Wednesday, July 24, 2024
Homeराजनीतिदिग्विजय सिंह की नजर में पाक PM इमरान खान 'जी' 'शांति-दूत', मोदी 'नफरत-साम्प्रदायिकता' फैलाने...

दिग्विजय सिंह की नजर में पाक PM इमरान खान ‘जी’ ‘शांति-दूत’, मोदी ‘नफरत-साम्प्रदायिकता’ फैलाने वाले

आज पीएम मोदी ने नफरत की बात हर घर पहुँचा दी है। उनका कहना है, "जब नारा लगता था हर-हर मोदी, घर-घर मोदी तो वाकई में नफरत की आग नरेंद्र मोदी जी और उस विचारधारा ने हर घर में पहुँचा दी है।"

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह एक बार फिर अपने बयानों के कारण सुर्खियों में हैं। इस बार उन्होंने इमरान खान के नाम के आगे ‘जी’ लगाकर उनके बयान का समर्थन किया है। गाँधी जयन्ती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने ‘कट्टर हिंदुत्व’ के ख़िलाफ़ बात की और साथ ही उसे खतरनाक भी बताया। उन्होंने कहा जिस तरह से मुस्लिमों की कट्टरता खतरनाक है, उसी तरह हिंदुओं की भी कट्टरता खतरनाक है। ऐसे में अगर बहुसंख्यक आबादी का संप्रदायीकरण होता है तो देश के लिए बड़ी मुश्किल होगी।

बुधवार को इंदौर में बोलते हुए उन्होंने ये बयान दिए। इस दौरान उन्होंने अपने संबोधन में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के बयान का समर्थन करते हुए कहा कि इमरान खान प्रधानमंत्री जी लगातार ‘रेडिकलाइजेशन ऑफ द मुस्लिम’ की बात करते हैं। वे इस्मालिक फोबिया को लेकर विचार रखते हैं। उसी का काउंटर है ‘रेडिकलाइजेशन ऑफ द हिंदूज’, मतलब जिस प्रकार से इस्लाम की कट्टरता पाकिस्तान के लिए खतरनाक साबित हो रही है, ठीक उसी तरह से ‘रेडिकलाइजेशन ऑफ द हिंदूज’ भी भारत के लिए खतरा है।

नेहरू को याद करते हुए कॉन्ग्रेस नेता ने उनकी बात दोहरई और कहा कि पं नेहरू ने कहा था कि अल्पसंख्कों की साम्प्रादायिकता के मुकाबले बहुसंख्यकों की साम्प्रादायिकता ज्यादा खतरनाक होती है। इसलिए उनकी मानें तो जो हाल पाकिस्तान का हुआ है, अगर ऐसा ही हाल भारत का हुआ तो उसे बचाना आसान नहीं होगा। इसलिए, इससे बचने की जरूरत है।

गाँधी जयन्ती पर आयोजित इस कार्यक्रम में उन्होंने गाँधी पर भी बात की, लेकिन वर्तमान से गढ़ते हुए। उन्होंने कहा, “गाँधीजी ने भारत की सनातनी परंपरा और संस्कृति को समझा था। सनातन धर्म में सत्य अहिंसा की बात होती है। आज अहिंसा ही संकट में है। भगवान महावीर, भगवान बुद्ध और महात्मा गांधी की परंपरा के साथ हमारा धर्म संकट में है।” इसके बाद उन्होंने कहा कि अगर इन सबका (स्थिति) विरोध करना है तो अहिंसा का रास्ता चुनना होगा।

कॉन्ग्रेस के दिग्गज नेता ने पाक के पीएम के बयान का समर्थन करते हुए इस दौरान देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधा। उनके मुताबिक आज पीएम मोदी ने नफरत की बात हर घर पहुँचा दी है। उनका कहना है, “जब नारा लगता था हर-हर मोदी, घर-घर मोदी तो वाकई में नफरत की आग नरेंद्र मोदी जी और उस विचारधारा ने हर घर में पहुँचा दी है। मैं इस बात को मानता हूँ कि सांप्रदायिक्ता का भूत बोतल में जब तक बंद है तब तक बंद है। एक बार निकल गया तो इसको वापस बोतल में डालना आसान नहीं है।”

उल्लेखनीय है कि दिग्विजय सिंह अक्सर अपने बयानों के कारण चर्चा में रहते हैं, लेकिन गाँधी जयन्ती पर इस प्रकार भारतीय प्रधानमंत्री पर ऊँगली उठाते हुए इमरान खान के बयान के समर्थन ने उनके आगे नया विवाद लाकर खड़ा कर दिया हैं। सवाल बस यही उठ रहा है कि अगर भारत की वर्तमान स्थिति पर ही बात करनी थी तो पाक प्रधानमत्री के बयान का उदाहरण देने की क्या आवश्यकता थी?

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

औरतें और बच्चियाँ सेक्स का खिलौना नहीं… कट्टर इस्लामी मानसिकता पर बैन लगाओ, OpIndia पर नहीं: हज पर यौन शोषण की खबरें 100% सच

हज पर मुस्लिम महिलाओं और बच्चियों का यौन शोषण होता है, यह खबर 100% सत्य है। BBC, Washington Post और अरब देश की मीडिया में भी यह छपा है।

‘मेरे बेटे को मार डाला’: आधुनिक पश्चिमी सभ्यता ने दुनिया के सबसे अमीर शख्स को भी दे दिया ऐसा दर्द, कहा – Woke वाले...

लिंग-परिवर्तन कराने वाले को उसके पुराने नाम से पुकारना 'Deadnaming' कहलाता है। उन्होंने कहा कि इसका अर्थ है कि उनका बेटा मर चुका है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -