Saturday, July 13, 2024
Homeराजनीतिट्रेन में भीड़ घटाने के लिए अलग कॉरिडोर, बिजनेस को बढ़ाने और बंदरगाहों को...

ट्रेन में भीड़ घटाने के लिए अलग कॉरिडोर, बिजनेस को बढ़ाने और बंदरगाहों को जोड़ने के लिए भी 2 अलग कॉरिडोर: बजट 2024 रेलवे के लिए खास

ऊर्जा-खनिज-सीमेंट कॉरिडोर, पोर्ट कनेक्टिविटी कॉरिडोर और अधिक पैसेंजर घनत्व वाले कॉरिडोर बनाए जाएँगे। भारतीय रेलवे के 40000 सामान्य डिब्बों को वंदे भारत में बदल दिया जाएगा।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार (1 फरवरी 2024) को संसद में अंतरिम बजट-2024 पेश किया। इस बजट में रेलवे क्षेत्र को लेकर भी कई महत्वपूर्ण घोषणाएँ की गईं। इन घोषणाओं से करोड़ों लोगों को फायदा होगा और देश की अर्थव्यवस्था को भी मजबूती मिलेगी। वित्त मंत्री ने बजट में तीन नए रेल कॉरिडोर के निर्माण की घोषणा की। इन कॉरिडोर के निर्माण से देश के कई हिस्सों को रेल से जोड़ा जाएगा और लोगों को यात्रा करने में आसानी होगी।

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि रेलवे वाले तीन नए रेल कॉरिडोर शुरू किए जाएँगे। इसके तहत ऊर्जा-खनिज-सीमेंट कॉरिडोर, पोर्ट कनेक्टिविटी कॉरिडोर और अधिक पैसेंजर घनत्व वाले कॉरिडोर बनाए जाएँगे। इसके साथ ही पूरे देश में यात्री ट्रेनों के परिचालन में सुधार किया जाएगा। मल्टीमॉडल कनेक्टिविटी को सक्षम करने के लिए पीएम गतिशक्ति के तहत परियोजनाओं की पहचान की गई है। माला-भाड़ा परियोजना को भी विकसित किया जाएगा।

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने ऐलान किया है कि भारतीय रेलवे के 40000 सामान्य डिब्बों को वंदे भारत में बदल दिया जाएगा। इससे आम ट्रेनों में यात्रा करने वाले करोड़ों भारतीयों को फायदा होगा। ये नए डिब्बे देश के हर रूट और हर ट्रेन में लगाए जाएँगे।

वित्तमंत्री ने नमो भारत ट्रेनों के विस्तार की बात भी कही। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मेट्रो कनेक्टिविटी को भी बढ़ाया जा रहा है। चूँकि ये बजट अंतरिम बजट है, ऐसे में चुनाव के बाद संसद में रखे जाने वाले अनुपूरक बजट पर अब सबकी निगाहें रहेंगी।

नई संसद में लोकसभा चुनाव 2024 से पहले मोदी सरकार का आखिरी बजट पेश किया गया। ये बजट पूर्ण नहीं, बल्कि अंतरिम है, जो चार माह के लिए है। वित्तमंत्री के तौर पर निर्मला सीतारमण ने छठीं बार बजट पेश किया। वित्त मंत्री ने 57 मिनट के भाषण के माध्यम से ये बजट सामने रखा।

बजट 2024 में रेलवे के लिए की गई घोषणाएँ देश के विकास के लिए महत्वपूर्ण हैं। तीन नए रेल कॉरिडोर के निर्माण से देश के विभिन्न हिस्सों के बीच संपर्क बेहतर होगा। इससे व्यापार और पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। यात्री ट्रेनों के परिचालन में सुधार से यात्रियों को सुविधा होगी। समय पर चलने वाली ट्रेनों से लोगों की यात्रा में आसानी होगी। इन घोषणाओं से रेलवे का बुनियादी ढाँचा मजबूत होगा, जिससे देश की अर्थव्यवस्था को भी बढ़ावा मिलेगा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जम्मू कश्मीर के उप-राज्यपाल को अब दिल्ली के LG जितनी शक्तियाँ, ट्रांसफर-पोस्टिंग के लिए भी उनकी अनुमति ज़रूरी: मोदी सरकार के आदेश पर भड़के...

जब से जम्मू कश्मीर का पुनर्गठन हुआ है, तब से वहाँ चुनाव नहीं हो पाए हैं। मगर जब भी सरकार का गठन होगा तब सबसे अधिक शक्तियाँ राज्यपाल के पास होंगी। ये शक्तियाँ ऐसी ही हैं, जैसे दिल्ली के एलजी के पास होती है।

लालू यादव ने हाथ जोड़ अनिल अंबानी को किया प्रणाम, प्रियंका चतुर्वेदी ने एन्जॉय किया ‘यादगार क्षण’: अनंत अंबानी की शादी में I.N.D.I. नेताओं...

अखिलेश यादव अपनी बेटी और पत्नी डिंपल के साथ समारोह में मौजूद रहे। यहाँ तक कि कॉन्ग्रेस नेता सलमान ख़ुर्शीद भी अपने परिवार के साथ भोज खाने के लिए पहुँचे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -