Thursday, July 18, 2024
Homeराजनीतिझारखंड CM हेमंत सोरेन गायब: सड़क से लेकर एयरपोर्ट तक अलर्ट, दिल्ली पुलिस और...

झारखंड CM हेमंत सोरेन गायब: सड़क से लेकर एयरपोर्ट तक अलर्ट, दिल्ली पुलिस और आसपास के राज्यों की पुलिस एक्शन मोड में

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन प्रवर्तन निदेशालय से बचने के लिए फरार हो गए हैं। उनका पता लगाने के लिए ED एयरपोर्ट से लेकर सड़क तक, सब जगह खोज अभियान चला रही है। आसपास की राज्यों की पुलिस भी अलर्ट मोड में।

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन प्रवर्तन निदेशालय से बचने के लिए फरार हो गए हैं। उनसे जमीन घोटाला मामले में ED, दिल्ली पुलिस के साथ कल (29 जनवरी, 2024) को पूछताछ करने पहुँची थी। यह पूछताछ उनके दिल्ली स्थित आवास पर होनी थी। पूछताछ टीम के पहुँचने पर वह यहाँ से नदारद मिले। उनका पता लगाने के लिए ED एयरपोर्ट से लेकर सड़क तक, सब जगह खोज अभियान चला रही है। दिल्ली की सीमाओं पर भी गाड़ियों की आवाजाही पर नजर रखी जा रही है।

आसपास की राज्यों की पुलिस को भी ED ने कहा है कि वह हेमंत सोरेन के विषय में जानकारी होने पर तुरंत बताएँ। हेमंत सोरेन कल दिल्ली स्थित आवास से राँची जाने वाले थे। राँची के लिए एक स्पेशल चार्टर्ड फ्लाइट भी बुक थी। यह फ्लाइट शाम 6 बजे रवाना होनी थी। ED ने जब इस बारे में जानकारी ली तो पता चला कि यह फ्लाइट भी रद्द कर दी गई है। हेमंत सोरेन के सभी फ़ोन नम्बर भी बंद आ रहे हैं। ED दिल्ली अलावा राँची में भी उनकी तलाश में लगी हुई है।

पूरे दिन ED ने ली तलाशी, हेमंत सोरेन का कोई सुराग नहीं

29 जनवरी को दिल्ली में हेमंत सोरेन के आवास पर पहुँची ED ने लगभग 13 घंटे तक जाँच की। यहाँ ED की टीम सुबह 9 बजे पहुँची थी और जाँच करने के बाद रात 11 बजे निकली। ED टीम अपने साथ हेमंत सोरेन की गाड़ी और उनके ड्राईवर को भी ले गई। यह गाड़ी BMW कम्पनी की है और हरियाणा में रजिस्टर्ड है।

बताया जा रहा है कि ED टीम के पहुँचने से कुछ ही देर पहले हेमंत सोरेन यहाँ से निकल गए थे। ED ने अब दिल्ली पुलिस से कहा है कि वह दिल्ली की सीमाओं पर नजर रखे और हाइवे पर लगी पुलिस को सचेत करके हेमंत सोरेन की जानकारी मिलने पर सूचित करें। ED ने प्रमुख एयरपोर्ट को भी अलर्ट भेजकर हेमंत सोरेन के विषय में जानकारी मिलने पर बताने को कहा है।

ED को मेल भेजा, कहा- 31 जनवरी को आना

हेमंत सोरेन ने दिल्ली से निकलने के बाद 29 जनवरी की शाम ED को एक इमेल भेजा है। उन्होंने कहा है कि ED उनसे पूछताछ के लिए 31 जनवरी को दोपहर 1 बजे उनके राँची स्थित आवास पर आ सकती है। उन्होंने इस इमेल में ED की जाँच को राजनीतिक तौर पर प्रेरित बताया है। उन्होंने यह भी कहा है ED को 20 जनवरी को हुई पूछताछ की वीडियो भी सम्भाल कर रखनी चाहिए। यह पूछताछ सात घंटे चली थी। ED का कहना था 20 जनवरी की जाँच को और आगे बढ़ाने के लिए हेमंत सोरेन से उन्हें फिर पूछताछ करनी है।

इसी को लेकर हेमंत सोरेन को समन भी भेजा गया था। इस मामले में अब तक हेमंत सोरेन को 10 समन भेजे जा चुके हैं। हेमंत सोरेन लगातार ED के समन का जवाब देने से बचते आए हैं। उनके परिवार के एक व्यक्ति ने मीडिया से कहा है कि सोरेन दिल्ली स्थित आवास पर नहीं मिले, इसका मतलब यह नहीं है कि वह फरार हैं। उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि ED उनके दिल्ली स्थित आवास पर पहुँच कर उनकी छवि धूमिल करना चाहती है। उनकी पार्टी के नेताओं ने कहा है कि वह व्यक्तिगत कार्य से दिल्ली गए थे।

यह जानकारी सामने आई है कि हेमंत सोरेन 27 जनवरी को राँची से दिल्ली आए थे। वह दिल्ली एक स्पेशल चार्टर्ड फ्लाइट से आए थे। यहाँ उन्हें इस मामले में कानूनी सलाह लेनी थी और साथ ही कुछ राजनीतिक मुलाक़ात भी करनी थी। ED ने उन्हें पूछताछ के लिए पहले ही समन भेज दिया था। वह उनसे दिल्ली में इसलिए पूछताछ करना चाहती थी क्योंकि 20 जनवरी को राँची में हुई पूछताछ के दौरान उनकी पार्टी झामुमो के कार्यकर्ताओं ने खूब हंगामा काटा था।

राँची में सुरक्षा इंतजाम बढ़ाए गए, विपक्ष ने किया हमला

हेमंत सोरेन से पूछताछ और उनकी गिरफ्तारी की कयासों के बीच राँची में सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है। राँची में मुख्यमंत्री आवास समेत भाजपा कार्यालय और अन्य महत्वपूर्ण जगहों पर सुरक्षा बढ़ाई गई है। झारखंड सरकार ने 29 जनवरी को एक आदेश जारी करके 14 अतिरिक्त पुलिस अधिकारियों की तैनाती राँची में कर दी है। इन अधिकारियों को अगले आदेश तक राँची में मौजूद रहने को कहा गया है। भाजपा नेताओं ने हेमंत सोरेन के गायब होने को लेकर हमला बोला है।

झारखंड के भाजपा नेता बाबूलाल मरांडी ने उन पर तंज कसा है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, “ED के डर के मारे झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पिछले अठारह घंटे से दिल्ली वाले मुख्यमंत्री आवास से फ़रार हो कर भूमिगत हो गए हैं। मीडिया सूत्रों के मुताबिक़ देर रात हेमंत जी हवाई चप्पल पहने हुए चादर से मुँह ढँककर चोर की तरह आवास से पैदल निकल कर भागे हैं। उनके साथ दिल्ली गया स्पेशल ब्रांच का सुरक्षाकर्मी अजय सिंह भी ग़ायब है। इन दोनों का मोबाइल भी बंद, तब से उन्हें ईडी और दिल्ली पुलिस ढूँढ रही है।”

वहीं भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने कहा है कि हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन को मुख्यमंत्री बनाए जाने का प्लान चला रहा है। उन्होंने लिखा, “हेमंत सोरेन जी ने अपने यानि झामुमो व कॉन्ग्रेस तथा सहयोगी विधायकों को राँची सामान तथा बैग के साथ बुलाया है।”

उन्होंने आगे लिखा, “सूचना के अनुसार कल्पना सोरेन जी को मुख्यमंत्री बनाने का प्रस्ताव है। मुख्यमंत्री ने सूचना दी है कि ED के पूछताछ के डर से वे सड़क मार्ग से राँची पहुँचकर अपने अवतरित होने की घोषणा करेंगे।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

काँवड़ यात्रा पर किसी भी हमले के लिए मोहम्मद जुबैर होगा जिम्मेदार: यशवीर महाराज ने ‘सेकुलर’-इस्लामी रुदालियों पर बोला हमला, ढाबों मालिकों की सूची...

स्वामी यशवीर महाराज ने 18 जुलाई 2024 को एक वीडियो बयान जारी कर इस्लामिक कट्टरपंथियों और तथाकथित 'सेकुलरों' को आड़े हाथों लिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -