Friday, July 30, 2021
Homeराजनीतिकुरान की कसम खाकर कॉन्ग्रेस नेताओं ने जताई पार्टी से वफादारी, वीडियो वायरल होने...

कुरान की कसम खाकर कॉन्ग्रेस नेताओं ने जताई पार्टी से वफादारी, वीडियो वायरल होने पर बताया फर्जी

इस वीडियो को लेकर जब कॉन्ग्रेस को सोशल मीडिया पर घेरा जाने लगा तो कॉन्ग्रेस की स्थानीय इकाई के अध्यक्ष विनय बाकलीवाल ने दावा किया कि वीडियो से छेड़-छाड़ की गई है।

कॉन्ग्रेस पार्टी के इंदौर अध्यक्ष विनय बाकलीवाल का एक वीडियो सोशल मीडिया पर इस दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि वह कथित तौर पर पार्टी के मुस्लिम कार्यकर्ताओं को कॉन्ग्रेस से वफ़ादारी के लिए मजहब की पवित्र किताब कुरान की शपथ दिला रहे थे। हालाँकि, इस वीडियो पर विवाद बढ़ने के बाद अब कॉन्ग्रेस नेता ने इसे ‘एडिट’ किया हुआ वीडियो बताया है।

बताया जा रहा है कि यह वीडियो 1 फरवरी को बनाया गया था। पार्टी के राज्य प्रवक्ता डॉ अमीन-उल खान सूरी ने सोमवार (फरवरी 08, 2021) को कहा, “इस तरह की शपथ लेना बहुत आम बात है। यह वीडियो एक सम्मेलन में उपस्थित पार्टी कार्यकर्ताओं का है, जहाँ सभी पाँच संभावित पार्षद उम्मीदवार मौजूद थे। बाकलीवाल ने उन्हें शपथ दिलाई कि जो भी उनके बीच टिकट प्राप्त करेगा, अन्य चार लोग उसकी पूरे दिल से मदद करेंगे और वे पार्टी को विजयी बनाने की दिशा में काम करेंगे।”

इस वायरल वीडियो में बाकलीवाल शहर के मुस्लिम बहुल चंदन नगर क्षेत्र में पार्षद के टिकट के पाँच दावेदारों को कथित तौर पर कुरान की कसम खिला रहे हैं और उन्हें इस बात के लिए पाबंद कर रहे हैं कि कॉन्ग्रेस द्वारा इनमें से जिस भी व्यक्ति को उम्मीदवार घोषित किया जाएगा, अन्य नेता मार्च-अप्रैल में संभावित चुनावों में उसके पक्ष में ईमानदारी से काम करेंगे।

हालाँकि, इस वीडियो को लेकर जब कॉन्ग्रेस को सोशल मीडिया पर घेरा जाने लगा तो कॉन्ग्रेस की स्थानीय इकाई के अध्यक्ष विनय बाकलीवाल ने दावा किया कि वीडियो से छेड़-छाड़ की गई है।

वायरल वीडियो पर बवाल मचने के बाद बाकलीवाल ने कहा, “मैंने पार्षद के टिकट के दावेदारों को कुरान की कसम नहीं खिलाई। कॉन्ग्रेस को बदनाम करने के लिए साजिश के तहत मेरे मूल वीडियो से छेड़छाड़ कर नया वीडियो तैयार किया गया है और इसे वायरल किया जा रहा है।”

रिपोर्ट के अनुसार, शहर कॉन्ग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि वह उनके वीडियो से छेड़छाड़ के मामले की जाँच के संबंध में पुलिस से शिकायत करेंगे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्वतंत्र है भारतीय मीडिया, सूत्रों से बनी खबरें मानहानि नहीं: शिल्पा शेट्टी की याचिका पर बॉम्बे हाईकोर्ट

कोर्ट ने कहा कि उनका निर्देश मीडिया रिपोर्ट्स को ढकोसला नहीं बताता। भारतीय मीडिया स्वतंत्र है और सूत्रों पर बनी खबरें मानहानि नहीं है।

रामायण की नेगेटिव कैरेक्टर से ममता बनर्जी की तुलना कंगना रनौत ने क्यों की? जावेद-शबाना-खान को भी लिया लपेटे में

“...बंगाल मॉडल एक उदाहरण है… इसमें कोई शक नहीं कि देश में खेला होबे।” - जावेद अख्तर और ममता बनर्जी की इसी मीटिंग के बाद कंगना रनौत ने...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,994FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe