलता है। शाम के 6 बजते ही वहाँ एक जमावड़ा लगता है। महिलाओं का, बच्चों का और कुछ युवकों का। कुछ पास से आए होते हैं तो कुछ दूर से। सब अपने हाथों में बाल्टी, कंटेनर या डब्बे लेकर आए होते हैं, जिनमें वो पानी भरते हैं। उस नाले में खुलता है दो पाइपों का मुँह, जिनसे पानी सीधा नाले में ही गिरता है। वहाँ महिलाओं को बैलेंस बना कर पानी भरना पड़ता है।

देखिए इन हिन्दुओं का दर्द: प्रतिदिन गंदे नाले में झुक कर भरते हैं पानी

थोड़ा सा इधर-उधर हुआ तो वो महिलाएँ गिर सकती हैं, नाले में। जब लोग वहाँ पानी भर रहे होते हैं, तो उनका आधा कंटेनर या बर्तन उस नाले में डूबा होता है, जिसमें मल-मूत्र सहित न जाने क्या-क्या गंदगियाँ रहती होंगी। ये दृश्य उन हिन्दुओं पर तरस खाने को मजबूर कर देता है। अगर आप दिल्ली से दूर देश के किसी अन्य हिस्से में रहते हैं और आपके इलाक़े में पानी की कमी नहीं है तो ये दृश्य आपको दो सीख देता है। पहला ये है कि पानी का महत्व समझें। दूसरा ये कि अगर ‘फ्री पानी’ बोल कर कोई नेता चुनाव जीत जाता हो तो इसका मतलब ये नहीं है कि उसने पानी की व्यवस्था सुधार दी है। वो झूठ बोल कर लोगों को ठग रहा भी हो सकता है।

आप सोच रहे होंगे कि हम यहाँ बार-बार हिन्दुओं की बातें क्यों कर रहे हैं? हम यहाँ ‘आम जनता’ क्यों नहीं लिख रहे? यही तो पेंच है। करावल नगर का वो इलाक़ा मुस्तफाबाद में आता है। वहाँ के नव-निर्वाचित विधायक हैं आम आदमी पार्टी के हाजी यूनुस। दिल्ली की सत्ताधारी दल के उस नेता के बारे में लोग कहते हैं कि हालिया हुए दंगों में उनका भी हाथ है और वो ताहिर हुसैन का नजदीकी है। हाजी यूनुस से लोग नाराज़ नज़र आए और कहा कि उसे मुस्लिम ध्रुवीकरण कर के जीत हासिल की है और अब वो हिन्दू मतदाताओं से ‘बदला’ ले रहा है, क्योंकि उसका सोचना है कि उसे हिन्दुओं ने वोट नहीं दिया।

हमने देखा कि उस गंदे नाले के पास एक भी मुस्लिम व्यक्ति पानी भरने नहीं आया था। हमें वहाँ उपस्थित लोगों से ये सवाल पूछा? उन्होंने बताया कि मुस्लिम बस्तियों में पानी की व्यवस्था अच्छे तरीके से की गई है और उन्हें टैंकर भी उपलब्ध कराए जाते हैं। उनके इलाक़ों में टंकी लगी हुई है। कर्फ्यू लगे होने और माहौल तनावपूर्ण होने के कारण हम मुस्लिम बहुल मोहल्लों में इसकी पुष्टि करने तो नहीं गए, लेकिन आसपास के अन्य लोगों ने भी बताया कि उनके लिए पानी की व्यवस्था दुरुस्त रूप से की गई है।

हमें क्या क्या पता चला: आम आदमी पार्टी के विधायक हाजी यूनुस ने मुस्लिम इलाक़ों में पानी की उपलब्धता की बेहतर व्यवस्था की है। 20 हज़ार के क़रीब हिन्दू नाले के पास जाकर पानी भरने को विवश हैं। इस दौरान महिलाओं के नाले में गिरने का ख़तरा लगा रहता है। लोग दूर-दूर से वहाँ पानी भरने आते हैं।

इसके अलावा अन्य बातें भी हैं, जो चौंकाने वाली हैं। उस नाले में लगी पाइपों में भी पानी बस दिन भर में एक घंटे के लिए आता है। अगर उस एक घंटे में आपने पानी नहीं भरी तो आपको पूरे 1 दिन बिना पानी के रहना होगा। यानी, एक परिवार को 1 दिन बगैर पानी के रहना होगा या फिर कहीं और से पानी का इंतजाम करना होगा, अगर उन्होंने उस 1 घंटे में पानी नहीं भरा तो। ऐसे फ्री पानी का क्या फायदा? ऐसा नहीं है कि वहाँ के हिन्दुओं की पिछले 8 सालों से लगातार यही स्थिति है। जब भाजपा के जगदीश प्रधान यहाँ से विधायक थे तो ऐसा हाल नहीं था।

महिलाएँ बताती हैं कि जगदीश प्रधान जब यहाँ से विधायक बने, तब वो बिना जाति-धर्म का भेदभाव किए हुए अपने दफ्तर के बाहर टैंकर लगवा दिया करते थे। वहाँ से हिन्दू और मुस्लिम, दोनों धर्मों के लोग पानी भर लिया करते थे। जगदीश प्रधान अब विधायक नहीं हैं। लेकिन, इलाक़े के लोग उन्हें याद करते हुए कहते हैं कि उनके हारते ही अब हिन्दुओं को फिर नाले में झुक कर पानी भरना पड़ रहा है। जब ऑपइंडिया की टीम वहाँ पहुँची, तो उन्हें उम्मीद जगी कि मीडिया अब उनकी आवाज़ उठाएगी। सब यही पूछा रहे ये ख़बर कब आएगी?

इसी उम्मीद को लेकर हम ये ख़बर आप तक पहुँचा रहे हैं। सत्ताधारी दल के विधायक पर तो पक्षपात का आरोप है ही, भाजपा और कॉन्ग्रेस के नेताओं को भी वहाँ जाकर लोगों से बात करनी चाहिए और उस नाले के पास पानी भरने से हिन्दुओं को मुक्ति दिला कर उनके लिए चुस्त-दुरुस्त व्यवस्था करनी चाहिए। हमने 2 विडियो के साथ-साथ तस्वीरों को भी संलग्न किया है, जिसमें वो महिलाएँ और आम जन अपना दुख-दर्द सुना रहे हैं। आप भी सुनिए, आवाज़ उठाइए।

दिल्ली दंगा ग्राउंड रिपोर्ट: छतों से एसिड बरसा रही थीं मुस्लिम औरतें, गुलेल से दाग रहे थे पेट्रोल बम

बहू-बेटियों की इज्जत बचाने के लिए हिन्दू खा रहे थे गोली और पत्थर: शिव विहार ग्राउंड रिपोर्ट

हिन्दू घृणा से लेकर मुस्लिम भीड़ का आतंक, दिल्ली दंगों की जो बातें आपसे छिपाई गई

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Searched termsशिव विहार हिन्दू, केजरीवाल फ्री बिजली पानी, आप फ्री बिजली पानी, दिल्ली फ्री बिजली पानी, विधायक हाजी युनूस, आप विधायक हाजी युनूस, दिल्ली बृजपुरी, दिल्ली ब्रजपुरी, बृजपुरी राहुल ठाकुर, बृजपुरी मस्जिद, दिल्ली दंगा क्रोनोलॉजी, अंग्रेज मुसलमान, ब्रिटिश मुसलमान, कांग्रेस मुसलमान, एएमयू, लॉर्ड कर्जन, बंगाल विभाजन, बंगाल में दंगे, भारत में दंगे, हिंदू मुस्लिम दंगे, बंग भंग, अलग मुस्लिम देश की मांग, अब्दुल्ला शुहरावर्दी, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, हिस्ट्री ऑफ फ्रीडम मूवमेंट इन इंडिया, सर सैयद अहमद, पाकिस्तान की मांग, दिल्ली दंगा, दिल्ली दंगा लिबरल गैंग, दिल्ली दंगा लिबरल मीडिया, दिल्ली दंगा हिंदूफोबिया, दिल्ली दंगा प्राइम टाइम, रवीश कुमार प्राइम टाइम, दिल्ली दंगा एनडीटीवी, दिल्ली दंगा सेकुलर मीडिया, दिल्ली दंगा की खबरें, दिल्ली दंगों में कौन शामिल, दंगा और मुसलमान, दिल्ली में मुसलमानों का दंगा, पीएम मोदी, नरेंद्र मोदी, दिल्ली दंगा मोदी, दिल्ली हिंसा मोदी, उत्तर पूर्वी दिल्ली हिंसा मोदी, आईबी कॉन्स्टेबल की हत्या, अंकित शर्मा की हत्या, चांदबाग अंकित शर्मा की हत्या, दिल्ली हिंसा विवेक, विवेक ड्रिल मशीन से छेद, विवेक जीटीबी अस्पताल, विवेक एक्सरे, दिल्ली हिंदू युवक की हत्या, दिल्ली विनोद की हत्या, दिल्ली ब्रहम्पुरी विनोद की हत्या, दिल्ली हिंसा अमित शाह, दिल्ली हिंसा केजरीवाल, दिल्ली हिंसा उपराज्यपाल, अमित शाह हाई लेवल मीटिंग, दिल्ली पुलिस, दिल्ली पुलिस रतनलाल, हेड कांस्टेबल रतनलाल, रतनलाल का परिवार, ट्रंप का भारत दौरा, ट्रंप मोदी, बिल क्लिंटन का भारत दौरा, छत्तीसिंह पुरा नरसंहार, दिल्ली हिंसा, नॉर्थ ईस्ट दिल्ली, दिल्ली पुलिस, करावल नगर, जाफराबाद, मौजपुर, गोकलपुरी, शाहरुख, कांस्टेबल रतनलाल की मौत, दिल्ली में पथराव, दिल्ली में आगजनी, दिल्ली में फायरिंग, भजनपुरा, दिल्ली सीएए हिंसा, शाहीन बाग, शाहीनबाग प्रदर्शन, शाहीन बाग वायरल वीडियो, CAA NRC शाहीन बाग, CAA NRC असम, शाहीन बाग मास्टरमाइंड, cab and nrc hindi, CAA मुसलमान, नागरिकता कानून मुसलमान, नागरिकता कानून हिंसा, भारत विरोधी नारे, मुस्लिम हरामी क्यो होते है, nrc ke bare mein muslim mulkon ki rai, मुसलमान डरे हुए हैं या डरा रहे हैं, हिंसा में शामिल pfi और सीमी मुसलमान, हिन्दुत्व के विरोध का भूत, हमें चाहिए आजादी ये कैसा नारा है, हिंदुओं से चाहिए आजादी, rambhakt gopal, ram bhakt gopal, jamia violence, जामिया हिंसा, राम भक्त गोपाल
अनुपम कुमार सिंहhttp://anupamkrsin.wordpress.com
चम्पारण से. हमेशा राइट. भारतीय इतिहास, राजनीति और संस्कृति की समझ. बीआईटी मेसरा से कंप्यूटर साइंस में स्नातक.

 

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए योगी आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर की ओर से दान किए ₹1 करोड़, 1 लाख

योगी आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर की ओर से श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए 1 करोड़, 1 लाख रुपए अयोध्या श्रीराम जन्मभूमि निर्माण निधि समर्पण के रूप में दान किए।

जिस राम मंदिर झाँकी को किसान दंगाइयों ने तोड़ डाला, उसे प्रथम पुरस्कार: 17 राज्यों ने लिया था हिस्सा

17 राज्यों की झाँकियों ने 26 जनवरी को राजपथ की परेड में हिस्सा लिया था। इनमें से उत्तर प्रदेश की ओर से आए भव्य राम मंदिर के मॉडल को...

UP पुलिस ने शांतिपूर्ण तरीके से हटाया ‘किसान’ प्रदर्शनकारियों को, लोग कह रहे – बिजली काट मार-मार कर भगाया

नेशनल हाईवे अथॉरिटी के निवेदन पर बागपत प्रशासन ने किसान प्रदर्शकारियों को विरोध स्थल से हटाते हुए धरनास्थल को शांतिपूर्ण तरीके से खाली करवा दिया है।

दीप सिद्धू और गैंगस्टर लक्खा पर FIR दर्ज, नाम उछलते ही गायब हुए पंजाबी अभिनेता सिद्धू

26 जनवरी को दिल्ली के लाल किले में हुई हिंसा के संबंध में पंजाबी अभिनेता दीप सिद्धू और गैंगस्टर लक्खा सिधाना के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

‘छात्र’ हैं, ‘महिलाएँ’ हैं, ‘अल्पसंख्यक’ हैं और अब ‘किसान’ हैं: लट्ठ नहीं बजे तो कल और भी आएँगे, हिंसा का नंगा नाच यूँ ही...

हिन्दू वोट भी दे, अपना कामधाम भी करे और अब सड़क पर आकर इन दंगाइयों से लड़े भी? अगर कल सख्त कार्रवाई हुई होती तो ये आज निकलने से पहले 100 बार सोचते।

कल तक क्रांति की बातें कर रहे किसान समर्थक दीप सिद्धू के वीडियो डिलीट कर रही है कॉन्ग्रेस, जानिए वजह

एक समय किसान विरोध प्रदर्शनों को 'क्रांति' बताने वाले दीप सिद्धू को लिबरल गिरोह, कॉन्ग्रेस और किसान नेता भी अब अपनाने से इंकार कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

लाइव TV में दिख गया सच तो NDTV ने यूट्यूब वीडियो में की एडिटिंग, दंगाइयों के कुकर्म पर रवीश की लीपा-पोती

हर जगह 'किसानों' की थू-थू हो रही, लेकिन NDTV के रवीश कुमार अब भी हिंसक तत्वों के कुकर्मों पर लीपा-पोती करके उसे ढकने की कोशिशों में लगे हैं।

तेज रफ्तार ट्रैक्टर से मरा ‘किसान’, राजदीप ने कहा- पुलिस की गोली से हुई मौत, फिर ट्वीट किया डिलीट

राजदीप सरदेसाई ने तिरंगे में लिपटी मृतक की लाश की तस्वीर अपने ट्विटर अकाउंट से शेयर करते हुए लिखा कि इसकी मौत पुलिस की गोली से हुई है।

महिला पुलिस कॉन्स्टेबल को जबरन घेर कर कोने में ले गए ‘अन्नदाता’, किया दुर्व्यवहार: एक अन्य जवान हुआ बेहोश

महिला पुलिस को किसान प्रदर्शनकारी चारों ओर से घेरे हुए थे। कोने में ले जाकर महिला कॉन्स्टेबल के साथ दुर्व्यवहार किया गया।

हिंदुओं को धमकी देने वाले के अब्बा, मोदी को 420 कहने वाले मौलाना और कॉन्ग्रेस नेता: ‘लोकतंत्र की हत्या’ गैंग के मुँह पर 3...

पद्म पुरस्कारों में 3 नाम ऐसे हैं, जो ध्यान खींच रहे- मौलाना वहीदुद्दीन खान (पद्म विभूषण), तरुण गोगोई (पद्म भूषण) और कल्बे सादिक (पद्म भूषण)।

अब पूरे देश में ‘किसान’ करेंगे विरोध प्रदर्शन, हिंसा के लिए माँगी ‘माफी’… लेकिन अगला निशाना संसद को बताया

दिल्ली में हुई हिंसा पर किसान नेता 'गलती' मान रहे लेकिन बेशर्मी से बचाव भी कर रहे और पूरे देश में विरोध प्रदर्शन की बातें कर रहे।

26 जनवरी 1990: संविधान की रोशनी में डूब गया इस्लामिक आतंकवाद, भारत को जीतना ही था

19 जनवरी 1990 की भयावह घटनाएँ बस शुरुआत थी। अंतिम प्रहार 26 जनवरी को होना था, जो उस साल जुमे के दिन थी। 10 लाख लोग जुटते। आजादी के नारे लगते। गोलियॉं चलती। तिरंगा जलता और इस्लामिक झंडा लहराता। लेकिन...
- विज्ञापन -

 

मुंबई कर्नाटक का हिस्सा, महाराष्ट्र से काट कर केंद्र शासित प्रदेश घोषित किया जाए: गरमाई मराठी-कन्नड़ राजनीति

"मुंबई कर्नाटक का हिस्सा है। कर्नाटक के लोगों का मानना है कि मुंबई लंबे समय तक कर्नाटक में रही है, इसलिए मुंबई पर उनका अधिकार है।"

श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए योगी आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर की ओर से दान किए ₹1 करोड़, 1 लाख

योगी आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर की ओर से श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए 1 करोड़, 1 लाख रुपए अयोध्या श्रीराम जन्मभूमि निर्माण निधि समर्पण के रूप में दान किए।

जिस राम मंदिर झाँकी को किसान दंगाइयों ने तोड़ डाला, उसे प्रथम पुरस्कार: 17 राज्यों ने लिया था हिस्सा

17 राज्यों की झाँकियों ने 26 जनवरी को राजपथ की परेड में हिस्सा लिया था। इनमें से उत्तर प्रदेश की ओर से आए भव्य राम मंदिर के मॉडल को...

UP पुलिस ने शांतिपूर्ण तरीके से हटाया ‘किसान’ प्रदर्शनकारियों को, लोग कह रहे – बिजली काट मार-मार कर भगाया

नेशनल हाईवे अथॉरिटी के निवेदन पर बागपत प्रशासन ने किसान प्रदर्शकारियों को विरोध स्थल से हटाते हुए धरनास्थल को शांतिपूर्ण तरीके से खाली करवा दिया है।

दीप सिद्धू और गैंगस्टर लक्खा पर FIR दर्ज, नाम उछलते ही गायब हुए पंजाबी अभिनेता सिद्धू

26 जनवरी को दिल्ली के लाल किले में हुई हिंसा के संबंध में पंजाबी अभिनेता दीप सिद्धू और गैंगस्टर लक्खा सिधाना के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

किसान नहीं बल्कि पुलिस हुई थी हिंसक: दिग्विजय सिंह ने दिल्ली पुलिस को ही ठहराया दंगों का दोषी

कॉन्ग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने आज मीडिया से बात करते हुए कहा कि दिल्ली में किसान उग्र नहीं हुए थे बल्कि दिल्ली पुलिस उग्र हुई थी।

‘छात्र’ हैं, ‘महिलाएँ’ हैं, ‘अल्पसंख्यक’ हैं और अब ‘किसान’ हैं: लट्ठ नहीं बजे तो कल और भी आएँगे, हिंसा का नंगा नाच यूँ ही...

हिन्दू वोट भी दे, अपना कामधाम भी करे और अब सड़क पर आकर इन दंगाइयों से लड़े भी? अगर कल सख्त कार्रवाई हुई होती तो ये आज निकलने से पहले 100 बार सोचते।

कल तक क्रांति की बातें कर रहे किसान समर्थक दीप सिद्धू के वीडियो डिलीट कर रही है कॉन्ग्रेस, जानिए वजह

एक समय किसान विरोध प्रदर्शनों को 'क्रांति' बताने वाले दीप सिद्धू को लिबरल गिरोह, कॉन्ग्रेस और किसान नेता भी अब अपनाने से इंकार कर रहे हैं।

ट्रैक्टर रैली में हिंसा के बाद ट्विटर ने किया 550 अकाउंट्स सस्पेंड, रखी जा रही है सबपर पैनी नजर

ट्विटर की ओर से कहा गया है कि इसने उन ट्वीट्स पर लेबल लगाए हैं जो मीडिया पॉलिसी का उल्लंघन करते हुए पाए गए। इन अकाउंट्स पर पैनी नजर रखी जा रही है।

वीडियो: खालिस्तान जिंदाबाद कहते हुए तिरंगा जलाया, किसानों के ‘आतंक’ से परेशान बीमार बुजुर्ग धरने पर बैठे

वीडियो में बुजुर्ग आदमी सड़क पर बैठे हैं और वहाँ से उठते हुए कहते हैं, "ये बोलते है आगे जाओगे तो मारूँगा। अरे क्या गुनाह किया है? हम यहाँ से निकले नहीं? हमारे रास्ते में आ गए।"

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
80,695FollowersFollow
387,000SubscribersSubscribe