Sunday, July 14, 2024
Homeराजनीति'जिंस पहनने वाली लड़कियों को मोदी पसंद नहीं, 40-50 साल की महिलाएँ ही उनसे...

‘जिंस पहनने वाली लड़कियों को मोदी पसंद नहीं, 40-50 साल की महिलाएँ ही उनसे प्रभावित’: ‘टंच माल’ वाले दिग्विजय सिंह का बेतुका बयान

अपने विवादास्पद बयानों के लिए सुर्खियों में रहने वाले मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री और कॉन्ग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने एक बार फिर महिलाओं को लेकर बयान दिया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से 40 साल से अधिक उम्र वाली महिलाएँ प्रभावित हैं, जिंस पहनने वाली लड़कियाँ उनसे प्रभावित नहीं होती हैं।

दरअसल, दिग्विजय सिंह शनिवार (25 दिसंबर) को कॉन्ग्रेस के जनजागरण अभियान के दौरान कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि जिंस पहने वाली और मोबाइल रखने वाली लड़कियाँ पीएम मोदी को पसंद नहीं करती हैं। 40-50 साल वाली महिलाएँ ही उनसे प्रभावित होती हैं। दरअसल, दिग्विजय सिंह कॉनग्रेस नेता प्रियंका गाँधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) के ‘मैं लड़की हूँ, लड़ सकती हूँ’ के थीम सॉन्ग लेकर अपनी बात कह रहे थे।

इसी दौरान उन्होंने बजरंग दल को लेकर भी आपत्तिजनक टिप्पणी की। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को गुंडा बताते हुए उन्होंने कहा- “मध्य प्रदेश में सबसे ज्यादा गुंडे बजरंग दल के हैं।” उन्होंने पुलिस पर भी इनका साथ देने का आरोप लगाया।

दिग्विजय सिंह ने ये भी दावा किया था कि स्वतंत्रता सेनानी विनायक दामोदर सावरकर ने हिन्दू धर्म और हिंदुत्व को अलग-अलग बताया है। उन्होंने कहा था कि सावरकर ने कहा था कि गोमांस खाने में कोई खराबी नहीं है। भारत को विविधताओं का देश बताते हुए कॉन्ग्रेस नेता ने कहा कि देश में कई ऐसे हिन्दू हैं जो गोमांस खाते हैं। साथ ही उन्होंने पूछा कि ऐसा कहाँ लिखा है कि गोमांस न खाया जाए?

ये पहली बार नहीं है, जब दिग्विजय सिंह ने महिलाओं से संबंधित इस तरह के आपत्तिजनक बयान दिए हैं। इसके पहले भी वह ऐसा कर चुके हैं, जिसको लेकर भारी विवाद हुआ था। साल 2013 में मंदसौर की रैली में उन्होंने तत्कालीन सांसद मीनाक्षी नटराजन को लेकर कहा था, “मैं राजनीति का पुराना जौहरी हूँ। मीनाक्षी जी का काम देखकर मैं कह सकता हूँ कि वह 100 टका टंच माल हैं।”

दिग्विजय सिंह के इस बयान पर राजनीतिक गलियारे से लेकर हर जगह भारी बवाल हुआ था। तब उन्होंने सफाई देते हुए कहा था, “मैंने कुछ गलत नहीं कहा। मैंने उन्हें 100 टका सोने का माल कहा था। मैंने तो उनकी तारीफ में ये बात कही थी।”

इसी तरह मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कॉन्ग्रेस नेता कमलनाथ ने भी विवादित बयान दिया था। कमलनाथ ने डबरा इलाके में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री इमरती देवी को लेकर कहा था कि वो आइटम हैं। तब भाजपा ने इस मुद्दे को लेकर कमलनाथ को खूब लताड़ लगाई थी। विवाद बढ़ने के बाद कमलनाथ ने खेद प्रकट किया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -