Sunday, September 19, 2021
Homeराजनीतिमनी लॉन्ड्रिंग केस में ED की कार्रवाई: अनिल देशमुख के 3, शिवसेना नेता के...

मनी लॉन्ड्रिंग केस में ED की कार्रवाई: अनिल देशमुख के 3, शिवसेना नेता के 9 ठिकानों पर छापेमारी, जैकलीन से हुई 5 घंटे पूछताछ

मनी लॉन्ड्रिंग केस में शिवसेना नेता अनिल परब को ईडी द्वारा नोटिस जारी किए जाने के बाद केंद्रीय एजेंसी ने शिवसेना नेता भावना गवली से जुड़े 9 ठिकानों पर भी रेड की है।

महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख के ख़िलाफ़ केंद्रीय जाँच एजेंसियों द्वारा पड़ताल की जा रही है। उनसे जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग के ही एक मामले में अनिल परब कनेक्शन की जाँच में तीन जगहों पर प्रवर्तन निदेशालय छापेमारी कर रहा है।

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, “प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख के मनी लॉन्ड्रिंग मामले में महाराष्ट्र के मंत्री अनिल परब कनेक्शन के संबंध में तीन स्थानों पर छापेमारी कर रहा है।”

मालूम हो कि इससे पहले अनिल देशमुख पर लगे आरोपों के मद्देनजर कॉन्ग्रेस ने उन्हें क्लीन चिट मिलने का दावा किया था। हालाँकि, सीबीआई की एक चिट्ठी से इस बात का खुलासा हुआ है कि महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख को प्रारंभिक जाँच में क्लीन चिट नहीं दी गई थी।

पत्र में कहा गया था, “प्रारंभिक जाँच से पता चला है कि संबंधित मामले में एक संज्ञेय अपराध किया गया है। महाराष्ट्र के तत्कालीन गृहमंत्री अनिल देशमुख और अज्ञात अन्य लोगों ने अनुचित और बेईमानी कर अनुचित लाभ प्राप्त करने का प्रयास किया है।”

उल्लेखनीय है मनी लॉन्ड्रिंग केस में शिवसेना नेता अनिल परब को ईडी द्वारा नोटिस जारी किए जाने के बाद केंद्रीय एजेंसी ने शिवसेना नेता भावना गवली से जुड़े 9 ठिकानों पर भी रेड की है। एएनआई के मुताबिक, यह मामला 72 करोड़ रुपए के कथित घोटाले से जुड़ा है। ईडी इस केस में महाराष्ट्र के वाशिम जिले में 9 स्थानों पर छापेमारी कर रही है।

बता दें कि एनसीपी नेता और शिवसेना नेताओं के अलावा बॉलीवुड अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीज पर भी सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय ने कार्रवाई की। सुकेश चंद्रशेखर द्वारा संचालित एक कथित मल्टी करोड़ जबरन वसूली रैकेट मामले में जैकलीन से नई दिल्ली में 5 घंटे पूछताछ चली।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिख नरसंहार के बाद छोड़ दी थी कॉन्ग्रेस, ‘अकाली दल’ में भी रहे: भारत-पाक युद्ध की खबर सुन दोबारा सेना में गए थे ‘कैप्टेन’

11 मार्च, 2017 को जन्मदिन के दिन ही कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पंजाब में बहुमत प्राप्त हुआ और राज्य में कॉन्ग्रेस के लिए सत्ता का सूखा ख़त्म हुआ।

अडानी समूह के हुए ‘The Quint’ के प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर, गौतम अडानी के भतीजे के अंतर्गत करेंगे काम

वामपंथी मीडिया पोर्टल 'The Quint' में बतौर प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर कार्यरत रहे संजय पुगलिया अब अडानी समूह का हिस्सा बन गए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,106FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe