Tuesday, July 16, 2024
Homeराजनीति'नशे में थे AAP नेता, गाली-गलौच कर की छेड़छाड़': महिला नेता का आरोप, कहा-...

‘नशे में थे AAP नेता, गाली-गलौच कर की छेड़छाड़’: महिला नेता का आरोप, कहा- शरीर के कई हिस्सों पर चोट के निशान

"गढ़वी ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर मेरे साथ दुर्व्यवहार किया। मैंने उनसे सही से पेश आने के लिए कहा फिर भी वे नहीं रुके।"

गुजरात के सूरत में भाजपा महिला मोर्चा की उपाध्यक्ष श्रद्धा राजपूत ने ‘आप’ (AAP) नेता इसुदान गढ़वी (Isudan Gadhvi) और उनकी पार्टी के कई कार्यकर्ताओं पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। श्रद्धा का आरोप है कि ‘आप’ नेता इसुदान गढ़वी, गोपाल इटालिया समेत कई लोगों ने नशे में उनके साथ गाली-गलौच और बदसलूकी की। रिपोर्ट्स के मुताबिक महिला नेता की शिकायत के बाद पुलिस गढ़वी, इटालिया और प्रवीण राम को हिरासत में लेकर मेडिकल जाँच के लिए अस्पताल ले गई। जाँच के बाद इन्हें रिहा कर दिया गया। मेडिकल रिपोर्ट बुधवार (22 दिसंबर 2021) को आएगी।

राजपूत ने एक चैनल से बात करते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी (AAP) के नेताओं ने गाँधीनगर में भाजपा कार्यालय की घेराबंदी की थी। जब सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें गेट पर रोकने की कोशिश की तो वे बदतमीजी करने लगे। सभी नशे मे धुत थे। शोर सुनाई पड़ने पर हम बाहर आए। उन्होंने आरोप लगाया कि ‘आप’ कार्यकर्ता बयानबाजी के दौरान गाली-गलौज कर रहे थे। वे राज्य में 12 दिसंबर को कथित हेड क्लर्क पेपर लीक मामले का विरोध कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि गढ़वी ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर मेरे साथ दुर्व्यवहार किया। मैंने उनसे सही से पेश आने के लिए कहा फिर भी वे नहीं रुके। उन्होंने यह भी कहा कि आम आदमी पार्टी की महिला कार्यकर्ताओं ने भी उनके साथ मारपीट की और उन्हें लाठियों से मारा। राजपूत ने यह भी आरोप लगाया कि भीड़ तितर-बितर होने के बाद गोपाल इटालिया और इसुदान गढ़वी दोनों ने उसके साथ दुर्व्यवहार किया। श्रद्धा ने बताया, “मैंने पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज कराई। मेरे शरीर के कई हिस्सों पर चोट के निशान हैं, जो मैं दिखा नहीं सकती।”

बता दें कि ‘आप’ नेताओं और कार्यकर्ताओं ने गाँधीनगर में भाजपा कार्यालय का घेराव किया था। इस दौरान भाजपा कार्यकर्ता भी बड़ी संख्या में पहुँचे और दोनों गुट आपस में भिड़ गए। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -