Tuesday, July 23, 2024
Homeराजनीतिकॉन्ग्रेस का हाथ फिलिस्तीन के साथ, CWC में प्रस्ताव पास कर किया समर्थन: इजरायल...

कॉन्ग्रेस का हाथ फिलिस्तीन के साथ, CWC में प्रस्ताव पास कर किया समर्थन: इजरायल में हमास की बर्बरता पर एक दिन में ही मारी पलटी

कॉन्ग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक के दौरान पारित प्रस्ताव में फिलिस्तीन-इजरायल संघर्ष पर दुख व्यक्त किया गया और युद्धविराम की माँग की गई है।

फ़िलिस्तीनी आतंकवादी समूह हमास द्वारा इज़राइल के लोगों पर क्रूर हमलों की निंदा करने के एक दिन बाद ही कॉन्ग्रेस सोमवार (9 अक्टूबर, 2023) को खुलकर फ़िलिस्तीनियों के समर्थन में उतर आई। 

कॉन्ग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक के दौरान आज पारित एक प्रस्ताव में फिलिस्तीन-इजरायल संघर्ष पर दुख व्यक्त किया गया और युद्धविराम की माँग की गई। CWC के 7 विंदुओं वाले प्रस्ताव में आखिरी विन्दु में फ़िलिस्तीनी लोगों के अधिकारों का समर्थन किया गया है।

कॉन्ग्रेस द्वारा पारित प्रस्ताव के 7वें विन्दु में लिखा गया है, “अंत में CWC मिडिल ईस्ट में छिड़े युद्ध और हजार से अधिक लोगों के मारे जाने पर गहरा दुःख और पीड़ा व्यक्त करती है। CWC फिलिस्तीनी लोगों के जमीन, स्वशासन और आत्मसम्मान एवं गरिमा के साथ जीवन के अधिकारों के लिए अपने दीर्घकालिक समर्थन को दोहराती है। CWC तुरंत युद्धविराम और वर्तमान संघर्ष को जन्म देने वाले अपरिहार्य मुद्दों सहित सभी लंबित मुद्दों पर बातचीत शुरू करने का आह्वान करती है।”  

कॉन्ग्रेस की CWC द्वारा जारी प्रस्ताव

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, 7 अक्टूबर, 2023 से हमास और इजरायली रक्षा बलों के बीच लड़ाई में अब तक कुल मिलाकर लगभग 1,200 लोग मारे गए हैं। वहीं इस मामले में कॉन्ग्रेस पार्टी के एक आधिकारिक बयान में इज़राइल और फिलिस्तीन के बीच संघर्ष को सुलझाने के लिए “बातचीत और समझौता” की प्रक्रिया पर जोर दिया गया।

इससे पहले कॉन्ग्रेस सोशल मीडिया एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर रविवार को किए अपने पोस्ट में कहा, “भारतीय राष्ट्रीय कॉन्ग्रेस का हमेशा मानना ​​रहा है कि आत्म-सम्मान, समानता और सम्मान के जीवन के लिए फिलिस्तीनी लोगों की वैध आकांक्षाएँ केवल बातचीत और बातचीत की प्रक्रिया के माध्यम से पूरी होनी चाहिए, जबकि इजरायली लोगों के वैध राष्ट्रीय सुरक्षा हितों को सुनिश्चित करना चाहिए। किसी भी प्रकार की हिंसा कभी भी समाधान नहीं देती है और यह रुकना चाहिए।” 

गौरतलब है कि इजरायल लगातार अपना ऑपरेशन चला रहा है और आतंकियों का सफाया कर रहा है। इजरायली सुरक्षा बलों द्वारा एक्स (पहले ट्विटर) पर दी गई जानकारी के अनुसार, अब तक वह 653 ठिकानों पर हमला कर चुका है। इजरायल ने गाजा की बिजली और पानी की आपूर्ति भी बंद कर दी है।

बता दें कि इजराइल की सेना ने सोमवार को घोषणा की कि उसने हमास के लड़ाकों को खदेड़ने के लिए लड़ाई के तीसरे दिन गाजा पट्टी के पास दक्षिणी इलाकों पर नियंत्रण हासिल कर लिया है। 

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -