Saturday, September 18, 2021
Homeराजनीति'ओवैसी भी पढ़ेगा हनुमान चालीसा, वोट बैंक की राजनीति की कब्र खुदकर रहेगी'

‘ओवैसी भी पढ़ेगा हनुमान चालीसा, वोट बैंक की राजनीति की कब्र खुदकर रहेगी’

केजरीवाल ने एक न्यूज चैनल के कार्यक्रम में खुद को हनुमान भक्त बताते हुए हनुमान चालीसा पढ़ा था। हालॉंकि हिंदुओं को लुभाने का यह दॉंव उन्हें भारी पड़ गया। मुस्लिम इससे बिफर पड़े।

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए 8 फरवरी को मतदान होने वाले हैं, सभी प्रमुख राजनीतिक दलों ने अपने प्रचार अभियान को तेज कर दिया है। इस बीच बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर एक बार फिर से दिल्ली के सीएम और AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल को निशाने पर लिया है। मिश्रा ने केजरीवाल के हनुमान चालीसा पढ़ने पर तंज कसा है। उनके साथ ही बीजेपी नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और संसद रवि किशन ने भी इसके लिए केजरीवाल पर निशाना साधा है।

मॉडल टाउन से बीजेपी उम्मीदवार कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर कहा, “केजरीवाल हनुमान चालीसा पढ़ने लगे हैं। अभी तो ओवैसी भी हनुमान चालीसा पढ़ेगा। ये हमारी एकता की ताकत है। ऐसे ही एक रहना है। इकट्ठा रहना है। एक होकर वोट करना है। हम सबकी एकता से “20% वाली वोट बैंक” की गंदी राजनीति की कब्र खुदकर रहेगी।”

शिवराज सिंह ने ट्वीट किया, “हनुमान जी से आज के ‘लंकेश्वर’ भी भयभीत होते हैं। बोलो महाबली श्री हनुमान की जय!”

वहीं रवि किशन ने कहा, “केजरीवाल को अचानक शाहीन बाग में बिरयानी खिलाने के बाद अब उनको याद आ गया कि मैं हिन्दू हूँ। हनुमान जी को अब ये बुड़बक नहीं बना सकते, हनुमान चालीसा पढ़ें या पेड़ पर उल्टा लटक जाएँ ये चुनाव वो हार रहे हैं।”

बता दें कि सीएम केजरीवाल ने सोमवार (फरवरी 3, 2020) को समाचार चैनल न्यूज 18 हिंदी द्वारा ‘एजेंडा दिल्ली’ के एक कार्यक्रम में खुद को हनुमान भक्त बताते हुए हनुमान चालीसा पढ़ा था। उन्होंने कहा था कि वह बचपन से बजरंग बली के सबसे बड़े भक्त हैं। दिल्ली के सीएम ने कहा कि वह अक्सर अपने पड़ोस और कनॉट प्लेस स्थित हनुमान मंदिर में पूजा के लिए जाते हैं। जैसे ही केजरीवाल से हनुमान चालीसा पढ़ने के लिए कहा गया तो वो पानी पीने लगे। हालाँकि उन्होंने बाद में एक चौपाई सुनाई।

इस पर चुटकी लेते हुए न्यूज चैनल ABP के पत्रकार विकास भदौरिया ने ट्वीट किया। उन्होंने वीडियो शेयर करते हुए लिखा, “जब कोई हनुमान चालीसा पढ़ने में पानी माँगे और हिन्दू होने का प्रमाण देने लगे तो समझ लीजिए “हिन्दू” एक हो गया है। याद है न गुजरात में कौन अपने आप को जनेऊधारी ब्राह्मण बता रहा था ? अब समझ लीजिए दिल्ली का चुनाव किस करवट बैठ रहा है।”

हालाँकि, हिंदू वोटों को अपनी ओर खींचने के प्रयासों में केजरीवाल ने सोशल मीडिया पर इस्लामवादियों को नाराज कर दिया। एक यूजर ने केजरीवाल पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया और लिखा कि क्या हिंदुओं को ही अपनी धर्म के बातें करने की आज़ादी है? वहीं जब दूसरे धर्मों के लोग प्रदर्शित करते हैं तो उनको गलत ठहरा दिया जाता है।

बता दें कि इससे पहले कपिल मिश्रा ने पाकिस्तान का जिक्र करते हुए कहा था कि आम आदमी पार्टी को अपना नाम बदल कर मुस्लिम लीग रख लेना चाहिए, क्योंकि उमर खालिद, अफजल गुरु, बुरहान वानी आतंकवादियों को अपना बाप मानने वालों को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से डर लग रहा है।

पिछली बार #तियापे में फँस कर केजरीवाल को वोट दे दिया: दिल्ली चुनाव पर ग़रीबों ने बताया अपना मूड

हिन्दुओं का विश्वास जीतने का दाँव पड़ा उलटा: केजरीवाल ने पढ़ी हनुमान चालीसा तो बिफरे मुस्लिम

शाहीन बाग़ पर पूछे सवाल तो अमानतुल्लाह ने अँधेरे में CM केजरीवाल को पीटा: अटकलों का बाजार गर्म

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘फर्जी प्रेम विवाह, 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का यौन शोषण व उत्पीड़न’: केरल के चर्च ने कहा – ‘योजना बना कर हो रहा...

केरल के थमारसेरी सूबा के कैटेसिस विभाग ने आरोप लगाया है कि 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का फर्जी प्रेम विवाह के नाम पर यौन शोषण किया गया।

डॉ जुमाना ने किया 9 बच्चियों का खतना, सभी 7 साल की: चीखती-रोती बच्चियों का हाथ पकड़ लेते थे डॉ फखरुद्दीन व बीवी फरीदा

अमेरिका में मुस्लिम डॉक्टर ने 9 नाबालिग बच्चियों का खतना किया। सभी की उम्र 7 साल थी। 30 से अधिक देशों में है गैरकानूनी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,951FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe