Thursday, July 18, 2024
Homeराजनीति'TMC में नहीं मिला मुझे मेरा हक...' : तृणमूल कॉन्ग्रेस को अलविदा कह दिग्गज...

‘TMC में नहीं मिला मुझे मेरा हक…’ : तृणमूल कॉन्ग्रेस को अलविदा कह दिग्गज नेता तापस रॉय ने थामा भाजपा का हाथ, लगाया- ‘BJP जिंदाबाद’ का नारा

तापस रॉय ने कोलकाता में स्थित भाजपा कार्यालय में कार्यक्रम के दौरान बीजेपी ज्वाइन की। इस दौरान प्रदेश में भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने उन्हें बीजेपी की सदस्यता दिलवाई।

साल 2024 में देश में होने जा रहे लोकसभा चुनावों से पहले पश्चिम बंगाल में तृणमूल कॉन्ग्रेस को झटका देकर पार्टी के वरिष्ठ नेता तामस रॉय ने भारतीय जनता पार्टी का हाथ थाम लिया है। उन्होंने कोलकाता में स्थित भाजपा कार्यालय में कार्यक्रम के दौरान बीजेपी ज्वाइन की। इस दौरान प्रदेश में भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने उन्हें बीजेपी की सदस्यता दिलवाई। इस दौरान कार्यक्रम में लोकसभा सांसद व भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी भी कार्यालय में मौजूद थे। उन्होंने तापस को बीजेपी का झंडा पकड़ाया और पार्टी में उनका स्वागत किया।

उनके भाजपा ज्वाइन करने से टीएमसी नेता उनसे नाराज हैं। टीएमसी सांसद शांतनु सेन ने कहा- “टीएमसी ने उन्हें हर पद दिया। वह ईडी के डर से भाग गए या हो सकता है कि उन्हें और कुछ बड़ा ऑफर हुआ हो। उन्होंने भाजपा के आगे खुद को सरेंडर किया है। बंगाल के लोग उन्हें माफ नहीं करेंगे।”

गौरतलब है कि अभी दो दिन पहले ही टीएमसी के दिग्गज नेता तापस रॉय ने तृणमूल कॉन्ग्रेस के हर पद से इस्तीफा दिया था। टीएमसी छोड़ने के पीछे जो कारण दिया गया था वो था उनके और टीएमसी के बीच बढ़ी दूरियाँ। तापस रॉय ने कहा था, “मैं पिछले 25 वर्षों से पार्टी का एक ईमानदार नेता रहा हूँ, लेकिन मुझे मेरा हक कभी नहीं मिला।”

बता दें कि टीएमसी से तापस रॉय 4 बार विधायक रहे हैं। तापस रॉय बारानगर विधान सभा सीट साल 2011, 2016 और 2021 में टीएमसी से विधायक रहे। मौजूदा समय में वो विधायक भी थे, उन्होंने टीएमसी पार्टी के साथ ही विधायक पद भी छोड़ दिया है। इससे पहले वो बड़ा बाजार से 2001 में भी टीएमसी से विधायक चुने गए थे। वहीं, सबसे पहले साल 1996 में वो कॉन्ग्रेस के टिकट पर विद्यासागर विधानसभा सीट से विधायक बने थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

3 आतंकियों को घर में रखा, खाना-पानी दिया, Wi-Fi से पाकिस्तान करवाई बात: शौकत अली हुआ गिरफ्तार, हमलों के बाद OGW नेटवर्क पर डोडा...

शौकत अली पर आरोप है कि उसने सेना के जवानों पर हमला करने वाले आतंकियों को कुछ दिन अपने घर में रखा था और वाई-फाई भी दिया था।

नई नहीं है दुकानों पर नाम लिखने की व्यवस्था, मुजफ्फरनगर पुलिस ने काँवड़िया रूट पर मजहबी भेदभाव के दावों को किया खारिज: जारी की...

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में पुलिस ने ताजी एडवायजरी जारी की है, जिसमें दुकानों और होटलों पर मालिकों के नाम लिखने को ऐच्छिक कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -