अलगाववादियों और आतंकियों ने 370 को ढाल बनाकर J&K को ‘आतंक का नर्क़’ बना दिया था: नक़वी

''अलगाववादियों और आतंकवादियों ने अनुच्छेद-370 का एक ढाल के रूप में इस्तेमाल कर धरती का स्वर्ग कहे जाने वाले कश्मीर को आतंक के नर्क में बदल दिया था। प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने एक भारत, श्रेष्ठ भारत" के सपने को साकार कर दिखाया है।"

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नक़वी ने शनिवार (2 अक्टूबर) को अनुच्छेद-370 को लेकर अलगाववादियों और आतंकवादियों पर हमला बोला। मुंबई में उन्होंने कहा कि अनुच्छेद-370 को ढाल बनाकर अलगाववादियों और आतंकवादियों ने पृथ्वी के स्वर्ग कश्मीर को ‘आतंक का नर्क़’ बना दिया था। अनुच्छेद- 370 हटने के बाद अब कश्मीर का विकास होगा। मोदी सरकार की सराहना करते हुए अल्पसंख्यक कार्य मंत्री ने कहा कि इस क़दम ने आतंकवाद की कमर तोड़ दी है।

बलाकोट हवाई हमले पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि सरकार ने देश के दुश्मन को उसी के घर में घुसकर मारा, जो राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए एक मिसाल है। अंधेरी मुंबई में शिवसेना उम्मीदवार के प्रचार के लिए बुद्धिजीवियों, उद्यमियों, डॉक्टरों, व्यापारियों और अन्य लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की तारीफ़ की। प्रचार के दौरान उन्होंने कहा कि कुछ ‘सत्ता के ठेकेदार’ ने अनुच्छेद 370 को ‘संवैधानिक अनिवार्यता’ के रूप में चित्रित किया था, हालाँकि यह एक ‘अस्थाई व्यवस्था’ थी। साथ में उन्होंने महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव को लेकर कहा कि भाजपा और शिवसेना गठबंधन की 21 अक्तूबर को पूर्ण बहुमत से सरकार बनेगी।

नक़वी के हवाले से एक बयान में कहा गया है, ”अलगाववादियों और आतंकवादियों ने अनुच्छेद-370 का एक ढाल के रूप में इस्तेमाल करके ”धरती का स्वर्ग कहे जाने वाले कश्मीर को ”आतंक के नर्क” में बदल दिया था। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने “एक भारत, श्रेष्ठ भारत” के सपने को साकार कर दिखाया है। जम्मू-कश्मीर से 370 को हटाकर मोदी सरकार ने जम्मू, कश्मीर, लद्दाख को 370 समस्याओं से मुक्ति दिलाई है।

प्रधानमंत्री श्री @narendramodi जी एवं गृह मंत्री और @BJP4India के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री @AmitShah जी ने “एक भारत, श्रेष्ठ भारत” के सपने को साकार कर दिखाया है। जम्मू-कश्मीर से 370 को हटाकर मोदी सरकार ने जम्मू, कश्मीर, लद्दाख को 370 समस्याओं से मुक्ति दिलाई है। pic.twitter.com/o4VoH4UGaj— Mukhtar Abbas Naqvi (@naqvimukhtar) October 12, 2019

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मोदी सरकार के लिए “बिना भेदभाव के विकास”, “राष्ट्रनीति” और समाज के हर ज़रूरतमंद का सशक्तिकरण ”राष्ट्रधर्म” है।

PM श्री @narendramodi जी की सरकार के लिए “बिना भेदभाव के विकास”, “राष्ट्रनीति” और समाज के हर जरूरतमंद का सशक्तिकरण “राष्ट्रधर्म” है। श्री @narendramodi जी, सरदार पटेल के मजबूत राष्ट्रवादी इक्छाशक्ति और महात्मा गाँधी के सबका विकास के संकल्प के साथ काम कर रहे हैं। @BJP4India pic.twitter.com/C9Rh5Zat7Q— Mukhtar Abbas Naqvi (@naqvimukhtar) October 12, 2019

ग़ौरतलब है कि इससे पहले केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नक़वी ने देश में अवैध घुसपैठियों पर महत्वपूर्ण बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि देश में अवैध घुसपैठियों की पहचान प्रक्रिया में किसी भी तरह का भेदभाव नहीं होगा। लोगों को अपनी नागरिकता प्रमाणित करने का अवसर मिलेगा। देश के नागरिकों के अधिकारों की रक्षा हर हाल में होनी चाहिए और अवैध घुसपैठियों की पहचान की जानी चाहिए। कोई भी देश अवैध घुसपैठियों के जनसंख्या विस्फोट को नज़रअंदाज़ नहीं कर सकता।

2013 से सुप्रीम कोर्ट के आदेश और निगरानी में यह प्रक्रिया चल रही है। उन्होंने कहा था कि एनआरसी की पूरी प्रक्रिया तय पैमानों के आधार पर हो रही है।

प्रधानमंत्री श्री @narendramodi जी के नेतृत्व में भारत “विश्व गुरु” बनने की राह पर तेजी से आगे बढ़ रहा है। संयुक्त राष्ट्र संघ में अपने भाषण से मोदी जी ने एहसास कराया कि भारत दुनिया का सबसे मजबूत और बड़ा लोकतंत्र है। @BJP4India pic.twitter.com/8uNJIA8j1F— Mukhtar Abbas Naqvi (@naqvimukhtar) October 12, 2019

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

सोनिया गाँधी
शिवसेना हिन्दुत्व के एजेंडे से पीछे हटने को तैयार है फिर भी सोनिया दुविधा में हैं। शिवसेना को समर्थन पर कॉन्ग्रेस के भीतर भी मतभेद है। ऐसे में एनसीपी सुप्रीमो के साथ उनकी आज की बैठक निर्णायक साबित हो सकती है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,489फैंसलाइक करें
23,092फॉलोवर्सफॉलो करें
121,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: